जब इरफान खान ने 'कम्मो ताई' को दी आवाज, बयां किया बच्चों से बिछड़ने का दर्द

Anuradha Gakhar Poem Kammo Tai recited by Irrfan Khan: दिवंगत अभिनेता इरफान खान की आवाज में एक कविता 'कम्मो ताई' सामने आई है, जिसे उनके फैंस पसंद कर रहे हैं। 'कम्मो ताई' को कवयित्री अनुराधा गाखर ने लिखा है।

Irrfan Khan
इरफान खान  |  तस्वीर साभार: Instagram

बॉलीवुड एक्टर इरफान खान को गुजरे हुए 8 महीने से अधिक हो गए हैं। दो साल तक कैंसर से जूझने के बाद इरफान ने अप्रैल, 2020 में अंतिम सांस ली थी। एक्टर के फैंस और उनसे जुड़े लोग अब तक गम से नहीं उबर पाए हैं। कुछ दिन पहले इरफान का जन्मदिन था और इस मौके पर उन्हें खूब याद किया गया। इरफान को चाहने वाले अक्सर उनसे संबंधित तस्वीरें और वीडियो शेयर करते रहते हैं। लेकिन हाल ही में एक ऐसी क्लिप सामने आई है, जिसमें इरफान को कविता पढ़ते हुए सुना जा सकता है। इरफान ने जिस कविता को अपनी आवाज दी है, उसका नाम 'कम्मो ताई' है। 'कम्मो ताई' को कवयित्री अनुराधा गाखर ने लिखा है। अनुराधा ने ही इरफान की आवाज में इस कविता को अपने यूट्यूब चैनल पर भी शेयर किया है। इस कविता में बच्चों से बिछड़ने का दर्द बयां किया गया है। बता दें कि इरफान कविताओं, नज्मों और गजलों को लेकर काफी रुचि रखते थे।

पढ़ें  अनुराधा की 'कम्मो ताई' कविता 

सूरज फिर उगा, पंछी फिर चहचहाए
फिर उठ खड़ा हुआ एक और दिन
रात तो सोती रहती है
सपने भी साथ देते हैं
मगर दिन कितना अकेला है
न चांद, ना तारे
वैसे कुछ लोग अकेले ही रहते हैं
सड़क, बुढ़ाया हुआ पीपल और कम्मो ताई
न सड़क के बच्चे हुए, न पीपल के
और कम्मो ताई के छोड़ गए
कुछ लोग अकेले ही रहते हैं
यह बच्चे भी बड़े अजीब होते हैं
उम्र के साथ खोखले होते जाते हैं
मानो दिल में दीमक लग गया हो
वरना मां के घर का रास्ता भला कोई भूल सकता है क्या
अब याद की बात भी निराली है
मां की यादें, सफेद बुढ़ापे में भी हरी हैं
कल ही की तो बात है
कम्मो ताई ने गज्जू की दुल्हन को अपने आखिर कंगन दिए थे
कंगन जाने का किसे दुख है
मगर गज्जू भी मानो कंगन में जड़ा हुआ पत्थर हो गया
कम्मो ताई सड़क के पीपल तले आज भी खड़ी है
कहा था न, कुछ लोग अकेले ही रहते हैं

 

इरफान की आवाज में सुनें कविता

कवयित्री अनुराधा गाखर ने अपनी कविता को इरफान खान द्वारा पढ़ने का श्रेय सुतापा सिकदर को दिया है। उन्होंने कहा कि इरफान की पत्नी सुतापा ने ही दोनों को साथ लाने में मदद की। अनुराधा ने अपने यूट्यूब चैलन पर कविता को शेयर करते हुए लिखा, 'यह मेरी कविता 'कम्मो ताई' है, जिसे इरफान खान ने अपनी आवाज दी है। वह हमेशा हमारे साथ हैं। आपका धन्यवाद और मैं हमेशा आभारी रहूंगी। सुतापा सिकदर का भी शुक्रिया, जिन्होंने 'कम्मो ताई' के लिए हमें साथ लाने में मदद की।'

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर