Minor Gangrape: 13 साल की नाबालिग लड़की को अगवा कर 36 घंटों तक किया गैंगरेप

Minor Girl Gangraped: ओडिशा में एक 13 साल की लड़की के साथ 36 घंटों तक लगातार गैंगरेप किए जाने का मामला सामने आया है।

minor girl gangraped
13 साल की नाबालिग का गैंगरेप  |  तस्वीर साभार: Representative Image

मुख्य बातें

  • ओडिशा में नाबालिग को अगवा कर 36 घंटों तक किया गैंगरेप
  • अगवा करने के बाद सुनसान जगह पर ले जाकर 36 घंटों तक रखा बंधक बनाकर
  • गैंगरेप करने के बाद उसे गंभीर हालत में उसके घर के पास छोड़ा

नई दिल्ली : देशभर में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ यौन हिंसा के अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। अब ओडिशा से एक दिल को चीर कर रख देने वाला मामला सामने आया है। 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाली 13 वर्षीय एक नाबालिग बच्ची को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किए जाने का मामला सामने आया है।

मामला ओडिशा के गंजम जिले के बरहमपुर टाउन का है। पुलिस ने सोमवार को बताया कि 13 साल की लड़की को पहले अगवा किया गया फिर 3 लोगों ने मिल कर उसके साथ कथित तौर पर गैंगरेप किया। उनमें से 1 आरोपी को पीड़िता पहले से जानती थी। 

जानकारी के मुताबिक 8वीं की छात्रा 10 जनवरी की देर शाम शौच के लिए घर के बाहर गई थी उसी समय एक स्थानीय व्यक्ति ने उसे अपने साथ चलने को कहा। हालांकि वह उसे पहले से जानती थी जो रोजाना कॉलेज आता-जाता था। उससे परिचित होने के बाद भी लड़की ने उसके साथ जाने से मना कर दिया। 

जब उसने मना कर दिया तो लड़के ने कॉल करके अपने दो दोस्तों को बुलाया और जबरन उस लड़की को उठाकर एक एकांत स्थान पर बने एक मकान में ले गए। उन्होंने उसे पहले कोल्ड ड्रिंक पीने को दिया। इसके बाद तीनों ने मिलकर उसके साथ रेप किया। बरहमपुर एसपी पीनाक मिश्रा ने दर्ज एफआईआर का हवाला देते हुए ये जानकारी दी।

पीड़िता ने बताया कि उन तीनों ने उसे गंजम जिले के चिकती एरिया में 36 घंटों तक बंधक बना कर रखा और उसके साथ रेप किया। इसके बाद आरोपियों ने उसे रविवार को गंभीर हालात में उसे उसके घर के पास फेंक कर चले गए। लड़की के मामा की शिकायत पर थाने में पॉक्सो एक्ट की संबंधित धाराओं के तहत आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। मामले को अब महिला पुलिस थाने में ट्रांसफर कर दिया गया है। 

पुलिस ने बताया कि दानारा नाम के व्यक्ति को हिरासत में ले लिया गया है, यह वही व्यक्ति है जो लड़की से परिचित था। पुलिस के मुताबिक लड़की के मेडिकल परीक्षण के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

लड़की का इलाज कर रहे ड़ॉक्टरों ने बताया कि पीड़िता की हालत अभी स्थिर है। पीड़िता का बयान फिलहाल दर्ज कर लिया गया है। बताया जाता है कि अपने पिता की मौत के बाद वह अपने नाना के यहां रहने लगी थी। उसकी मां काम के सिलसिले में घर से बाहर गई थी। 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...