कपिल मिश्रा का विवादित बयान-'शाहीन बाग में पाक की एंट्री, दिल्ली में बन रहे छोटे-छोटे पाकिस्तान'

Kapil Mishra on shaheen bagh protest : मॉडल टाउन से भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने गुरुवार को विवादित बयान दिया। मिश्रा ने कहा कि शाहीन बाग में पाकिस्तान की एंट्री हो चुकी है।

Kapil Mishra sparks row over shaheen bagh protest, कपिल मिश्रा का विवादित बयान-'शाहीन बाग में पाक की एंट्री, दिल्ली में बन रहे छोटे-छोटे पाकिस्तान'
मॉडल टाउन से भाजपा उम्मीदवार हैं कपिल मिश्रा।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • कपिल मिश्रा का गंभीर आरोप-शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाले पाकिस्तानी
  • दिल्ली में चुनावी जंग को भारत बनाम पाकिस्तान बनाने की कपिल मिश्रा की कोशिश
  • दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों पर 8 फरवरी को होगा मतदान, 11 फरवरी को आएंगे नतीजे

नई दिल्ली : दिल्ली चुनाव-2020 में मॉडल टाउन से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने विवाद खड़ा करने वाला बयान दिया है। मिश्रा ने गुरुवार को कहा कि 'शाहीन बाग में पाकिस्तान के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं और दिल्ली में छोटे-छोटे पाकिस्तान बनाए जा रहे हैं और सड़कों पर कब्जा किया जा रहा है।' बता दें कि मिश्रा भाजपा में शामिल होने से पहले करावल नगर से आम आदमी पार्टी के विधायक थे। आप से बाहर होने के बाद वह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमेशा निशाना साधते रहे हैं। मिश्रा अपने विवादित बयानों के लिए सुर्खियों में रहते आए हैं।

कपिल मिश्रा ने अपने इस ट्वीट से दिल्ली चुनाव को भारत बनाम पाकिस्तान का रंग देने और वोटों का ध्रुवीकरण करने की कोशिश की है। टाइम्स नाउ से बातचीत में मिश्रा ने कहा, 'शाहीन बाग में धरने पर बैठने वाले, बसों को जलाने वाले, बच्चों पर पत्थर फेंकने वाले पाकिस्तानी हैं। सीएए के विरोध में दंगों जैसा माहौल बनाने वाले लोग पाकिस्तानी हैं। ' 

दिल्ली में गत 15 दिसंबर से शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। यहां धरने पर बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे बैठे हैं। भाजपा के आईडी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कुछ दिनों पहले एक वीडियो जारी कर दावा किया था है कि महिलाओं को पैसे देकर धरने पर बिठाया गया है। उन्होंने एक बच्ची का वीडियो भी जारी करते हुए दावा किया कि सीएए के खिलाफ बच्चों का ब्रेनवाश किया गया है। 

बता दें कि दिल्ली में विधानसभा चुनाव के लिए आठ फरवरी को वोट डाले जाएंगे और नतीजे 11 फरवीर को आएंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वह अपने पांच साल के दौरान किए गए विकास कार्यों के आधार पर लोगों से वोट मांग रहे हैं। वहीं, भाजपा दिल्ली चुनाव में पाकिस्तान को मुद्दा बनाने की कोशिश करती दिख रही है। 

अगली खबर