दिल्‍ली में आप की बंपर जीत, शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी बोले- किस पार्टी का करते हैं समर्थन

दिल्‍ली चुनाव के दौरान शाहीन बाग का मुद्दा छाया रहा था। खासकर बीजेपी की ओर से इसका जिक्र बार-बार किया गया था। आखिर चुनाव नतीजे आने के बाद यहां के प्रदर्शनकारी क्‍या कहते हैं?

After AAP's victory in Delhi Shaheen Bagh protesters say we do not support any party
शाहीन बाग में प्रदर्शन जारी है  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्‍ली : दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की बंपर जीत तय हो चुकी है। इस बीच यह सवाल सबके जेहन में कौंध रहा है कि शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी क्‍या सोचते हैं, जिसका मुद्दा विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान सुर्खियों में रहा था। दक्षिणी दिल्‍ली के शाहीन बाग में प्रदर्शनकारी पिछले 2 महीने से नागरिकता कानून में संशोधन के खिलाफ धरना पर बैठे हैं।

दिल्‍ली विधानसभा चुनाव के नतीजे साफ होने के बीच शाहीन में जहां रोज की तरह मंगलवार को भी शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शनकारियों के बीच नारे लिखी एक तख्‍ती भी देखी जा रही है, जिसमें संदेश लिखा है, 'आज मौन धरना है, हम किसी पार्टी का समर्थन नहीं करते।' धरनास्‍थल से जो तस्‍वीरें सामने आ रही हैं, उनमें कई प्रदर्शनकारी मुंह पर काली पट्टियां बांधे शांतिपूर्ण तरीके से धरना देते नजर आ रहे हैं।

शाहीन बाग दिल्‍ली चुनाव के दौरान सुर्खियों में था। खासकर बीजेपी नेताओं की ओर से इसे लेकर खूब बयानबाजी की गई और इसमें आप से लेकर कांग्रेस तक का हाथ बताया गया। बीजेपी नेताओं की ओर से शाहीन बाग और सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतरे लोगों को लेकर जिस तरह की भड़काऊ टिप्‍पणियां की गईं, उससे चुनाव आयोग भी हरकत में आया।

चुनाव आयोग ने बीजेपी को दो स्‍टार कैंपेनर्स के नाम प्रचार अभियान से हटाने के लिए कहा। इस दौरान मॉडल टाउन से बीजेपी उम्‍मीदवार कपिल मिश्रा, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और बीजेपी सांसद परवेश वर्मा के बयान सुर्खियों में रहे, जिसके कारण चुनाव आयोग ने मिश्रा के चुनाव प्रचार पर 48 घंटों के लिए बैन भी लगा दिया। परवेश वर्मा पर भी चुनाव प्रचार के लिए बैन लगा था।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर