कोरोना संकट : दिल्‍ली एयरलिफ्ट कराया जाएगा ऑक्‍सीजन, केजरीवाल सरकार ने ओडिशा से मांगी मदद

देश की राजधानी दिल्‍ली में ऑक्‍सीजन की कमी को दूर करने के लिए केजरीवाल सरकार ने ओडिशा की सरकार से मदद मांगी है। ऑक्‍सीजन टैंकों को एयरलिफ्ट कराने की तैयारी की जा रही है।

कोरोना संकट : दिल्‍ली एयरलिफ्ट कराया जाएगा ऑक्‍सीजन, केजरीवाल सरकार ने ओडिशा से मांगी मदद
कोरोना संकट : दिल्‍ली एयरलिफ्ट कराया जाएगा ऑक्‍सीजन, केजरीवाल सरकार ने ओडिशा से मांगी मदद  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

नई दिल्‍ली : दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए केजरीवाल सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। ऐसे में अब केजरीवाल सरकार ने ओडिशा से अधिक ऑक्सीजन मंगाने का फैसला किया है। इसके लिए हवाई जहाज की भी मदद ली जा सकती है। 

हवाई जहाज से ऑक्सीजन मंगाने की तैयारी

केजरीवाल सरकार दिल्ली के अस्पतालों में ओडिशा से ऑक्सीजन एयरलिफ्ट करवाने की कोशिश कर रही है। दिल्ली के ऑक्सीजन के बढ़ाए गए कोटे में से उड़ीसा से काफी ऑक्सीजन आनी है। ऐसे में ऑक्सीजन दिल्ली पहुंचने में काफी दिन लग सकते हैं। अब केजरीवाल सरकार हवाई जहाज की मदद से जल्द से जल्द ऑक्सीजन लाने पर विचार कर रही है, ताकि समय बच सके। केजरीवाल सरकार ने इसको लेकर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बातचीत भी की है। ऑक्सीजन जल्द से जल्द दिल्ली लाने के लिए एक स्पेशल ऑफिसर तैनात किया गया है।

दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा 100 टन बढ़वाया

दिल्ली सरकार ने अपना आंकलन लगाया, जिसके हिसाब से दिल्ली को रोजाना 700 टन ऑक्सीजन की जरूरत है। ऐसे मे ऑक्सीजन का कोटा 378 टन से बढ़ाकर 480 टन कर दिया है। हालांकि दिल्ली को अभी और भी काफी ऑक्सीजन चाहिए। इसके लिए केजरीवाल सरकार लगातार प्रयास कर रही है।

दिल्ली की ऑक्सीजन को दूसरे राज्य रोक रहे

दिल्ली के साथ-साथ बाकी राज्यों का ऑक्सीजन कोटा बढ़ाया गया है। इसके बावजूद हरियाणा और उत्तर प्रदेश के प्लांटों में वहां के अधिकारी दिल्ली की ऑक्सीजन आपूर्ति को रोक दिया है। पानीपत में हरियाणा सरकार के अधिकारियों ने कल दिल्ली के हिस्से की ऑक्सीजन रोक ली। दिल्ली को 480 मीट्रिक टन ऑक्सीजन में से केवल 177 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिल पायी, क्योंकि हरियाणा और उत्तरप्रदेश के अधिकारियों ने पुलिस की सहायता से दिल्ली के ऑक्सीजन टैंकरों को रोक दिया।
 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर