Fake Watch: महंगे ब्रांड की नकली घड़ी बेचने वालों का भंडाफोड़, मुंबई पुलिस ने की कार्रवाई

Fake Watches of Expensive Brands: यूनाइटेड ओवरसीज ट्रेडमार्क कंपनी की ओर से दर्ज प्राथमिकी के आधार पर आरोपियों पर कॉपीराइट कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

fake watch Mumbai
कीमती ब्रांड की नकली घड़ियां बरामद की गईं  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली: मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने दक्षिण मुंबई के तारदेव में एक शॉपिंग सेंटर में छापेमारी के बाद कीमती ब्रांड की नकली घड़ियां बरामद कीं और इस संबंध में चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने शनिवार रात को शॉपिंग सेंटर में स्थित चार व्यापारिक प्रतिष्ठान में छापा मारा और आरोपियों के पास से 16,45,000 रुपये नकद बरामद किये। 

मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने नकली घड़ियों की अवैध बिक्री के सिलसिले में तारदेव के हीरा पन्ना शॉपिंग सेंटर में छापेमारी की। आरोपियों की पहचान यासीन युसूफ मनकिया, जीकर इस्माइल सुदीवाला, दिनेशकुकार हाजीमल घोकर और रशीद शेख के रूप में की गई है।

दिल्ली में भी सामने आया था ठगी का मामला

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल फर्जीवाड़े के बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया पुलिस के मुताबिक इन लोगों ने 16 राज्यों में ठगी की 126 वारदातों को अंजाम दिया है साइबर सेल के डीसीपी अनियेश रॉय ने बताया कि उनके पास  ऋषिका गर्ग (बदला हुआ नाम) नाम की महिला की एक शिकायत आई थी जिसमे शिकायतकर्ता ने बताया कि वो हल्दीराम का आउटलेट खोलना चाहती थी और जब वो ऑनलाइन हल्दीराम का दावा करने वाली एक वेबसाइट देख रही थी तो वेबसाइट के माध्यम से उसे आउटलेट खोलने के लिए हल्दीराम की फ्रैंचाइज़ी और डीलरशिप देने की पेशकश की गई।

बड़ी संख्या में लोग इन फर्जी वेबसाइटों के शिकार हुए

जांच के दौरान ये भी पता चला कि देश भर में बड़ी संख्या में लोग इन फर्जी वेबसाइटों के शिकार हुए हैं। जिसके बाद तकनीकी माध्यम से  यह पाया गया कि जालसाजों ने लोगों को अपनी जालसाजी का शिकार बनाने के लिए 36 से अधिक स्मार्टफोन में चल रहे कई बैंक खातों और बड़ी संख्या में फर्जी सिम कार्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं। इन सभी का ब्योरा हासिल किया गया और संदिग्धों की पहचान की गई।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर