Faridabad Crime: नशा तस्‍करों पर अब टूटेगा पुलिस का कहर, फरीदाबाद पुलिस जब्‍त करेगी पूरी संपत्ति, यह है प्‍लान

Faridabad Crime: फरीदाबाद पुलिस अब नशा तस्‍करों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करने जा रही है। पुलिस आयुक्त की तरफ से जिले के सभी थाना प्रभारी और चौकी प्रभारियों को निर्देश दिए जा चुके हैं। पुलिस उन सभी नशा तस्‍करों की संपत्ति जब्‍त करेगी, जिन्‍हें अदालत ने या तो भगोड़ा घोषित कर रखा है या फिर जिन्‍हें 10 साल या इससे ज्‍यादा की सजा हुई है।

Faridabad police
नशा तस्‍करों के खिलाफ फरीदाबाद पुलिस की कार्रवाई   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • फरीदाबाद पुलिस नशा तस्‍करों की जब्‍त करेगी संपत्ति
  • सभी थानों की पुलिस नशा तस्‍करों की लिस्‍ट बनाने में जुटी
  • भगोड़े व 10 साल सजा प्राप्‍त करने वालों पर होगी कार्रवाई

Faridabad Crime: नशीले पदार्थों की तस्‍करी कर अर्जित किया गया धन अब बर्बादी का कारण बन सकता है। फरीदाबाद पुलिस नशा तस्करों की सभी संपत्ति जब्त करने जा रही है। इस संबंध में गृह मंत्री अनिल विज ने फरीदाबाद पुलिस आयुक्त से बातचीत कर सख्‍त कार्रवाई का निर्देश दिया है। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने सभी नशा तस्‍करों की लिस्‍ट बनानी भी शुरू कर दी है।

इस बाबत पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने जिले के सभी थाना प्रभारी और चौकी प्रभारियों को निर्देश जारी कर दिए है। अब पुलिस इस अवैध धंधे में लिप्त उन सभी लोगों की लिस्‍ट तैयार कर रही है, जिन्‍होंने नशीले पदार्थ बेचकर अवैध रूप से संपत्ति अर्जित की है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, जिले में कई ऐसे नशा तस्‍कर हैं, जिन्‍होंने लोगों की जिंदगी बर्बाद कर करोड़ों की संपत्ति बनाई है।

पिछले वर्ष अवैध नशा तस्करी के 240 मुकदमे दर्ज

फरीदाबाद के अंदर नशा तस्‍कर लगातार अपने पैर पसार रहे हैं। पुलिस कार्रवाई के बाद भी इसमें कमी नहीं आ रही है। इन नशा तस्‍करों के रडार पर कॉलेज जाने वाले या बेरोजगार युवा होते हैं। फरीदाबाद पुलिस ने पिछले साल अवैध नशा तस्करी के 240 मुकदमे दर्ज किए। वहीं 265 नशा तस्‍करों को गिरफ्तार कर जेल भी भेजा गया। इनमें सबसे ज्‍यादा गिरफ्तारी गांजे को लेकर हुई। गांजा तस्‍करी के 199 मुकदमें दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा इंजेक्शन एवं नशीली टेबलेट तस्करी, अफीम और स्मैक के भी कई मामले दर्ज हुए हैं।

इन नशा तस्‍करों पर होगी कार्रवाई

फरीदाबाद के डीसीपी हेडक्वार्टर नितिश अग्रवाल ने पुलिस कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि, सभी थानों में उन नशा तस्‍करों का रिकाॅर्ड बनाया जा रहा है, जिन्‍हें या तो अदालत द्वारा नशा तस्करी में भगोड़ा घोषित किया गया है या फिर एनडीपीएस एक्‍ट के तहत दोषी पाए जाने पर दस साल या उससे अधिक की सजा सुनाई गई है। इन आरोपितों की सूची तैयार हो जाने के बाद जल्द ही कानूनी प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इनके द्वारा नशा तस्‍करी से अर्जित की गई सभी संपत्ति को जब्त किया जाएगा।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर