CM योगी से मिले फिल्म निर्माता पहलाज निहलानी, अयोध्या पर बनने वाली फ‍िल्‍म के बारे में की चर्चा

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ द्वारा यूपी में फिल्‍म सिटी बनाने के निर्णय के बाद बॉलीवुड के बड़े निर्माता और निर्देशक यूपी में फिल्‍म निर्माण के लिए उत्‍सुक हैं।

Pahlaj Nihalani meets CM Yogi Adityanath
Pahlaj Nihalani meets CM Yogi Adityanath 

मुख्य बातें

  • आश्रम वेबसीरीज के लेखक संजय मासूम भी मुलाकात के दौरान रहे साथ
  • न‍िहलानी बोले- लखनऊ में 21 जनवरी से ‘अनाड़ी इज बैक’ की शूटिंग होगी

लखनऊ। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ द्वारा यूपी में फिल्‍म सिटी बनाने के निर्णय के बाद बॉलीवुड के बड़े निर्माता और निर्देशक यूपी में फिल्‍म निर्माण के लिए उत्‍सुक हैं। इससे पहले यूपी के किसी सीएम ने इस तरह की पहल नहीं की थी। मैं योगी जी की नई सोच और नए तरीके से बेहद प्रभावित हूं। ये कहना था आंखे, अंदाज, शोला और शबनम जैसी फिल्‍में बनाने वाले  सेंसर बोर्ड के पूर्व चेयरमैन और दिग्गज फिल्म निर्माता पहलाज निहलानी का। उन्‍होंने बुधवार को चर्चित संवाद लेखक संजय मासूम के संग मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान उन्‍होंने मुख्यमंत्री से फिल्‍म सिटी के निर्माण और अयोध्या पर बनने वाली नई फिल्‍म अयोध्‍या की कथा के बारे में चर्चा की।           

निहलानी ने बताया कि यूपी में फिल्‍म सिटी के निर्माण होने से स्थानीय कलाकारों को मंच, मौका और काम मिलेगा। साथ ही पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्‍होंने बताया अपनी विविधता और ऐतिहासिक, सांस्कृतिक रूप से बेहद संपन्न होने के नाते उत्‍तर प्रदेश शूटिंग के लिहाज से बेहद ही मुफीद जगह है। यहां पर फिल्‍म निर्माताओं को सब्सिडी मिलती है। शूटिंग की परमिशन भी बड़े आराम से मिल जाती है।

अयोध्‍या की कथा फिल्‍म में दिखाएंगें अयोध्‍या की झलक

पहलाज निहलानी ने बताया कि राजा राम हम सभी के दिलों में बसते हैं। प्रभु श्रीराम पर आधारित ‘अयोध्‍या की कथा’ फिल्‍म में अयोध्‍या की झलक दिखेगी जिसमें अयोध्‍या की अनकही- अनदेखी कथाओं संग रामराज्‍य के अद्भुत नजारों को दिखाया जाएगा। युवाओं को बड़े पर्दें पर मर्यादा पुरूषोत्‍तम श्री राम की पौराणिक कहानियों को देखने का मौका मिलेगा। वो अपनी नई फिल्‍म ‘अनाड़ी इज बैक’ की शूटिंग 21 जनवरी से म‍हीने से लखनऊ और इसके आस-पास करेंगे। 

सोशल मीडिया पर हर बात पर प्रतिक्रिया देना जरूरी नहीं 

निहलानी ने कहा कि मेरा मानना है कि कलाकार की धर्म व जाति नहीं होती उसका काम ही उसका धर्म होता है। कलाकार को सिर्फ अपने काम पर ध्‍यान देना चाहिए। सोशल मीडिया पर हर मुद्दे पर जिनमें जानकारी नहीं हो उनपर बोलना नहीं चाहिए।  कलाकारों को लाखों लोग अपना आर्दश मानते हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देने से पहले सोचना चाहिए। कोरोना काल में कई नए कलाकारों को दिक्‍कत का सामना करना पड़ा है। मेरा मानना है कि परेशानियां कुछ पलों की हैं अगर टैलेंट है तो आपको मंजिल तक पहुँचने से कोई रोक नहीं सकता।

यूपी ने बॉलीवुड को दिग्गज कलाकारों से है नवाजा

निहलानी ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश ने फिल्‍म इंडस्‍ट्री और संगीत जगत के कई  दिग्गजों से नवाजा है। अपनी कला के बूते इन लोगों को देश ही नहीं विदेशों में भी खूब शोहरत मिली है। पद्मविभूषित पं बिरजू महाराज ,पद्मश्री छन्नू लाल मिश्र , गुदई महाराज, गोपी कृष्ण जैसे महान कलाकारों ने फिल्म इंडस्ट्री को ऊंचे मुकाम पर पहुंचाने का काम किया।

किस्‍सों-कहानियों का गढ़ है उत्‍तर प्रदेश

आश्रम वेबसीरिज में अपने हुनर से सभी के दिलों में जगह बनाने वाले  चर्चित संवाद लेखक और गीतकार संजय मासूम ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश को केन्‍द्र बनाकर यहां के अलग-अलग जनपदों की कहानियों को ढूंढ रहा हूं। मैंने लखनऊ के अपने दोस्‍तों से यूपी के कई अनूठे किस्‍सों को सुना है। उनकी कहानियों पर मैं काम कर रहा हूं। शीघ्र ही असली यूपी से दर्शकों को रूबरू कराऊंगा। 24  जनवरी से रणदीप सिंह हुड्डा के साथ एक नई फिल्‍म की शूटिंग लखनऊ में शुरू कर रहा हूं। मेरा मानना है कोई भी कहानी जो दिल से लिखी जाई वो बनने के बाद पर्दें पर और भी अच्‍छी लगती है। वेबसीरिज, ओटीटी जैसे दौर में लेखकों की मांग बढ़ रही है। यूपी में फिल्‍म सिटी बनने के बाद आने वाले समय में लेखकों को नए अवसर मिलेंगे।

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर