Tamilnadu: 11 साल की नाबालिग को नशीली दवाई देकर 7 महीनों तक गैंगरेप, 16 दोषियों को मिलेगी ये सजा

तमिलनाडु के चेन्नई से एक हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है। 11 साल की नाबालिग के साथ 7 महीनों तक गैंगरेप के मामले में 16 लोगों को दोषी ठहराया गया है।

minor gangrape for 7 month
7 महीनों तक नाबालिग से गैंगरेप  |  तस्वीर साभार: Representative Image

नई दिल्ली : चेन्नई में 11 वर्षीय एक नाबालिग के साथ 7 महीनों तक लगातार 16 लोगों को द्वारा गैंगरेप किए जाने का मामला सामने आया है। पॉक्सो एक्ट से जुड़े इस केस की सुनवाई के लिए एक स्पेशल कोर्ट का गठन किया गया जिसमें 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनमें से एक आरोपी को इसलिए छोड़ दिया गया क्योंकि उसके खिलाफ जुर्म साबित नहीं हो पाए। 

स्पेशल कोर्ट इन सभी 15 दोषियों को 3 फरवरी को सजा सुनाएगी। मद्रास हाई कोर्ट के स्पेशल कोर्ट में सुनवाई के लिए 16 आरोपियों को कड़ी सुरक्षा में लाया गया था। सुनवाई एक बंद कमरे में की गई जहां पर पत्रकारों की एंट्री को भी बैन कर दिया गया था।

रिपोर्ट के मुताबिक ये मामला 2018 का है। पीड़िता बधिर बताई जाती है, उसने अपनी बड़ी बहन को अपनी आपबीती बताई थी। जिसके बाद उसकी बड़ी बहन ने अपार्टमेंट कॉम्प्लेक्स में काम करने वाले 17 लोगों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। बताया जाता है कि 17 में से एक आरोपी बाबू की मामले की सुनवाई के दौरान मौत हो गई। 

सभी आऱोपियो की उम्र 25 से 66 के आस-पास बताई जाती है। इनमें सुरक्षागार्ड से लेकर प्लंबर और हाउसकीपिंग स्टाफ तक शामिल हैं। आरोपियों ने पीड़िता को सॉफ्ट ड्रिंक में नशीली दवाई पिलाकर उसे बेहोश कर उसके साथ गैंगरेप किया।

सितंबर 2018 में पुलिस ने आईपीसी और पॉक्सो की संबंधित धाराओं के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। चेन्नई पुलिस कमिश्नर एके विश्वनाथ ने इन आरोपियों को हिरासत में लेने का एक आदेश भी जारी किया था।  

अगली खबर