केकेआर के खिलाफ हैदराबाद की करारी हार के बाद क्या बोले केन विलियमसन? 

केन विलियमसन ने शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 54 रन के अंतर से हार का सामना करने के बाद हैदराबाद की पराजय की वजह साझा की है। जानिए उन्होंने क्या कहा? 

Kane-Williamson
कोलकाता के खिलाफ आउट होकर पवेलियन लौटते केन विलियमसन(साभार IPL) 
मुख्य बातें
  • सनराइजर्स हैदराबाद के कोलकाता के खिलाफ शनिवार को मिला 54 रन के बड़े अंतर से मात
  • प्लेऑफ की दौड़ में बने रहने के लिए हैदराबाद को बड़े अंतर से जीतने होंगे बाकी बचे दो मैच
  • कोलकाता के खिलाफ हार की विलियमसन ने बताई वजह

पुणे: आईपीएल का पंद्रहवां सीजन का लीग दौर अपने अंतिम पड़ाव की ओर बढ़ चला है। ऐसे में आखिरी दौर के मैचों की अहमियत एक बार फिर बढ़ गई है। हर मैच में हार-जीत का टीमों के प्लेऑफ में पहुंचने की संभावनाओं पर बड़ा असर पड़ रहा है। ऐसा ही शनिवार को सनराइजर्स हैदराबाद और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच पुणे में खेले गए मुकाबले के बाद हुआ। जिसमें कोलकाता ने हैदराबाद को 54 रन से रौंदकर अपनी प्लेऑफ में पहुंचने की संभावनाओं को जिंदा रखा और हैदराबाद के प्लेऑफ के सपने को यहीं तोड़ दिया। 

बड़े अंतर से जीतने होंगे आखिरी दो मैच 
हैदराबाद के खाते में अबतक खेले 12 मैच में 5 जीत और 7 हार के बाद अब कुल 10 अंक हो गए हैं।  उसका नेट रन रेट भी लगातार पांच हार के बाद -0.270 हो गया है। ऐसे में उसे आखिरी दो मुकाबले मुंबई इंडियन्स और पंजाब किंग्स के खिलाफ खेलने हैं। दोनों मैचों में बड़े अंतर से जीत ही उसे प्लेऑफ की दौड़ में बनाए रखेगी लेकिन अंतिम फैसला अन्य टीमों के प्रदर्शन पर भी निर्भर करेगा। 

शुरुआत में बेस तैयार करने में हुए असफल 
ऐसे में शनिवार को केकेआर के खिलाफ हार के बाद केन विलियमसन ने कहा, कुल मिलाकर कहूं तो मैच का पहला हाफ अच्छा रहा, हालांकि हम ज्यादा विकेट नहीं हासिल कर सके। वो एक अच्छा स्कोर खड़ा करने में सफल रहे, रसेल ने अंत में बड़ी पारी खेली। लेकिन बल्ले के साथ हम लय हासिल करने और एक बेस तैयार करने में नाकाम रहे। साथ ही हम कोई बड़ी साझेदारी नहीं कर सके। लेकिन केकेआर ने अच्छा प्रदर्शन किया। हम पिछले कुछ मैचों से हम लय हासिल करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। बाकी बचे दो मैचों में हमें उस लय की आवश्यकता होगी। 

इस वजह से वॉशिंगटन को दिया आखिरी ओवर 
आखिरी ओवर में वॉशिंगटन सुंदर से गेंदबाजी कराने की वजह बताते हुए विलियमसन ने कहा, हम विकेट झटकना चाहते थे इसलिए भुवनेश्वर कुमार और उमरान मलिक से पहले गेंदबाजी कराई। इसी वजह से आखिरी ओवर वॉशिंगटन से कराना पड़ा। आखिरी ओवर में गेंदबाजी करना हमेशा मुश्किल होता है। वॉशिंगटन आखिरी ओवर में बॉलिंग करने के लिए खुद आगे आए। तेज गेंदबाजों से पहले बॉलिंग कराने के को लेकर हमने पहले से योजना बनाई थी लेकिन ये कारगर साबित नहीं हुई। वॉशिंगटन सुंदर ने केकेआर की पारी के 20वें ओवर में 20 रन दिए जिसमें आंद्रे रसेल के तीन गगनचुंबी छक्के शामिल थे। 

लगातार विकेट गंवाने का हुआ नुकसान
अपनी टीम की बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए हैदराबाद के कप्तान ने कहा, हम अच्छी शुरुआत करना चाहते थे और अभिषेक गेंद पर शानदार शॉट्स खेल रहे थे। अपने पारी की शुरुआत में अच्छी साझेदारी करके एक आधार तैयार करना चाहते थे जिसके कुछ लक्षण भी दिखे लेकिन लेकिन वो नहीं हो सका जो कि बेहद निराशाजनक था। पूरी पारी के दौरान हम लगातार विकेट गंवाते रहे। उस समय हमें टिककर बल्लेबाजी करना चाहिए था लेकिन रन रेट बहुत अधिक हो गया और हम उसे वापस हासिल नहीं कर सके। 

गलतियों से सीख रहा हूं सबक
अपने खराब फॉर्म को लेकर विलियमसन ने कहा,मेरी बल्लेबाजी में कुछ अनियमित्ताएं हैं। मैंने उनसे पार पारी की कोशिश की लेकिन ये उन चीजों में से एक है कि हर मैच हमें कुछ सबक सिखाता है, ऐसे में मुझे भी कुछ सीखने को मिला है। 
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें IPL 2022 News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर