SSC CGL परीक्षा की कर रहें तैयारी, जानें सिलेबस और एग्जाम पैटर्न

अगर आप भी सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं तो SSC CGL के लिए ट्राई कर सकते हैं। बता दें कि एसएससी की कठिन परीक्षाओं में से एक है एसएससी सीजीएल। इस परीक्षा का स्तर स्नातक स्तर का होता है।

SSC CGL exam syllabus
SSC CGL exam syllabus 
मुख्य बातें
  • स्टाफ सेलेक्शन कमीशन द्वारा SSC CGL की परीक्षा आयोजित की जाती है।
  • आप अपनी योग्यता के अनुसार इसके विभिन्न पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। 
  • यहां जानें इसके सिलेबस और एग्जाम पैटर्न

सरकारी नौकरी पाना ज्यादातर युवाओं की चाह होती है। बता दें कि समय-समय पर कई सरकारी नौकरियों की भर्ती होती रहती है, जिसे उम्मीदवार अपनी योग्यता और मेहनत के आधार पर हासिल करते हैं। वहीं अगर आप केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों के लिए काम करना चाहते हैं तो एसएससी यानी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। एसएससी में बहुत से पद और पोस्ट होते हैं, जिसे आप अपनी योग्यता के अनुसार आवेदन कर सकते हैं। 

बात करें SSC CGL परीक्षा के बारे में तो यह स्टाफ सेलेक्शन कमीशन द्वारा आयोजित की जाती है। इस परीक्षा के लिए ग्रेजुएट छात्र आवेदन कर सकते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद आप आयकर, सीबीआई, डाक, एनआईए, उत्पाद शुल्क आदि जैसे अलग-अलग केंद्रिय सरकार के विभागों में एक इंस्पेक्टर, परीक्षक या फिर सहायक बन सकते हैं। बता दें कि हर साल स्टाफ सेलेक्शन कमीशन भारत सरकार में अलग-अलग मंत्रालयों, विभागों, जिसमें ग्रुप बी और सी के पदों को भरने के लिए कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा आयोजित किया जाता है। 

एसएससी सीजीएल परीक्षा सिलेबस ?

एसएससी सीजीएल की परीक्षा चार स्तरों में आयोजित की जाती है। जिसे हम फर्स्ट टायर, सेकेंड टायर, थर्ड टायर और फोर्थ टायर के रूप में जानते हैं। एसएससी सीजीएल की तैयारी के लिए जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग,क्वॉन्टिटेटिव ऐप्टिट्यूड, जनरल अवेयरनेसऔर इंग्लिश कॉम्प्रिहेंशन विषय को अच्छी तरह से पढ़ें। वहीं इन विषयों के निम्नलिखित बिंदुओं पर खास ध्यान दें....

जनरल अवेयरनेस: स्थैतिक सामान्य ज्ञान(भारतीय इतिहास, संस्कृति), विज्ञान, करंट अफेयर्स, खेल, पुस्तकें और लेखक, महत्वपूर्ण योजनाएं, पोर्टफोलियो साथ ही खबरों पर बनाए रखें अपनी नजर।

जनरल इंटेलिजेंस ऐंड रीजनिंग: वर्गीकरण, समानता,कोडिंग-डिकोडिंग, पजल, मैट्रिक्स, शब्द गठन, वेन आरेख,दिशा और दूरी, ब्लड रिलेशन, सीरीज, वर्बल रीजिनिंग, नन- वर्बल रीजिनिंग को अच्छी तरह से प्रैक्टिस करें।

इंग्लिश कॉम्प्रिहेंशन: रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन, रिक्त स्थान भरें, स्पेलिंग, वाक्यांश और मुहावरे, एक शब्द प्रतिस्थापन, सेनटेंश करेक्शन, एरर स्पॉटिंग की प्रैक्टिस करें।

क्वॉन्टिटेटिव ऐप्टिट्यूड: सरलीकरण, ब्याज, एवरेज, परसेंटेज, रेश्यो एंड प्रोपोर्शन, प्राब्लम ऑन ऐजेस, स्पीड, डिस्टेंस एंड टाइम , नंबर सिस्टम, मेंसुरेशन, डाटा इंटरप्रिटेशन, टाइम एंड वर्क, अलजेब्रा, ट्रिग्नोमेट्री, ज्योमेट्री की खूब प्रैक्टिस करें।
 

एसएससी सीजीएल पात्रता मानदंड ?

- कैंडिडेट्स किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से स्नातक की डिग्री हासिल हो।
- जूनियर सांख्यिकीय अधिकारी के लिए 12 वीं स्तर पर गणित में कम से कम 60% अंकों के साथ किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री हो। इसके अलावा डिग्री स्तर पर मुख्य विषयों में से एक के रूप में स्टैटिक्स के साथ किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री हो।
आयु सीमा- एसएससी ने एसएससी सीजीएल भर्ती के लिए उम्र पोस्ट से पोस्ट में अलग-अलग होती है, एसएससी सीजीएल के लिए न्यूनतम आयु सीमा 27 वर्ष है, और अधिकतम आयु सीमा मानदंड 32 वर्ष है।
- ध्यान रहे कि राज्य स्तर कोई आरक्षण नहीं है।
- एससी/ एसटी/ ओबीसी-एनसीएल/ पीएच श्रेणी के कैंडिडेटस को आरक्षण प्रदान किया जाएगा।
- पूर्व सैनिकों के कैंडिडेट्स को भी छूट दी जाएगी
- वहीं महिला कैंडिडेट्स को कोई अलग एसएससी सीजीएल आरक्षण नहीं दिया जाएगा।
 

एसएससी सीजीएल परीक्षा पैटर्न ?

एसएससी सीजीएल परीक्षा एक घंटे की होती है, जिसमें 100 सवाल पूछे जाते हैं। चार सेक्शनों में कुल 200 नंबर के 100 सवाल होते हैं, जिसमें चारों सेक्शन से 50 नंबर के 25 सवाल होते हैं। ध्यान रहे कि इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होती है, ऐसे में सवाल का सही जवाब ही दें। चार फेज में होने वाली ये परीक्षा कंप्यूटर आधारित प्री परीक्षा होती है। चारों फेज में अलग-अलग विषयों के अनुसार परीक्षा आयोजित की जाती है, इसे पास करने के बाद फाइनल रिजल्ट जारी किया जाता है। बता दें कि हर साल इस परीक्षा में लाखों छात्र शामिल होते हैं, लेकिन गिने-चुने लोगों को सफलता मिलती है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर