बाड़मेर में एक तांत्रिक ने 10 साल की लड़की को आग में जिंदा जलाया, खुद भी उसी आग में कूद गया दोनों की मौत

पाकिस्तान से आए हुए एक तांत्रिक ने बाड़मेर में एक नाबालिग लड़की को जिंदा जला दिया और उसी आग में खुद को भी जला लिया दोनों की मौके पर मौत हो गई।

fire
बाड़मेर में एक तांत्रिक ने 10 साल की लड़की को आग में जिंदा जलाया 

राजस्थान के बाड़मेर में एक बेहद हैरान करने वाली घटना सामने आई है जहां एक तांत्रिक ने  एक नाबालिग लड़की को जलती आग में जिंदा जला दिया और साथ में खुद भी उस आग में कूद गया जिससे उन दोनों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि तांत्रिक युवक का नाम किस्तु राम है और वो करीब छह साल पहले पाकिस्तान से शरणार्थी के रूप में आया था।

यह घटना राजस्थान के बाड़मेर जिले में भाखरसर पुलिस थाने के अंतर्गत सुजो का नीवान इलाके में घटी है। पुलिस और स्थानीय निवासी अभी भी इस घटना से भयभीत हैं और इस कदम के पीछे का कारण जानने की कोशिश कर रहे हैं।

किस्तु राम भील खुद को  स्वयंभू धर्मगुरु बताता था, उसने जिस लड़की को जलाया है उसकी उम्र करीब 10 साल बताई जा रही है। मृत लड़की के पिता के मुताबिक उनकी लड़की मंजू घर से कुछ दूरी पर रिश्तेदारी की एक लड़की के साथ घर का कुछ सामान लेने निकली थी।

वापसी में तांत्रिक किस्तु राम नाबालिग मंजू का हाथ पकड़कर खोदे गए गड्ढे में कूद गया, जिसमें भरे हुए घास फूस में आग लगा दी, जिससे दोनों गंभीर रूप से जल गए एवं दोनों की मौके पर ही मौत हो गई, इस घटना की जानकारी मृतका मंजू के साथ गई लड़की ने घर आकर दी तो सारा मामला सामने आया।

खबर मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे तब तक दोनों की जलने से मौत हो चुकी थी, पुलिस मौके पर पहुंची एवं किस्तु राम के परिजनों से पूछताछ करने पर मिली जानकारी से पता चला कि किस्तु राम के दिमागी संतुलन सही नहीं होने के कारण उसने इस प्रकार की घटना को अंजाम दिया, पुलिस ने दोनों शवों का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया है और मामले की जांच की जा रही है।


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर