Throwback: विद्या बालन को कभी मिला था 'अनलकी' का टैग, आज हैं बॉलीवुड की सुपरस्टार

बोल्ड और बिंदास एक्ट्रेस में से एक विद्या बालन आज अपने करियर, शोहरत और टॉप एक्ट्रेस लिस्ट में नाम दर्ज करवाने के लिए जानी जाती हैं लेकिन बॉलीवुड में यहां तक पहुंचने का उनका सफर आसान नहीं था।

Vidya Balan life story
विद्या बालन  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • विद्या बालन ने 2005 में आई 'परिणिता' फिल्म से बॉलीवुड में किया था डेब्यू
  • डर्टी पिक्चर में शानदार डांस नंबर करने वाली विद्या को डांस करना पसंद नहीं
  • अपने अभिनय के दम पर नेशनल अवॉर्ड सहित कई सम्मान अपने नाम किए

मुंबई: विद्या बालन का  बॉलीवुड की सफल अभिनेत्रियों में से लिया जाता है। विद्या बालन ने फिल्मों में अपने संजीदा अभिनय से खास पहचान बनाई है। आज किसी भी महिला प्रधान फिल्म के लिए विद्या हर निर्देशक की पहली पसंद हैं। अपने पैशन के कारण विद्या ने फिल्मी दुनिया में कदम रखा।

सातवीं क्‍लास में पढ़ने के दौरान विद्या बालन ने माधुरी दीक्षित को 'तेजाब' फिल्‍म के एक-दो-तीन गाने में नाचते हुए देखा था तो उन्होंने बॉलीवुड एक्ट्रेस बनना तय किया, जिसके बाद विद्या को कोई भी कठिनाई रोक नहीं पाई। जिस फिल्म इंडस्ट्री में आज विद्या बालन को हर कोई अपनी फिल्म में लेने को बेकरार है, उसी फिल्म इंडस्ट्री में कभी उन्हें अनलकी माना जाता था। विद्या बालन ने एक इंटरव्यू में अपने जीवन के इस कड़वे सच के बारे में खुलकर बात की थी।

विद्या को मनहूस समझती थी साउथ फिल्म इंडस्ट्री:
विद्या बालन एक इंटरव्यू में अपने संघर्ष के बारे में बात करते हुए कहा था कि मैं जब शुरुआत में फिल्मों में स्ट्रगल कर रही थीं, तब मुझे दक्षिण भारतीय इंडस्ट्री के एक्‍टर मोहनलाल के साथ मलयालम फिल्म मिली थी। ये फिल्म किसी कारण से बंद हो गई और मुझे मनहूस कहा जाने लगा।

उन्हें काम मिलना बंद हो गया था। इसी दौरान एक दक्षिण भारतीय फिल्म की कास्टिंग से पहले मेरे जन्म का समय भी मांगा गया था। इसके बाद उन्हें तीन फिल्मों के ऑफर मिले, लेकिन वो सभी भी डिब्बे में बंद हो गईं और उन्हें पनौती कह कर निकाल दिया गया। उन्होंने कहा 'वह दौर मेरे लिए काफी मुश्किलों भरा था, लेकिन मेरे माता-पिता ने मेरा साथ दिया।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Vidya Balan (@balanvidya) on

सीट पाने के लिए ट्रेन में प्रेंग्नेंट होने की एक्टिंग करती थीं विद्या:
इंटरव्यू में विद्या ने बताया था कि जब वह ट्रेन में सफर करते हुए थक जाती थीं तो सीट पाने के लिए कई बार प्रेग्नेंट होने की एक्टिंग करती थीं और अक्सर उन्हें सीट मिल जाया करती थी।

फिल्म 'परिणिता' ने विद्या बालन की बदल दी थी जिंदगी:
विद्या बालन ने कई टेलीविजन एड में काम किया. इनमें से अधिकतर विज्ञापनों का निर्देशन प्रदीप सरकार द्वारा किया गया। 2003 में विद्या बालन ने बंगाली फिल्म 'भालो थेको' में लीड रोल प्ले किया। साल 2005 में फिल्म 'परिणिता' ने विद्या बालन की जिंदगी बदल दी। अपने 13 साल के करियर में विद्या ने बॉलीवुड में अपनी पकड़ मजबूत की. फिल्म 'भूल भुलैया' से लेकर 'द डर्टी पिक्चर' के बोल्ड कैरेक्टर तक या फिर 'कहानी' की दमदार अदाकार तक विद्या ने अपने हर रोल में जान भर दी।

जब वजन और पहनावे को लेकर हुई थी आलोचना:
फिल्म 'हे बेबी' और 'किस्मत कनेक्शन' में बढ़े वजन और विद्या के पहनावे को लेकर उनकी काफी आलोचना की गई। इस बात से विद्या इतनी निराश हुईं कि उन्होंने इंडस्ट्री को छोड़ देने का फैसला कर लिया। हालांकि अपने करियर की शुरुआत में 'परिनीता' और 'मुन्ना भाई...' जैसी फिल्मों के लिए विद्या की काफी तारीफ हुई थी।

आमिर खान की वजह से दिल को लगा था धक्का:
विद्या बालन ने एक बार बताया था कि आमिर खान की वजह से उन्हें एक बार बहुत धक्का लगा था। दरअसल, विद्या एक शोक सभा में गई थीं । वहां इंडस्ट्री से केवल विद्या ही थीं। मीडिया से आए लोग उनकी तस्वीरें खींच रहे थे लेकिन जैसे ही आमिर खान वहां आए सारी मीडिया उन्हें धक्का देकर आमिर की तरफ चली गई। इससे उनके दिल को बहुत धक्का लगा। विद्या ने कहा था- आमिर की जगह कोई और भी हो सकता था। लेकिन मैं समझ गई कि जो आपसे ज्यादा कामयाब हैं लोग उसके पीछे दौ़ड़ेंगे।

बता दें कि विद्या बालन की फिल्म 'शंकुतला देवी' इस महीने आखिर में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने वाली है। फिल्म का ट्रेलर पहले ही रिलीज हो चुका है, जिसे देखने के बाद लोग विद्या की एक्टिंग की काफी सराहना कर रहे हैं। फिल्म में विद्या बालन ने एक वैज्ञानिक से लेकर 'ह्यूमन कम्प्यूटर' तक का किरदार निभाया है।

अगली खबर