व्हाट्सएप पर मौत की खबर वायरल होने से शख्स के उड़ गए होश, शिकायत दर्ज

क्राइम
Updated Jul 25, 2019 | 19:49 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

व्हाट्सएप पर एक व्यक्ति के मौत की खबर वायरल होने से उसके होश उड़ गए। पीड़ित व्यक्ति ने मामला सामने आते ही पुलिस में जाकर शिकायत दर्ज कराई।

 Whatsapp
व्हाट्सएप पर व्यक्ति के मौत की खबर वायरल हुई  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • परिवार संग बाहर घूमने गया था पीड़ित शख्स रवींद्र दुसंगे
  • रवींद्र के दोस्त ने फोनकर मौत की वायरल खबर की दी जानकारी
  • दहिसर पुलिस में दर्ज कराई गई लिखित शिकायत

मुंबई। Whatsapp man death viral message आज के समय में शायद ही कोई ऐसा हो जो सोशल मीडिया से न जुड़ा हो। सोशल मीडिया का नशा लोगों के सिर चढ़कर कुछ ऐसा बोल रहा है कि वह लगातार अपना व्हाट्सएप, फेसबुक चेक करते रहते हैं। व्हाट्सएप के दौर में आजकल लोग इसका सदुपयोग कम बल्कि बेजा इस्तेमाल ज्यादा कर रहे हैं। आजकल व्हाट्सएप पर ऐसे मैसेज भी प्रचारित किए जा रहे हैं जिसमें सच्चाई बिल्कुल नहीं होती हैं। एक ऐसा ही मैसेज व्हाट्सएप पर वायरल कर दिया गया जिसमें एक जीवित शख्स को मृत बता दिया गया।

फोन कॉल ने उड़ाए होश
रिपोर्ट के अनुसार, 43 साल के रवींद्र दुसंगे दहिसर के निवासी हैं। रवींद्र दुसंगे रविवार को अपने परिवार के साथ घूमने गए थे। इस दौरान एक मैसेज ने उनके होश उड़ा दिए। जानकारी के मुताबिक, रवींद्र के मोबाइल फोन पर एक कॉल आई जिसमें उनके मौत को लेकर संवेदना व्यक्त की गई। इसके बाद ये खबर तेजी से वायरल होने लगी।

व्हाट्सएफ पर मैसेज हुआ वायरल
रवींद्र को इसके बाद उनके मित्र ने बताया कि उनके मौत की खबर व्हाट्सएप पर वायरल होने लगी। हालांकि रवींद्र ने उस वक्त बहुत ध्यान नहीं दिया, लेकिन जब उनको लगातार फोन कॉल और मैसेज आने लगे तो वह परेशान हो गए। इसके बाद जाकर उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस में दर्ज कराई।

मानहानि का चल सकता है मुकदमा
कानूनी जानकारों की मानें तो, इस तरह के अपराध पर पहले धारा 66 ए, आईटी एक्ट के तहत मुकदमा चलाया जाता था। हालांकि बाद में इसे सुप्रीम कोर्ट ने खत्म कर दिया। जानकारों के मुताबिक, अब ऐसा मामला आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत मानहानि के अंतर्गत आता है, जो कि गैर- संज्ञेय अपराध बनता है और इसमें एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकती।

फेसबुक से ली गई तस्वीर
रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को दुसंगे अपने बच्चे और पत्नी के साथ घूमने किसी रिश्तेदार के घर गए थे। दुसंगे जहां पर गए थे वहां पर नेटर्वक नहीं आ रहा था। दुसंगे ने कहा,'मैंने कई मिसड कॉल अपने मित्रों के देखे। इसके बाद जब मैंने बात किया तो मेरे दोस्त को राहत मिली। उसने बताया कि मेरे मौत की खबर व्हाट्सएप पर वायरल हो रही है। कुछ देर बाद मेरे भाई ने मुझे वो व्हाट्सएप मैसेज फॉर्वड किया। किसी ने मेरे फेसबुक से फोटो लेकर एक शोक संदेश व्हाट्सएप पर वायरल कर दिया।' 

चार सौ शोक संदेश ने परेशान किया
रवींद्र के मुताबिक, कुछ दिनों के अंदर उन्हें करीब 400 शोक संदेश प्राप्त हुए। उन्होंने कहा,'यह सरासर उत्पीड़न है। क्या होगा अगर मेरी बूढ़ी मां को इस वायरल मैसेज के बारे में पता चलेगा? वह सदमे में चली जाएंगी।'

'पुलिस मामले को गंभीरता से नहीं ले रही'
दुसंगे ने पुलिस को बताया कि उसे एक व्यक्ति पर शक है जिसने ये वायरल मैसेज किया होगा। रवींद्र ने कहा,'मैंने पुलिस को बताया कि ये मैसेज किसने व्हाट्सएप पर वायरल किया। मैंने उससे पूछा लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। पुलिस को उस व्यक्ति से पूछताछ करनी चाहिए लेकिन वो मामले को  गंभीरता से नहीं ले रही है।' जानकारी के अनुसार, पुलिस ने दुसंगे की लिखित शिकायत दर्ज कर ली है।

ये भी पढ़ें-  6 महीने की नवजात बच्ची ने फ्लाइट में तोड़ा दम, दिल के इलाज के लिए जा रही थी AIIMS

ये भी पढ़ें-  बेरहम मां की शर्मनाक करतूत, बीमार बच्चे को अस्पताल की चौथी मंजिल से फेंका

 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर