इन बीमारियों में खतरनाक हो सकता है बैंगन का सेवन, जानिए कब नहीं खाना चाहिए

brinjal can be dangerous in these diseases: कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं में बैंगन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए नहीं । अन्यथा यह आपके लिए एक बड़ी मुसीबत खड़ा कर सकती है।

Avoid brinjal in these diseases
इन बीमारियों में नहीं करें बैंगन का सेवन।  |  तस्वीर साभार: Times Now

मुख्य बातें

  • पथरी की समस्या में बिल्कुल नहीं खाएं बैंगन
  • पथरी की समस्या में बैंगन से करें परहेज
  • बैंगन का उचित से ज्यादा सेवन हानिकारक है

नई दिल्ली: बैंगन एक सदाबहार सब्जी है जो बाजार में हर मौसम में उपलब्ध होता है और जिससे लोग अलग अलग तरह के डिश बनाकर बड़े चाव से खाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं बैंगन की सब्जी और बैंगन से बना डिश कुछ लोगों के स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक हो सकता है। जी हां बैंगन में एक प्रकार का नैनूसिन पाया जाता है जो कुछ लोगो के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। तो आइए जानते हैं किसे और किन अवस्थाओं में बैंगन नहीं खाना चाहिए।

खून की कमी में ना करें बैंगन का इस्तेमाल

जिन लोगों को खून की कमी हो या जो लोग समय-समय पर रक्तदान करते हों उन्हें भूल कर भी बैंगन का सेवन नहीं करना चाहिए। यह उनके लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है जो खून को नहीं बनने देता और कई तरह की समस्याओं को उत्पन्न करता है।

इन बीमारियों में भूलकर भी ना करें बैंगन का सेवन

स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो बैंगन एक फायदेमंद सब्जी है और बैंगन को कई प्रकार से खाने में प्रयोग किया जाता है। जैसे आलू-बैंगन की सब्जी, बैंगन का भरता और बैंगन का पकौड़ा ना जाने कितने तरीके से हम बैंगन का प्रयोग करते हैं।  बैंगन जितना खाने में टेस्टी  होता है कुछ लोगों के लिए वह उतना ही नुकसानदायक भी होता है।

पथरी की समस्या में ना खाएं बैंगन

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में पथरी की समस्या आमतौर पर सुनने को मिल जाती है। किडनी स्टोन यानि गुर्दे की पथरी का दर्द असहनीय होता है। गुर्दे की पथरी का सबसे बड़ा कारण हमारा गलत खानपान और कम पानी पीने की आदत है। पथरी की समस्या होने पर आप अपने खानपान में बैंगन का इस्तेमाल भूलकर भी ना करें। बैंगन में ऑक्सलेट काफी मात्रा में पाया जाता है जो पथरी की समस्या में बेहद खतरनाक होता है और यदि आप स्वस्थ्य हैं तो भी बैंगन खाते समय उसके बीज को निकाल दें।

बवासीर नकसीर वालों के लिए जहर 

जी हां खूनी बवासीर और नकसीर जैसी समस्याओं से ग्रस्त लोगों के लिए बैंगन जहर से कम नहीं होता है और अधिक मात्रा में बैंगन का सेवन करने वालों को बवासीर और नकसीर जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इससे आपकी बवासीर की समस्या में खून का बहना अधिक मात्रा में शुरु हो जाता हैं जो आपके लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए बवसीर और नकसीर जैसी समस्याओं में बैंगन का भूलकर भी अपने खानपान में इस्तेमाल ना करें।

एलर्जी होने पर

शरीर में ज्यादा गर्मी महसूस होती हो या किसी भी तरह की एलर्जी हो, ऐसे में आपको बैंगन का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। ऐसी स्थिति में आप यदि बैंगन खाते हैं तो यह आपके लिए  बेहद खतरनाक हो सकता है। जो आपकी एलर्जी में बहुत तेजी से वृद्धि करता है। इसके साथ ही गैस या कब्ज जैसी समस्या में भी बैंगन का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

डिप्रेशन

अगर आप लगातार डिप्रेशन की दवा ले रहें हैं तो बैंगन से  बिल्कुल दूरी बनाकर रखें। इस समय यदि आप बैंगन या इससे बनी किसी भी तरह की डिश का अपने खानपान में इस्तेमाल करते हैं तो आपके शरीर में दवाई का असर कम होने लगेगा।

फैट की समस्या 

फैट की समस्या में बैंगन बेशक वजन कम कर सकता है। लेकिन तला हुआ बैंगन या बैंगन का पकौड़ा ऐसी अन्य तरह की डिश आपके वजन को तेजी से बढ़ाता है इसलिए बैंगन का इस्तेमाल मोटापे में ना करें।

जानें बैंगन के लाभ

बैंगन उत्तम और श्रेष्ठ सब्जी होती है। जिसे खाने से कोलेस्ट्रोल का स्तर नहीं बढ़ पाता है और ऐसे इसके कई लाभदायक फायदे होते हैं। इसके साथ ही आयुर्वेद के अनुसार यह औषधि का काम भी करता है । चोट लगने पर या जोड़ो में दर्द होने पर बैंगन को हल्दी के साथ गर्म करके सिकाई कर सकते हैं, जिससे दर्द से राहत मिलता है और चोट जल्द सही होता है। इसके साथ ही हमें इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए की बीमारी के समय बैंगन का अपने खान में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर