कोविड 19 से बचे रहने के लिए आहार में शामिल करें इम्यूनिटी बूस्टिंग डाइट

इंडिया कोरोना महामारी की दूसरी लहर से गुजर रहा है, लगभग सभी शहरों में ज्यादा से ज्यादा इसके केस निकलकर सामने आ रहे हैं। इसलिए यह एक ऐसा समय है जिसमें हमें सावधानी बरतने और स्वस्थ रहने की आवश्यकता है।

Immunity Boosting Diet For Covid 19
Immunity Boosting Diet For Covid 19 

मुख्य बातें

  • कोविड 19 से बचने के लिए आप इन इम्यूनिटी बुस्टिंग डाइट को लें सकते हैं
  • हल्दी और दूध प्रकृति रुप से ओजस हैं, एसिडिटी से बचने के लिए क्षारीय तरल पदार्थ का सेवन करें।

Immunity Boosting Diet For Covid 19: भारत में कोरोना महामारी के चलते सभी लोग परेशान है। यहां तक कि ज्यादातर लोग तो इससे बचे रहने के लिए कई घरेलु उपाय भी अपनाते हैं। लेकिन यदि आप उपाय करने के बाद भी संक्रमित हो जाते हैं, तो चिंता न करें। आपका शरीर आसानी से वायरस से लड़ सकता है। यदि आप एक्सरसाइज करते हैं और आपकी डाइट में सही प्रकार का भोजन शामिल है तो आप वायरल से आसानी से लड़ सकते हैं। इस महामारी के चलते आपको ऐसे भोजन की जरुरत है, जो आपकी कमजोरी को दूर करें और आपकी इम्यूनिटी बढ़ाए। यहां आज हम आपको इम्यूनिटी बुस्टिंग डाइट के बारे में बताएंगे जो आपको कोरोना से बचाने में आपकी मदद कर सकती हैं।

मॉर्निंग ड्रिंक
इसके लिए सबसे पहले आप एक गिलास में नींबू पानी बनाएं और उसमें थोड़ी हल्दी, चिया के दाने और एक चुटकी दाल चीनी मिक्स कर लें। गर्म नींबू पानी में ये सब मिक्स करके पिएं और ताजगी महसूस करें। हल्दी और दालचीनी प्रकृतिक रुप से एंटी वायरल होते हैं और नींबू का रस हमारी इम्यूनिटी को बूस्ट करता है। इसलिए यदि आप इस ड्रिंक को सुबह उठकर पीते हैं तो ये आपकी बॉडी को वायरस से बचा कर रखेगा।

आप एक बड़ा चम्मच शहद और कुछ अदरक के रस की बूंदे का सेवन दिन में किसी भी समय कर सकते हैं। इन दोनों में एंटी वायरल के गुण पाएं जाते हैं। अदरक में अदरक का तेल और शोजल मौजूद होता है। दोनों ही एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं। इसलिए आपको दिन में एक बार एक बड़ा चम्मच शहद और कुछ अदरक के रस की बूंदो का सेवन करना चाहिए।

सुबह का नाश्ता
नाश्ता हमारी बॉडी के लिए बहुत ही जरुरी है इसलिए व्यक्ति को उचित नाश्ता करना चाहिए। आपके लिए नाश्तें में लेने के लिए कई सारे ऑप्शन हैं जैसे कि पोहा, उपमा, इडली, डोसा आदि। आप मॉर्निंग में चपाती के साथ एक चम्मच घी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। जो भी व्यंजन आप खाते है उसमें एक चम्मच घी जरुर डालकर खाएं। घी आपके स्वस्थय के लिए बहुत लाभदायक है।

यदि आप घी का सेवन करना शुरु करते हैं तो आप ध्यान दें कि इसका सेवन करने से आपको गैस और एसिडिटी की समस्या नहीं होगी। घी का सेवन करने से भोजन भी बहुत आसानी से पच जाएगा। इस सक्रमंण के कारण पाचन तंत्र बहुत खराब हो जाता है। लोगों को बेचैनी और उल्टी महसूस होती है। यदि आप अगर इस मिश्रण का सेवन घी मिलाकर करते हैं तो आप बहुत आराम महसूस करेंगे और आपका पाचन तंत्र भी मजबूत होगा। 

नाश्ते में एक तरल पदार्थ जरुर लें जैसे कि आप हर्बल टी भी लें सकते हैं। इसके लिए आप अदरक के साथ पानी उबालें। आप इसमें अदरक, लेमनग्रास, पुदीना के पत्ते और तुलसी के पत्ते डालकर इसे उबाल  लें। आप इसमें दूध और गुड़ भी डाल सकते हैं। यह स्वस्थय के लिए बहुत ही अच्छा तरल पदार्थ है।

दोपहर में क्या खाएं
लंच में आप आसानी से पचने वाला शाकाहारी भोजन लें जैसे कि दाल चावल, चपाती-सब्जी आदि। सब्जी में आप हरे पत्ते वाली सब्जी भी खा सकते हैं। इसके लिए पालक की सब्जी एक बेतरीन ऑप्शन है। पालक में नाइट्रेट होता है, जो नाइट्रिक ऑक्साइड का उत्पादन करता है। इस नाइट्रिक ऑक्साइड में विरोधी भड़काउ गुण पाए जाते हैं और यह बॉडी में वायरस को फैलने से रेकता है। इसके साथ आप एक गिलास छाछ का भी सेवन करें। यहां तक कि अनार का रस, चुकंदर का रस और अनानास के रस में भी नाइट्रेट पाया जाता है इसलिए दिन में एक बार जूस के रुप में इनका सेवन करें।

शाम का नाश्ता
शाम के नाश्ते में आप खजूर, नट्स, बीज का सेवन कर सकते हैं। इस समय आप कुछ ऐसा खाएं जिसे आप चबा सकते हैं और जिसे खाकर आप हल्का महसूस करें। इसलिए आप चावल, पॉप कॉर्न भी खा सकते हैं। आप सूखा बेल, एक मुट्ठी चने, नमकीन पानी के साथ उबली हुई मूंगफली भी खा सकते हैं। 

रात का खाना
रात के खाने में आपको कुछ हल्का खाना चाहिए जैसे कि कढ़ी, खिचड़ी या सूप के रुप में पतली सी दाल या कोई अन्य सूप, मिक्स वेजिटेबल सूप, स्वीट कॉर्न सूप आप खखरा, चपाती या थोड़ी भकरी और नरम चपाती के साथ लें सकते हैं। बिस्तर पर जाने से पहले थोड़ा सा हल्दी डालकर गर्म दूध लें। आयुर्वेद में हल्दी और दूध प्रकृति से ओजस हैं। इनका सेवन करने से आपको अच्छी मात्रा में उर्जा प्राप्त होती है। इसे पीकर आप आराम महसूस करेंगे। वास्तव में हल्दी के साथ दूध पीना बेहतर नींद के लिए मददगार होता है।

यदि आप एक अच्छी नींद लेते हैं तो आपकी बॉडी के सारे हार्मोन आपकी मदद करने के लिए उस स्तर तक आने में मदद करते हैं जहां इम्यूनिटी हाई हो जाती है और संक्रमण बहुत आसानी से नियंत्रित करते हैं। नींबू का रस, चुकंदर, शहद, खजूर जैसे खाद्य पदार्थ प्राकृतिक रुप से क्षारीय होते हैं इसलिए इनका सेवन जरुर करें। इनका सेवन करने से आपको एसिडिटी की समस्या नहीं होगी।

क्या आपका भोजन एसिडिटी बनाता है? आपको पता होना चाहिए कि मिर्च, गरम मसाला तला हुआ और खाद्य पैकेट वाला भोजन ये सभी ऐसे भोजन हैं जो एसिडिटी बनाते हैं। इसलिए इनका बिल्कुल उपयोग न करें और इनसे सावधान रहें। आपके शरीर में ज्यादा क्षारीय तरल पदार्थ होने चाहिए और इसलिए हर 2 घंटे में क्षारीय चीज का सेवन करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर