Arvind Kejriwal ने आखिर क्यों कहा- दिल्ली की भी अपनी क्षमता है

दिल्ली समाचार
Updated Sep 30, 2019 | 12:43 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली के अस्पतालों में बाहर के मरीज भी इलाज कराने आते हैं, जिससे लंबी-लंबी लाइनें लग जाती हैं। दिल्ली की भी अपनी क्षमता है।

Arvind Kejriwal
अरविंद केजरीवाल  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली में इलाज के लिए बाहर से लोग आते हैं, जिससे अस्पतालों में काफी लंबी-लंबी लाइनें लग जाती हैं। उन्होंने कहा कि हमने एक हॉस्पिटल का सर्वे कराया, जिससे सामने आया कि 80 प्रतिशत मरीज बाहर के थे। बाहर के लोग दिल्ली आते हैं ये खुशी की बात है, लेकिन दिल्ली पूरे देश के लोगों का इलाज कैसे कर सकती है? दिल्ली की भी अपनी क्षमता है।

केजरीवाल ने कहा, 'बिहार का एक व्यक्ति 500 रुपए में दिल्ली का टिकट खरीदता है और 5 लाख रुपए के मुफ्त इलाज का लाभ उठाता है। यह हमें खुश करता है क्योंकि वे हमारे ही देश के लोग हैं, लेकिन दिल्ली की अपनी क्षमता है। दिल्ली पूरे देश के लोगों की सेवा कैसे कर सकती है?' 

 

दरअसल, केजरीवाल ने रविवार को संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में 362 बिस्तरों वाले नए ट्रॉमा सेंटर की आधारशिला रखी। ट्रॉमा सेंटर में आईसीयू और आपातकालीन चिकित्सा सुविधा के साथ ही छह शल्य चिकित्सा कक्ष होंगे। इसके 18 महीनों में तैयार होने की उम्मीद है।

उन्होंने इस पर ट्वीट किया, 'इस एक काम में ही 290 करोड़ बच गए। अगर इस पैसे से मैं दिल्ली के सभी लोगों की दवाई, इलाज और टेस्ट मुफ्त कर देता हूं तो इसमें गलत क्या है? विपक्ष के लोग इसका विरोध करते हैं कि हम दिल्ली वालों का मुफ्त इलाज करके पैसा बर्बाद कर रहे हैं।'

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने 200 मुहल्ला क्लीनिकों का निर्माण किया है और अगले 10-15 दिनों में 200 और मुहल्ला क्लीनिकों का निर्माण पूरा हो जाएगा। केजरीवाल ने कहा कि दिसंबर तक 300 अतिरिक्त मुहल्ला क्लीनिकों के पूरा हो जाने की उम्मीद है।

अगली खबर