Purple Cap Holder: अबतक इन गेंदबाजों ने कहर बरपाते हुए किया पर्पल कैप पर कब्जा

आईपीएल 2020
कुमार अंकित
कुमार अंकित | सीनियर असिस्टेंट प्रोड्यूसर
Updated Sep 12, 2020 | 18:53 IST

Purple Cap Holder 2008-2019: गेंदबाजों के भरोसे ही टीमें टूर्नामेंट जीतती हैं लेकिन यह ट्रेंड आईपीएल के पिछले 12 सीजन में नहीं दिखाई दिया है।

Purple Cap winner full list
पर्पल कैप विजेता लिस्ट   |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • सबसे ज्यादा चार बार चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ियों ने किया है पर्पल कैप पर कब्जा
  • चेन्नई के ही खिलाड़ी के नाम दर्ज है एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड
  • सनराइजर्स हैदराबाद के भुवनेश्वर कुमार के नाम दर्ज है अनोखे डबल का रिकॉर्ड

दुबई: इंडियन प्रीमियर लीग इस साल 19 सितम्बर से यूएई में खेला जाएगा। आईपीएल एक ऐसा मंच है जहां इस खेल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी पिच पर अपना हुनर दिखाते हैं। आईपीएल के पिछले बारह सीजन के दौरान, खिलाड़ियों के कुछ यादगार और अविश्वसनीय प्रदर्शन की बदौलत इस टूर्नामेंट ने एक नई ऊंचाई हासिल की। 

इससे पहले हमने आपको ऑरेंज कैप के बारे में बताया था और अब बारी है पर्पल कैप की। टूर्नामेंट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज को पर्पल कैप से नवाजा जाता है। पिछले 12 सालों के दौरान इस लीग में कई गेंदबाजों ने अपने गेंदबाजी कौशल से लोगों को हैरत में डाला और विरोधी खेमे में कहर बरपाते हुए स्टंप और गिल्लियां बिखेर दीं। 

तीन बार की आईपीएल चैंपियन, चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ियों ने सबसे ज्यादा बार पर्पल कैप पर कब्जा किया है। दो साल तक टूर्नामेंट से बाहर रहने के बावजूद धोनी के धुरंधर चार बार पर्पल कैप अपने नाम कर चुके हैं। हैदराबाद के लिए खेलने वाले गेंदबाजों ने भी चार बार सीजन में सर्वाधिक विकेट चटकाकर पर्पल कैप अपने नाम की है। वहीं राजस्थान रॉयल्स, मुंबई इंडियंस, दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाजों ने एक-एक बार ये उपलब्धि अपने नाम की। आइए जानते है कि आईपीएल के पिछले 12 सीजन में किन किन खिलाड़ियों ने पर्पल कैप अपने नाम की। 

2008 सोहेल तनवीर (राजस्थान रॉयल्स) 
आईपीएल का पहला सीजन पाकिस्तान के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सोहेल तनवीर के नाम रहा। तनवीर ने राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए 22 विकेट हासिल किए। आपको बता दें कि आईपीएल का पहला सीजन राजस्थान ने जीता था और इसमें तनवीर की बड़ी भूमिका थी। 

2009 आरपी सिंह (डेक्कन चार्जर्स)
लोकसभा चुनाव के कारण आईपीएल का दूसरा सीजन दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था। जहां भारत के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आर पी सिंह ने अपनी स्विंग गेंदबाजी की बदौलत विरोधी बल्लेबाजों की नाक में दम कर दिया। आरपी सिंह ने डेक्कन चार्जर्स के लिए 23 विकेट चटकाए। रुद्र प्रताप सिंह की धारदार गेंदबाजी की बदौलत डीसी की टीम ने चैंपियन का ताज पहना था। 

2010 प्रज्ञान ओझा (डेक्कन चार्जर्स)
पूर्व भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा आईपीएल के इतिहास में पर्पल कैप हासिल करने वाले पहले स्पिनर हैं। आईपीएल 3 में ओझा ने अपनी टीम डेक्कन चार्जर्स के लिए 23 विकेट चटकाए। हांलाकि 2010 में खिताब चेन्नई सुपर किंग्स ने जीता था। पहली बार खिताबी जीत हासिल करने वाली टीम के खिलाड़ी को पर्पल कैप नहीं मिली थी।  

2011 लसिथ मलिंगा( मुंबई इंडियन्स)
श्रीलंका के इस महान तेज गेंदबाज ने अपनी परफेक्ट यार्कर और स्लोअर बॉल के सहारे 2011 सीजन में विरोधी बल्लेबाजों के विकेटों की झड़ी लगाते हुए पर्पल कैप हासिल की थी। मलिंगा आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए मलिंगा ने आईपीएल-4 में 28 विकेट लेकर पर्पर कैप अपने नाम की थी।


 
2012 मोर्ने मोर्कल (दिल्ली डेयरडेविल्स)
साल 2012 में दक्षिण अफ्रीका के इस तेज गेंदबाज ने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलते हुए कुल 25 विकेट हासिल कर पर्पल कैप जीती थी। दिल्ली डेयरडेविल्स को अब आप दिल्ली कैपिटल्स के नाम से जानते हैं। 
  
2013 ड्वेन ब्रावो (चेन्नई सुपर किंग्स)
वेस्टइंडीज के इस टी20 स्पेशलिस्ट खिलाड़ी ने साल 2013 के आईपीएल सीजन में सबसे अधिक विकेट चटकाकर पर्पल कैप हासिल की थी। चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हुए इस ऑलराउंडर ने 32 विकेट हासिल किए, जो एक आईपीएल सीजन में किसी गेंदबाज द्वारा लिए गए विकेटों का एक रिकॉर्ड है। ब्रावो के अलावा और कोई गेंदबाज अबतक 30 विकेट के आंकड़े को भी पार नहीं कर सका है। 

2014 मोहित शर्मा (चेन्नई सुपर किंग्स)
चेन्नई सुपर किंग्स के तेज़ गेंदबाज मोहित शर्मा ने आईपीएल 2014 में 23 विकेट हासिल कर पर्पल कैप पर अपना नाम लिखवाया था। इस साल आप मोहित शर्मा को दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते हुए देखेंगे। 

2015 ड्वेन ब्रावो (चेन्नई सुपर किंग्स) 
चेन्नई सुपर किंग्स का यह हरफनमौला खिलाड़ी इस सीज़न एक बार फिर बल्लेबाजों के लिए स्लो डेथ साबित हुआ। इसी के साथ ब्रावो ने अपना दूसरा पर्पल कैप भी जीता। त्रिनिदाद के इस क्रिकेटर ने आईपीएल 2015 में 26 विकेट लिए। यह लगातार तीसरा मौका था जब चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी ने पर्पल कैप हासिल की थी। 

2016 भुवनेश्वर कुमार (सनराइजर्स हैदराबाद)
इंडिया के तेज़ गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने आईपीएल 2016 में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए 23 विकेट लेते हुए पर्पल कैप भी जीता। दायें हाथ के तेज गेंदबाज कुमार ने 2016 में अपनी टीम को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। 

2017 भुवनेश्वर कुमार(सनराइजर्स हैदराबाद) 
भुवनेश्वर कुमार ने अगले सीज़न में भी अपने अच्छे फॉर्म को जारी रखते हुए पर्पल कैप के साथ अपने लव अफेयर को बरकरार रखा और लगातार दूसरी बार पर्पल कैप पर अपना नाम अंकित कराया, जो कि एक रिकॉर्ड भी है। भुवनेश्वर ने 2017 के आईपीएल में सनराइजर्स के लिए 26 विकेट चटकाए थे।
  
2018 एंड्रयू टाई(किंग्स इलेवन पंजाब)
किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से पहली बार खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी ने पूरे सीजन सधी लाइन एंड लेंथ की बदौलत 24 विकेट झटके और पर्पल कैप अपने नाम की। हांलाकि टाई के लिए 2018 का सीजन यादगार रहा, लेकिन उनकी फ्रेंचाइजी प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही। 

2019 इमरान ताहिर( चेन्नई सुपर किंग्स)
दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी लेग स्पिनर इमरान ताहिर की फिरकी के आगे बैट्समैन नतमस्तक दिखे। 15 मैचों में 26 विकेट लेकर ताहिर ने 2019 में आईपीएल का पर्पल कैप जीता। 40 साल के इस किक्रेटर ने फाइनल में 2 विकेट चटकाकर अपने दक्षिण अफ्रीकी टीम के साथी कगिसो रबाडा को पर्पल कैप की रेस से बाहर किया था। रबाडा ने दिल्ली के लिए 24 विकेट चटकाए थे।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर