महिला की चिता के साथ शख्स को जिंदा जलाया, जादू-टोना करने का लगाया था आरोप

क्राइम
Updated Sep 20, 2019 | 13:09 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

हैदराबाद में एक शख्स को कुछ लोगों ने मिलकर एक महिला की चिता में जिंदा जला दिया। मामला अंधविश्वास से जुड़ा हुआ है। पुलिस पूरे मामले की तहकीकात कर रही है।

man burnt alive on pyre
चिता पर शख्स को जिंदा जलाया  |  तस्वीर साभार: Getty Images

हैदराबाद : आंध्र प्रदेश की राजधानी हैदराबाद में 26 वर्षीय एक ऑटो चालक को एक महिला की चिता के साथ जिंदा जला दिया गया। ऑटोचालक बुधवार से ही लापता बताया जा रहा था उसे एक महिला की चिता के साथ जिंदा जला दिया गया। मामला अंधविश्वास से जुड़ा है। दरअसल एक महिला काफी समय से बीमार थी जिससे उसकी मौत हो गई।

उसके परिवारवालों ने आरोप लगाया था उसकी बीमारी और मौत के पीछे उस ऑटोचालक का हाथ है। उसी ने ही महिला के उपर कुछ जादू टोना कर दिया था जिसके बाद वह बीमार पड़ गई और उसकी मौत हो गई। महिला के परिजनों ने इसी आधार पर उस व्यक्ति को पकड़ कर मृतका की चिता के साथ जिंदा जला दिया।  

इस जघन्य हत्या के कुछ ही देर के बाद शमीरपेट पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जो मृतका के रिश्तेदार हैं। जानकारी के मुताबिक बुधवार को 8 बजे शाम तक ऑटो चालक अंजानेयुलू का कोई पता नहीं था। अद्रासपल्ले स्थित वह अपने घर से ही लापता था। उसके भाई बी गणेश ने अपनी शिकायत में बताया कि उसका भाई शौच कहकर घर से बाहर गया था।

साढ़े 8 बजे के करीब ग्रामीणों ने बताया कि उपरोक्त महिला के परिजनों ने उसकी चिता के साथ उसके भाई को भी जला दिया है। उन लोगों ने आरोप लगाया था कि उसके जादू टोने की वजह से ही उस महिला की मौत हुई थी। सूचना पाते ही जब ये लोग श्मशान घाट पर गए तो वहां पर उसे गंभीर अवस्था में पाया जिसके बाद ग्रामीणों की मदद से उसे अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। 

साइबराबाद पुलिस के मुताबिक मृतका लक्ष्मी पिछले पांच साल से किडनी, रक्तचाप और शुगर जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थी। उनका आरोप था कि उसी ऑटोचालक ने उस पर जादू कर दिया है। 

घटना वाले दिन उन लोगों ने अंजानायेलु को खेतों में जाते देखा था जिसके बाद उन्होंने उसे पकड़ लिया। उसे उन लोगों ने छड़ी, पत्थर और कुल्हाड़ियों से भी हमला करते जा रहे थे। इसके बाद उन्होंने चिता में जिंदा जलने के लिए फेंक दिया। 

घटनास्थल के पास से पुलिस ने तेल से भीगी हुई एक किताब, खून से सनी मिट्टी और चप्पल बरामद किया है। इन सभी को जांच के लिए भेज दिया गया है। इसके अलावा आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...