..तो क्या दिल्ली वालों को मुफ्त मिलेगी कोरोना वैक्सीन, केजरीवाल सरकार कर रही प्लानिंग!

दिल्ली सरकार सभी को बिना किसी शुल्क के कोरोना वैक्सीन लगाने पर विचार कर रही है, उम्मीद है कि इस बारे में जल्द ही कोई घोषणा की सकती है।

COVID VACCINE
इस समय दिल्‍ली के प्राइवेट अस्‍पतालों में वैक्‍सीनेशन के लिए 250 रुपए ले रहे हैं 

मुख्य बातें

  • दिल्‍ली के प्राइवेट अस्‍पतालों में वैक्‍सीनेशन के लिए 250 रुपए ले रहे हैं।
  • कोरोना वायरस राष्ट्रीय राजधानी में  'एंडेमिक फेज' के करीब है
  • कहा जा रहा है कि दिल्‍ली के बजट में एक प्रावधान लाया जा सकता है

दिल्ली में कोरोना वैक्सीन को लेकर खबर सामने आ रही है कहा जा रहा है कि केजरीवाल सरकार नि:शुल्क कोरोना वैक्सीन देने पर भी विचार कर रही है।मीडिया सूत्रों की मानें तो कहा जा रहा है कि दिल्‍ली में वैक्‍सीनेशन के अगले चरण में यहां के लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगाया जाएगा दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार इस योजना पर काम कर रही है कि कैसे आम लोगों को सरकारी अस्‍पतालों में फ्री में कोरोना वैक्‍सीन उपलब्‍ध करायी जाए।

दिल्‍ली के बजट में एक प्रावधान लाया जा सकता है साथ ही उम्मीद है कि विधानसभा में बजट पेश करते समय उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया इसकी आधिकारिक घोषणा कर सकते हैं। गौर हो कि इस समय दिल्‍ली के प्राइवेट अस्‍पतालों में वैक्‍सीनेशन के लिए 250 रुपए ले रहे हैं।

'कोरोना वायरस दिल्ली में एंडेमिक फेज के करीब'

वहीं संडे को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा कि कोरोना वायरस राष्ट्रीय राजधानी में  'एंडेमिक फेज' के करीब है।किसी संक्रमण को तब एंडेमिक फेज कहा जाता है जब वह किसी भौगोलिक क्षेत्र में एक स्तर पर लगातार बना रहता है। जैन ने कहा, ‘कोरोना वायरस दिल्ली में एंडेमिक फेज के करीब है।

विशेषज्ञों का कहा है कि एंडेमिक फेज में कुछ मामले आते रहते हैं। दिल्ली में लगभग 10 साल पहले स्वाइन फ्लू का प्रकोप देखा गया था, लेकिन अभी भी हर साल कुछ मामले सामने आते हैं। कोरोना वायरस पूरी तरह से समाप्त नहीं होने जा रहा है।'

उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण की दर एक प्रतिशत से कम है। उन्होंने कहा कि पिछले साल नवम्बर में यह दर 15 प्रतिशत थी। पिछले दो महीनों से संक्रमण की दर एक प्रतिशत से कम बनी हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, कोविड-19 संक्रमण की दर पांच प्रतिशत से कम रहनी चाहिए।स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शहर के अस्पतालों में कोरोना वायरस के मरीजों के लिए जितने बिस्तर आरक्षित हैं, उनमें से 10 प्रतिशत पर भी मरीज भर्ती नहीं है।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर