Faridabad Crime News: धारा हटाने के लिए रिश्वत लेते चौकी प्रभारी गिरफ्तार, विजिलेंस ने ऐसे लगाया ट्रैप

Faridabad Police: झगड़े के एक मामले में लूट की धाराएं जोड़ने की धमकी देकर रिश्‍वत मांगने के आरोप में सेक्टर-16 चौकी प्रभारी को गिरफ्तार किया गया है। यह कार्रवाई विजिलेंस ने की। टीम ने ट्रैप लगाकर 10 हजार रुपये रिश्‍वत लेते चौकी प्रभारी व एक अन्‍य युवक को गिरफ्तार किया है।

Faridabad police
रिश्‍वत लेते सेक्टर-16 चौकी प्रभारी को विजिलेंस ने दबोचा  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • झगड़े के मामले में दी थी लूट की धारा जोड़ जेल में डालने की धमकी
  • धाराएं हटाने के लिए चौकी प्रभारी मांग रहे थे दो लाख रुपये रिश्‍वत
  • विजिलेंस टीम ने ट्रैप लगाकर 30 हजार रिश्‍वत लेते चौकी में ही दबोचा

Faridabad Police: फरीदाबाद के थानों में फैले भ्रष्‍टाचार पर विजिलेंस ने बड़ी कार्रवाई की है। विजिलेंस टीम ने सेक्टर-16 चौकी प्रभारी एसआई कृष्ण कुमार को एक मुकदमें में धाराएं न लगाने के एवज में 10 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ दबोचा है। आरोपित ने मारपीट के एक मामले में एक व्‍यक्ति पर लूट की धाराएं लगाने की धमकी दी थी और इससे राहत के लिए 10 हजार रुपये रिश्‍वत मांगे थे।

इस मामले में आरोपी एसआई के साथ रिश्वत की राशि दिलाने के लिए साथ आए उदित नाम के एक युवक को भी विजिलेंस ने गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। विजिलेंस को यह शिकायत सेक्टर-16 निवासी दुष्यंत शर्मा ने की थी। जिसके बाद विजिलेंस टीम ने ट्रैप लगाकर दोनों आरोपियों को दबोचा।

चौकी प्रभारी ने मांग रखे थे दो लाख रुपये रिश्‍वत

विजिलेंस को दी शिकायत में दुष्यंत शर्मा ने बताया कि बीते 12 जून को उनका व उनके दोस्‍तों का कुछ युवकों के साथ सेक्टर-16 में झगड़ा हो गया था। इस झगड़े के करीब एक महीने बाद उनके पास सेक्टर-16 चौकी से फोन आया और बताया गया कि तुम्‍हारे खिलाफ झगड़े व लूट की शिकायत आई है। दुष्यंत ने बताया कि चौकी में बुलाकर उन्हें डराया गया कि इस मामले में लूट की धाराएं भी लगेंगी और तुम कई साल तक जेल में रहोगे। इस झगड़े में आरोपी रहे दुष्यंत के दोस्तों समीर शर्मा और आशुतोष चपराना ने बताया कि यह धारा न लगाने की एवज में चौकी प्रभारी दो लाख रुपये की मांग कर रहा है। शिकायतकर्ता ने बताया कि इसके बाद वह अपने दोस्तों के माध्यम से चौकी इंचार्ज 65 हजार रुपये दे चुका था। इसके बाद भी रुपयों की मांग की जा रही थी। जिसके बाद दुष्यंत ने इसकी शिकायत विजिलेंस के डीजीपी शत्रुजीत कपूर को की। जिसके बाद डीएसपी कैलाश के नेतृत्‍व में टीम गठित कर विजिलेंस ने ट्रैप लगाया। इसके बाद इस मामले में मध्‍यस्‍ता कर रहे उदित वधवा नाम के युवक को लेकर दुष्‍यंत चौकी प्रभारी के पास पहुंचा और उसे 10 हजार रुपये दे दिए। पैसे लेते ही विजिलेंस की टीम ने चौकी प्रभारी और युवक को पैसे के साथ दबोच लिया।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर