दिल्ली: जेएनयू की छात्रा के साथ कैब चालक ने किया रेप, पुलिस ने मदद करने से किया इंकार

क्राइम
Updated Aug 07, 2019 | 20:21 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

जेएनयू की छात्रा के साथ एक कैब चालक ने कथित तौर पर बलात्कार किया। इसके बाद जब पीड़िता शिकायत दर्ज कराने पुलिस स्टेशन गई तो, अधिकारियों ने मना कर दिया और अगले दिन आने को कहा।

crime news
जेएनयू की छात्रा के साथ बलात्कार हुआ  |  तस्वीर साभार: Representative Image

मुख्य बातें

  • कैब चालक ने छात्रा का बस स्टॉप के पीछे किया रेप
  • महिला पुलिस अधिकारी ने छात्रा की मदद करने से किया था इंकार
  • एनसीडब्लू ने कहा कैब चालक के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई

नई दिल्ली: राजधानी में अपराध की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। महिलाओं के साथ आए दिन बलात्कार की घटनाएं हो रही हैं। इस बीच एक और घटना सामने आई है जिसमें कैब ड्राइवर ने 21 साल की जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रा का  कथित तौर पर बलात्कार कर दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक,घटना शुक्रवार की है और कैब ड्राइवर ने कथित तौर पर नेल्सन मंडेला मार्ग पर एक बस स्टॉप के पीछे छात्रा का रेप किया।

जानकारी के अनुसार, पीड़िता ने पुलिस को बताया कि जब वह मंदिर मार्ग पर कैब में बैठी तो, ड्राइवर ने उसे कुछ पीने को दिया, जिसको पीने के बाद उसे चक्कर आने लगा। इसके बाद जैसे ही वह नेल्सन मंडेला मार्ग पर पहुंची तो, गाड़ी जेएनयू की तरफ बाएं मोड़ने के बजाए, ड्राइवर ने सीधा वसंत कुंज की तरफ मोड़ दिया। पीड़िता ने कहा कि ड्राइवर ने 10 मीटर के अंतर पर दो बस स्टॉप के बीच में गाड़ी को रोक दिया और उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश की। हालांकि, छात्रा ने आरोपी को थप्पड़ मार दिया और गाड़ी से निकलकर वसंत कुंज की तरफ भागने लगी।

पीड़िता के मुताबिक, इसके बाद कैब ड्राइवर ने उसको पकड़ लिया और फिर एक बस स्टॉप के पीछे उसका रेप कर किया। रिपोर्ट के मुताबिक, छात्रा ने मजिस्ट्रेट को बताया कि वह वसंत कुंज पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने गई थी, लेकिन पुलिसकर्मी उसको वापस हॉस्टल जाने को कहा और दूसरे दिन आने के लिए बोला। इसके बाद पीड़िता ने एक महिला पुलिसकर्मी से अपने साथ चलने को कहा तो, उसने जाने से इंकार कर दिया।

पीड़िता ने कहा कि वह मंदिर मार्ग पर बुद्ध मंदिर में दर्शन करने गई और अपना फोन वहीं भूल गई थी, इसलिए उसने एक राहगीर को बोलकर कैब बुक करवाई थी। जानकारी के मुताबिक, पुलिस पीड़िता के बयान के अनुसार घटनास्थल पर गई। पुलिस सभी कैब कंपनियों से अपने वाहन के बारे में जानकारी साझा करने को कहा जो नेल्सन मंडेला मार्ग पर उस दिन गए थे। 

हालांकि, राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्लू ) का एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस के अधिकारियों से मुलाकात की और कहा कि कैब चालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। पुलिस ने एनसीडब्लू के प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिया कि वह आरोप के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। वहीं एनसीडब्लू के अधिकारी ने कहा,'मामले में जांच चल रही है और पुलिस ने भरोसा दिलाया है कि केस की प्रगति के बारे में प्रतिदिन जानकारी एनसीडब्लू को दी जाएगी।'

गौरतलब है कि जिस जगह पर जेएनयू की छात्रा के साथ बलात्कार हुआ है, ठीक उसी जगह पत्रकार सौम्या विश्वनाथन और कॉल सेंटर में काम करने वाले जिगिशा घोष पर भी हमला हुआ था।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर