हरियाणा: 7 साल की रेप पीड़िता के पिता की मांग, बेटी को मिले हैदराबाद जैसा न्याय

क्राइम
Updated Dec 10, 2019 | 12:54 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

हरियाणा के करनाल में एक साल की बच्ची के साथ बलात्कार के बाद हत्या को कोशिश की गई। पिता की मांग हैदराबाद जैसा न्याय किया जाए।

हरियाणा: 7 साल की रेप पीड़िता के पिता की मांग, बेटी को मिले हैदराबाद जैसा न्याय
हरियाणा के करनाल में 7 साल की बच्ची के साथ बलात्कार के हत्या की कोशिश की गई 

मुख्य बातें

  • नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार करने के बाद ब्लेड से हत्या करने का भी प्रयास किया गया, जिससे उसके शरीर पर कई कट लग गए, वह अस्पताल में भर्ती है
  • बच्ची के पिता चाहते हैं कि तेलंगाना के हैदराबाद महिला वेटनरी के साथ बलात्कार और हत्या के चार आरोपियों को जिस तरह से एनकाउंटर किया गया उसी तरह से उसकी बेटी के आरोपियों का भी एनकाउंटर किया जाए

करनाल (हरियाणा): बलात्कार और हमले की शिकार हुई सात साल की बच्ची जून महीने से अस्पताल में भर्ती है, उसे कई सर्जरी से गुजरना पड़ा है। इससे दुखी पिता ने अपराधियों के लिए क्रूर मौत की मांग की। वह चाहते हैं कि तेलंगाना के हैदराबाद महिला वेटनरी के साथ बलात्कार और हत्या के चार आरोपियों को जिस तरह से एनकाउंटर किया गया उसी तरह से उसकी बेटी के आरोपियों का भी एनकाउंटर किया जाए।

पीड़िता के पिता ने मीडिया कहा कि मेरी मांग है कि मेरी बेटी के केस में भी आरोपियों के साथ भी वहीं किया जाना चाहिए जैसा तेलंगाना में एनकाउंटर किया गया। इसके लिए  पुलिस पर कोई कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि बलात्कारियों से निपटने के लिए हर देश में अलग-अलग कानून हैं। सरकार को यहां भी एक कानून तैयार करना चाहिए, जो बलात्कारियों को कड़ी से कड़ी सजा दिला सके, ताकि कोई भी व्यक्ति इस तरह का अपराध करने से पहले कई बार सोचे।

आरोपी ने 31 मई को नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार करने के बाद ब्लेड का इस्तेमाल करके उसकी हत्या करने का भी प्रयास किया, जिससे उसके शरीर पर कई कट लग गए, जिसके लिए उसे कई सर्जरी और गहन देखभाल की आवश्यकता थी। नाबालिग को करनाल के कल्पना चावला गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी देखभाल की जा रही है और कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर डॉ हिमांशु मदान के अनुसार, चोटों के लिए चंडीगढ़ पीजीआई मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च सुविधा में कई सर्जरी की गई है।

मदन ने कहा कि बच्ची को 9 जून को हमारे अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उस समय हमारे पास बाल रोग सर्जन नहीं था इसलिए उसे पीजीआई, चंडीगढ़ रेफर किया गया था जहां उसकी सर्जरी हुई थी। चंडीगढ़ में उस सुविधा में उसकी अगली सर्जरी 27 दिसंबर को करने की योजना है। अदालत के आदेशों के अनुसार, उसे सुरक्षा के लिए हमारे पास रखा जा रहा है।

करनाल एसपी सुरेन्द्र भोरिया ने मीडिया को बताया कि बलात्कार के मामले में आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और इस मामले की अदालत में सुनवाई चल रही है। उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि प्रशासन द्वारा पीड़ित को हर संभव सुरक्षा प्रदान की जा रही है।

एसपी भोरिया ने कहा कि बच्ची से बलात्कार के मामले में शिकायत 1 जून को दर्ज की गई थी, जिसके बाद आरोपी को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया गया था। हमने उसकी सुरक्षा के लिए एक महिला सब-इंस्पेक्टर को भी हर समय बच्चे के साथ रहने के लिए तैनात किया है। पुलिस ने इस मामले में 19 जुलाई को चार्जशीट दाखिल किया था।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर