Gurugram: ऑफिस में मिला व्यक्ति का शव, इस तरह हुई हत्या, गायब हुआ रुपयों से भरा बैग

क्राइम
Updated Nov 23, 2019 | 19:16 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Man body found in his office: गुरुग्राम में एक कार्यालय के अंदर एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया है। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

man murdered in DLF-3
डीएलएफ-3 में एक कार्यालय में व्यक्ति का शव बरामद  |  तस्वीर साभार: Representative Image

गुरुग्राम : गुरुग्राम के डीएलएफ-3 यू ब्लॉक में एक व्यक्ति का शव बरामद होने से पूरे इलाके में सनसनी मच गई। 32 साल के व्यक्ति का शव उसके कार्यालय के अंदर से ही बरामद किया गया। पुलिस के मुताबिक उसके सिर पर किसी तेज धारदार हथियार से जोर से वार किया गया था इसके बाद उसका गला दबाकर उसकी हत्या की गई थी। जब उस पर हमला किया गया तो उस समय वह शख्स अपने कार्यालय में अकेला ही था। 

मृतक की पहचान रवि कुमार के रूप में की गई है जो मूल रुप से बिहार का रहने वाला है। वह वर्तमान में पालम विहार में रह रहा था और ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स के लिए कुरियर सर्विस का काम करता था। कुमार ने छह माह पहले ही डीएलएफ-3 में एक ऑफिस किराए पर ले रखा था।

शुक्रवार की सुबह करीब 9 बजे एक डिलीवरी ब्वॉय एक पार्सल लेने के लिए उसके कार्यालय में आया लेकिन उसी समय उसने रवि का शव ऑफिस के अंदर पाया। इसके बाद उसने पुलिस को इस बारे में सूचित किया जिसके बाद पुलिस ने उसके परिजनों को इसकी खबर की। मृतक के परिजन दीपेश ने इस मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ डीएलएफ-3 पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 302(हत्या) के तहत केस दर्ज करवा दिया है।    

कुमार का शव पोस्टमार्टम के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया गया है। पुलिस ने बताया कि कुमार के माथे और गर्दन पर चोट के भी काफी निशान पाए गए हैं। पुलिस के मुताबिक वे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच कर रहे हैं। हालांकि वहां लगे कई सारे सीसीटीवी कैमरे खराब पाए गए।

पुलिस ने बताया कि एक सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि एक बाइक सवार युवक सुबह 7 बजे के करीब आता है। पुलिस के मुताबिक वे इस फुटेज की जांच कर रहे हैं। हालांकि हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। सूत्रों के मुताबिक रवि अपने घर से एक लैपटॉप बैग और 50,000 की राशि लेकर निकले थे।

पुलिस ने बताया कि मौके पर से लैपटॉप बरामद किया गया लेकिन पैसे गायब थे। शुरूआती जांच से पता चलता है कि हत्यारे रवि कुमार के पूरी दिनचर्या से परिचित थे। दीपेश ने बताया कि रवि ने 6 महीने पहले ही अपना काम शुरू किया था और उसकी किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी। 
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर