गरीबी से तंग आकर मां-बाप ने की जुड़वां बेटियों की हत्या, उफनते तालाब में फेंक दिया

क्राइम
Updated Sep 23, 2019 | 13:23 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

गरीबी से तंग आकर एक बाप ने अपने ही जुड़वां बच्चियों की जान ले ली। 20 दिन की अपनी जुड़वां बच्चियों को उसेन उफनते तालाब में फेंक दिया। सनसनीखेज खबर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की है।

pond
तालाब (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • मुजफ्फरनगर में पिता ने जुड़वां बेटियों की हत्या की
  • गरीबी से तंग आकर दंपत्ति ने उठाया ये कदम
  • पालन पोषण करने में था असमर्थ इसलिए की हत्या

मुजफ्फरनगर : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से एक बेहद सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। मुजफ्फरनगर जिले के भिक्की गांव के एक शख्स ने 20 दिनों के अपनी जुड़वां बेटियों को उफनते तालाब में बहा दिया। बताया जाता है कि वह बेहद गरीब है और अपनी बेटियों के पालन पोषण के लिए उसके पास पैसे नहीं है इसलिए उसने उन्हें जान से मार देने के खयाल से तालाब में बहा दिया।

जुड़वां बच्चियों के माता-पिता वसीम और नजमा को रविवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वसीम दिहाड़ी मजदूरी का काम करता है। उसके पहले से ही एक सात सा बेटा है। उसने पुलिस को बताया कि उसकी माली हालत बेहद खराब है और वह ऐसे में दो बेटियों का पालन पोषण नहीं कर सकता है।

एसएचओ अजय कुमार ने बताया कि रविवा को इस दंपत्ति का आपस में झगड़ा हो गया था जिसके बाद ही इन्होंने गुस्से में आकर अपनी बेटियों को तालाब में फेंक दिया। उनकी बच्चियों के नाम आफरीन और आफिया है जिसे घर के पास ही बहने वाले तालाब में फेंक दिया।

दोनों बच्चियों को तालाब में फेंकने के बाद वसीम ने पुलिस के पास खुद ही उनकी गुमशुदगी की एफआईआर दर्ज करा कर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। हालांकि ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि वसीम अपनी दोनों बेटियों के जन्म के बाद से ही खुश नहीं था और इसी बात पर पति-पत्नी के बीच अक्सर झगड़ा हुआ करता था।

पुलिस की जांच में पता चला कि इन दोनों ने ही मिलकर अपनी जुड़वां बच्चियों को मार डाला है। पूछताछ में कपल ने अपना अपराध भी कबूल कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी पति-पत्नी के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (मर्डर) और 201 (साक्ष्य छुपाने और पुलिस को गुमराह करने) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।     

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...