Sudeeksha Bhati Death Case: पुलिस का अहम खुलासा- सुदीक्षा से नहीं हुई थी छेड़खानी, यह महज दुर्घटना थी

क्राइम
रवि वैश्य
Updated Aug 16, 2020 | 13:50 IST

2 accused arrested in Sudeeksha death case:अमेरिका में पढ़ने वाली छात्रा सुदीक्षा भाटी की ऐक्सिडेंट में मौत के मामले में बुलंदशहर पुलिस ने 2 युवकों को गिरफ्तार किया है।

Bulandshahr Sudeeksha Bhati death case 2 accused arrested denied eve teasing told truck the reason for the accident
सुदीक्षा एचसीएल की तरफ से 3 करोड़ 80 लाख रुपए की स्कॉलरशिप पाकर अमेरिका में हायर स्टडी करने गई थी (फाइल फोटो) 

मुख्य बातें

  • सुदीक्षा भाटी के मौत मामले में बुलंदशहर एसआईटी की टीम ने दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया
  • जिस बुलेट से एक्सीडेंट हुआ था उसे भी बरामद कर लिया गया है
  • सुदीक्षा भाटी के परिजनों का आरोप था कि छेड़छाड़ के बाद एक्सिडेंट में उसकी मौत हुई है

बुलंदशहर की रहने वाली और अमेरिका में पढ़ने वाली छात्रा सुदीक्षा भाटी के मौत मामले (Sudeeksha Bhati death case) में बुलंदशहर एसआईटी (Bulandshahr SIT) की टीम ने बुलेट सवार दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही जिस बुलेट से एक्सीडेंट हुआ था उसे भी बरामद कर लिया गया है, आरोपियों ने सुदीक्षा के साथ छेड़खानी वाली बात से इनकार किया है वहीं उन्होंने पुलिस को बताया कि एक ट्रक की वजह से हादसा हुआ था।

सुदीक्षा भाटी के परिजनों का आरोप था कि छेड़छाड़ के बाद एक्सिडेंट में उसकी मौत हुई है, बुलंदशहर पुलिस ने इस पूरे मामले में पुलिस ने टीमें गठित की थीं और एसआईटी टीम का भी गठन किया था जिसे अब जाकर सफलता हाथ लगी है और आरोपी पकड़े गए हैं।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक बताया जा रहा है कि  पकड़े गए दोनों युवकों ने पुलिस को बताया है कि उन्होंने सुदीक्षा के साथ किसी भी तरह की छेड़खानी नहीं की थी और ये दुर्घटना एक ट्रक  के अचानक आमने आ जाने की वजह से ब्रेक लगाने की वजह से हुआ जिससे सुदीक्षा जिस बाइक पर बैठी थी उसकी टक्कर हो गई।

10 हजार से अधिक बुलेट बाइक को खंगाला गया

बुलंदशहर पुलिस ने आरोपियों की तलाश में पुलिस ने 10 हजार से अधिक बुलेट बाइक को खंगाला था, पुलिस की कई टीमें इस पर काम कर रही थीं,  पुलिस ने बुलंदशहर से स्याना के बीच पड़ने वाले गांवों की बुलेट मोटरसाइकिलों पर फोकस करते हुए बेहद गंभीरता से तमाम बुलेट मोटरसाइकिलों की जांच कराई कि घटना के वक्त उनकी लोकेशन क्या थी और भी अहम जानकारियां इसको लेकर जुटाई गईं तब जाकर ये सफलता हाथ लगी है।

इस मामले में दर्ज FIR में ईव टीजिंग की धारा का उल्लेख नहीं था

बुलंदशहर पुलिस ने 19 साल की सुदीक्षा भाटी की मौत के कम से कम 30 घंटे बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ लापरवाही और रैश ड्राइविंग के कारण मौत का मामला दर्ज किया था एफआईआर में पुलिस ने औरंगाबाद के रास्ते में बाइकर्स द्वारा उत्पीड़न के बारे में परिवार के दावों के बावजूद ईव टीजिंग की धारा का उल्लेख नहीं किया।

एसपी सिटी (बुलंदशहर), एके श्रीवास्तव ने कहा था कि सुदीक्षा के पिता द्वारा दी गई शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। श्रीवास्तव ने कहा, "शिकायत में पिता ने शिकायत में उत्पीड़न या ईव टीजिंग का उल्लेख नहीं किया है। यह केवल यह उल्लेख कर रहा है कि लड़के गलत तरीके से बाइक राइड कर रहे थे, इसलिए हमने कुछ मोटर वाहन एक्ट का भी उल्लेख किया है।"

जानें क्या था ये सारा मामला

जानकारी के मुताबिक सुदीक्षा अपने चाचा के साथ बाइक पर बैठकर अपने रिश्तेदार के घर जा रही थी। रास्ते में ही बुलेट सवार मनचलों ने उसके साथ छेड़खानी शुरू कर दी थी। इसी क्रम में मनचलों से बचने के क्रम में उसके चाचा की बाइक असंतुलित हो गई और लड़की बाइक से गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई। लड़की का नाम सुदीक्षा था और वह एक मेधावी छात्रा थी। इंटर में टॉप करने के बाद स्कॉलरशिप लेकर अमेरिका पढ़ने चली गई थी। बुलेट पर सवार मनचले बार बार बाइक पर सवार होकर जा रही सुदीक्षा के साथ फ्लर्ट कर रहे थे। वे उनकी बाइक को बार-बार ओवरटेक कर रहे थे जिसके कारण उनकी बाइक असंतुलित होकर हादसे का शिकार हो गई। 

स्कॉलरशिप पाकर वह अमेरिका में हायर स्टडी कर रही थी

सुदीक्षा ने 2018 में बुलंदशहर जनपद में इंटर टॉप किया था। इसके बाद एचसीएल की तरफ से 3 करोड़ 80 लाख रुपए की स्कॉलरशिप पाकर वह अमेरिका में हायर स्टडी करने गई थी। वह कुछ समय पहले वह अमेरिका से छुट्टी पर आई थी और कुछ दिनों के बाद वापस उसे पढ़ाई के लिए जाना था। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर