मुंबई डायरीज 26/11: डॉ. दीया पारेख के रोल के लिए नताशा भारद्वाज ने ऐसे की थी तैयारी, बताया अस्पताल के लगाती थीं चक्कर

बॉलीवुड
प्रदीप कुमार तिवारी
प्रदीप कुमार तिवारी | सीनियर रिपोर्टर
Updated Oct 21, 2021 | 09:21 IST

वेबसीरीज मुंबई डायरीज 26/11 में रेसीडेंट डॉक्टर की भूमिका निभाने वाली नताशा का कहना है कि उन्होंने मुंबई डायरी 26/11 के लिए ऑडिशन दिया था तब वह जानती थीं कि उन्हें यह किरदार करना ही है। क्योंकि यह बहुत वजनदार कैरेक्टर था।

Actress Natasha Bharadwaj
Actress Natasha Bharadwaj  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • वेबसीरीज मुंबई डायरीज 26/11 में डॉ. दीया पारेख के रोल में नजर आई थीं नताशा भारद्वाज।
  • नताशा भारद्वाज इंडियाज नेक्स्ट सुपरस्टार्स की विजेता रही हैं।
  • नताशा भारद्वाज वेबसीरीज और फिल्मों दोनों मे ही लीड किरदार निभाना चाहती हैं।

ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई वेबसीरीज मुंबई डायरीज 26/11 में साल 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों को दिखाया गया है। ये वेबसीरीज 26/11 के हमलों की भीषण रात में डॉक्टरों के काल्पनिक जीवन पर आधारित है। इसमें अभिनेता मोहित रैना, श्रेया धनवंतरी, नताशा भारद्वाज, संदेश कुलकर्णी, सत्यजीत दुबे, प्रकाश बेलावाड़ी और कोंकणा सेन शर्मा मुख्य किरदारों में हैं। लेकिन मुंबई डायरीज 26/11 में जो किरदार केंद्र में रहा वो था- डॉ. दीया पारेख का, जिसे नताशा भारद्वाज ने निभाया था। वेबसीरीज का दूसरा सीजन भी जल्द आएगा लेकिन अपने किरदार को लेकर नताशा  भारद्वाज ने टाइम्स नाउ नवभारत से खास बातचीत की।

डॉ. दीया पारेख के किरदार को लेकर ऐसी थी तैयारी
मुंबई डायरीज 26/11 में डॉ. दीया पारेख का किरदार निभाने वालीं नताशा भारद्वाज का कहना है कि उन्होंने इस किरदार के लिए पहले से ही तैयारी कर दी थी। चूंकि उनकी मां भी एक डॉक्टर हैं और 25 सालों से वह इसी पेशे से जुड़ी हुई हैं। नताशा ने बताया कि उनकी मां ने इस किरदार के लिए हर छोटी-छोटी चीज के बारे में समझाया। उन्होंने कहा, 'मैंने खुद हॉस्पिटल्स विजिट किए और इस किरदार के बारे में हर वो चीज जानी, जो इसके लिए जरूरी थी। मैंने कई वर्कशॉप भी अटेंड की थीं और वेबसीरीज का निर्देशन निखिल आडवाणी कर रहे थे तो उन्होंने चीजों को और भी आसान बना दिया।"

डॉ. दीया भारद्वाज और नताशा भारद्वाज इन दोनों में क्या डिफरेंस है
इसके जवाब में नताशा कहती हैं कि दोनों ही किरदारों में कुछ समानता है और कुछ अंतर है। अंतर ये है कि डॉ. दीया पारेख एक क्लिनिकल डिप्रेशन से जूझ रही है और उसे समझना और एक संवेदना के साथ निभाना बेहद मुश्किल है। ये वाकई एक चुनौती भरा किरदार था। अगर समानता की बात करें तो नताशा भारद्वाज भी दीया पारेख की तरह अपने आप को प्रूव करना चाहती हैं और जोखिम उठाने के लिए भी तैयार है।

आपकी मां डॉक्टर हैं, क्या आप भी डॉक्टर बनना चाहती थीं
नताशा बताती हैं कि जब वो 3 या 4 साल की रही होंगी तभी उन्होंने एक्टिंग में जाने का मन बना लिया था। शुरू से वो बनना ही एक्टर चाहती थीं। हालांकि, वो अपनी मां के साथ अस्पताल जाती थीं। लेकिन उनकी फैमिली ने उनके एक्टिंग के सपने को पूरी तरह से सपोर्ट किया।

नताशा भारद्वाज में क्या ट्रांस्फॉर्मेशन आया है
नताशा कहती हैं कि ट्रांस्फॉर्मेशन बहुत छोटी-छोटी चीजों से होता है। जाहिर सी बात है कि ट्रांस्फॉर्मेशन आया है। शायद एक ट्रांस्फॉर्मेशन को बयान करना मुश्किल है और लंबी जर्नी है, इसलिए ट्रांस्फॉर्मेशन आता ही रहेगा।

रिजेक्शन को आप कैसे देखती हैं?
नताशा का मानना है कि रिजेक्शन जिंदगी का हिस्सा है और ये फेज आपकी जिंदगी में आता ही है। उन्होंने कहा, 'मेरी मां मुझे समझाती हैं कि ये चलता ही रहेगा, आप अपने काम पर फोकस रखें। वास्तव में रिजेक्शन मेरे या किसी के कंट्रोल में नहीं है।' नताशा कहती हैं कि रिजेक्शन को हैंडल करने का सबका एक अलग नजरिया होता है और इस चीज पर अटक नहीं जाना है। नताशा बताती हैं कि वो आगे भी इसके लिए तैयार हैं क्योंकि जो चीज आपके लिए है वो आपके पास आएगी और जो नहीं है वो आपके सामने से ही निकल जाएगी।

26/11 के उस दौर को सोचकर अभी भी डर लगता है
नताशा 26/11 के उस दौर को सोचकर ही डर जाती हैं। वो कहती हैं कि ऐसा समय किसी की भी जिंदगी में ना आए। 26/11 को लेकर उन्होंने अपने एक्पीरियंस को भी शेयर किया। नताशा बताती हैं कि उनके लिए 26/11 का अनुभव बेहद अलग था। उस वक्त मेरी मां एक प्राईवेट अस्पताल में काम करती थीं। आमतौर मेरी मां को अस्पताल से घर आने में एक घंटे का समय लगता था लेकिन उस दिन उन्हें तीन घंटे का समय लगा और किसी तरह वह घर पहुंची। हालात ऐसे थे कि वो ना तो फोन कर पा रही थीं और ना ही उन्हें कोई फोन आ रहे थे। ये मेरी जिंदगी में सबसे डरावने पलों में से एक है।

किस सुनहरे दौर में वापिस जाना चाहती हैं?
नताशा कहती हैं कि वह इस समय को एन्जॉय कर रही हैं। मैं वर्तमान में रहना पसंद करती हूं। उनका कहना है कि उन्हें अफसोस करना नहीं होता और जिंदगी में बहुत आएगा और बहुत कुछ छूटेगा।

बॉलीवुड में किस स्टार्स के साथ काम करना चाहती हैं
इस सवाल पर नताशा कहती हैं कि वो अभिताभ बच्चन के साथ काम करना चाहती हैं। बच्चन साहब से वो खासी प्रभावित हैं। प्रियंका चोपड़ा से वह काफी प्रभावित हैं। कई सारे स्टार्स हैं जिनके साथ वो काम करना चाहती हैं।

जल्द आएगा मुंबई डायरीज 26/11 का दूसरा सीजन
मुंबई डायरीज 26/11 के पहले सीजन की सफलता के बाद मेकर्स जल्द ही इसका दूसरा सीज़न ला रहे हैं। इसकी पुष्टी खुद डॉ. दीया पारिख यानी नताशा भारद्वाज ने ही की है। हालांकि, इसके नए सीजन में क्या नया मोड़ देखने को मिलेगा, इसके लिए दर्शकों को थोड़ा इंतजार करना होगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर