डूबते पिल्ले को बचाना पड़ा भारी, पिता और बेटे को 4 लोगों ने बेरहमी से पीटा, चाकू से कई वार किए

क्राइम
Updated Jan 31, 2021 | 22:16 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

भोपाल में एक पिता और बेटे को पिल्ले को बचाना भारी पड़ गया। उन पर कार में आए 4 लोगों ने बेरहमी से हमला कर दिया। दोनों पर चाकू से भी हमला किया गया।

mob lynching
पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है 

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक 51 साल के व्यक्ति और उसके बेटे पर कथित रूप से उस समय बेरहमी से हमला किया गया, जब वे शुक्रवार मध्य रात्रि के आसपास एक पिल्ला को डूबने से बचाने की कोशिश कर रहे थे। पिता की पहचान कुंवर सिंह और बेटे की पहचान सागर सिंह के रूप में हुई है। 

दोनों ने भोपाल के कोलार इलाके में अपने आवास सोसायटी के पास नहर से एक पिल्ले के रोने की आवाज सुनी और जानवर को बचाने के लिए वो कार से वहां पहुंचे। उन्होंने डूबते हुए पिल्ले को बाहर निकालने के लिए कार की हेडलाइट का इस्तेमाल किया। तभी एक कार में चार आदमी आए और हॉर्न बजाने लगे। आरोपियों ने कथित तौर पर कार को रोका और पिता और पुत्र दोनों को गालियां देना शुरू कर दिया। 

बताया जाता है कि उनके वहां से गुजरने के लिए सड़क पर पर्याप्त जगह थी, इसके बावजूद वो इनसे लड़ने लगते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, इसके बाद उन्होंने दोनों पर लाठी और चाकू से हमला किया। अपने पिता को शराबी लोगों से बचाते हुए सागर को चार से पांच बार छाती, हाथ और चेहरे पर चाकू लगा। आरोपी सागर पर तब तक हमला करते रहे जब तक वह सड़क पर गिर नहीं गया। 

जब पीड़ितों के दोस्तों ने बीच-बचाव किया तो हमलावर भाग गए। दोनों पीड़ितों को अस्पताल ले जाया गया। बताया गया कि सागर को आंख, पीठ और पेट पर चोटें आई हैं। कोलार पुलिस ने मामले में हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है और जांच जारी है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर