उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने उठाए सवाल, कहा- क्यों सीएम बदलते ही DGP का होता है बदलाव?

दिल्ली समाचार
Updated Oct 05, 2019 | 17:35 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

वेंकैया नायडू ने कहा है कि पुलिस की जवाबदेही और पारदर्शिता के साथ स्वायत्तता को जोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक वरिष्ठ अधिकारी थानों में माहौल बदलने का बीड़ा नहीं उठाते, तब तक स्थिति में सुधार कठिन है।

Venkaiah Naidu
उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा है कि DGP का एक निश्चित कार्यकाल होना चाहिए
  • उप राष्ट्रपति ने कहा कि पुलिस की जवाबदेही और पारदर्शिता के साथ स्वायत्तता को जोड़ा जाना चाहिए
  • वेंकैया नायडू ने पुलिस बलों के भीतर आंतरिक सुधारों पर जोर दिया

नई दिल्ली: उप राष्ट्रपति (Vice President) वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) ने कहा है कि पुलिस महानिदेशक (DGP) का एक निश्चित कार्यकाल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस की जवाबदेही और पारदर्शिता के साथ स्वायत्तता को जोड़ा जाना चाहिए। नायडू ने कहा कि जब किसी राज्य का मुख्यमंत्री (CM) बदलता है तो वहां के पुलिस महानिदेशक को भी बदल दिया जाता है।

वेंकैया नायडू ने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बाहरी प्रभावों से पुलिस को बचाने के लिए दिशा- निर्देश जारी किए हैं। जवाबदेही और पारदर्शिता के साथ स्वायत्तता को जोड़ा जाना चाहिए। जब सीएम बदलते हैं, तो पुलिस महानिदेशक का बदलाव होता है। ऐसा क्यों होना चाहिए? एक निश्चित कार्यकाल होना चाहिए।'

आमतौर पर देखा गया है कि जब भी किसी राज्य में सत्ता परिवर्तन होता है, तो वहां पर प्रशासनिक अमले के साथ पुलिस महकमें के उच्च पदों पर बदलाव होता है। कहा जाता है कि जो सत्ता के करीब होता है उसे ही उच्च पदों पर आसीन किया जाता है। इसी को लेकर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू सवाल उठा रहे थे। 

(तस्वीर साभार- पीआईबी ट्वीटर)

स्मार्ट पुलिसिंग पर एक नेशनल सेमिनार को संबोधित करते हुए उप राष्ट्रपति ने पुलिस बलों के भीतर आंतरिक सुधारों का सुझाव दिया। उन्होंने कहा, 'पुलिस थानों को लोगों के अनुकूल बनाने के लिए हम कई सालों से बात कर रहे हैं। दुर्भाग्य से, ऐसा नहीं हो रहा है। जब तक वरिष्ठ अधिकारी पुलिस थानों में माहौल बदलने का बीड़ा नहीं उठाते, तब तक स्थिति में सुधार बहुत मुश्किल है।' नायडू ने कहा कि मुझे डर है कि कहीं हालात और न बिगड़ जाएं।

 

अगली खबर