क्या सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ शुरू होगा IPL, चेन्नई सुपर किंग्स ने दिया ये जवाब

IPL 2020: इंडियन प्रीमियर लीग का 2020 संसकरण हो पाएगा या नहीं इस पर अभी तक कोई खबर नहीं है। फिलहाल इसको अनिश्तिकाल के लिए स्थगित किया गया है। इस बीच कुछ विचार भी सामने रखे गए हैं, जिसमें एक राजस्थान रॉयल्स है।

CSK rejects plan for non-foreign players IPL
CSK rejects plan for non-foreign players IPL  |  तस्वीर साभार: PTI

नई दिल्ली: कोविड-19 की वजह क्रिकेट जगत में तकरीबन दो महीनों से सभी गतिविधियां बंद हैं। इसी बीच क्रिकेट को दोबारा शुरू करने के लिए तमाम तरह की चर्चाएं जारी हैं। ताजा चर्चा आईपीएल से जुड़ी है। बेशक बीसीसीआई द्वारा आईपीएल 2020 को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है लेकिन कुछ टीमें आईपीएल की उम्मीद अब भी लगाए बैठी हैं। राजस्थान रॉयल्स ने इससे जुड़ा एक विचार सामने रखा है लेकिन एक अन्य टीम चेन्नई सुपर किंग्स ने इस विचार का विरोध भी कर दिया।

दरअसल, राजस्थान रॉयल्स ने एक विचार सामने रखा है कि इस बार आईपीएल को सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ कराया जाए। हालांकि चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) ने सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन के विचार को खारिज करते हुए कहा कि इससे चकाचौंध से भरा यह टूर्नामेंट घरेलू टी20 चैंपियनशिप सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की तरह रह जाएगा।

ऐसे कयास लगाये जा रहे है कि अगर ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित टी20 विश्व कप का आयोजन नहीं हुआ तो सितंबर-अक्टूबर में आईपीएल का आयोजन हो सकता है। चेन्नई सुपरकिंग्स के एक सूत्र ने गोपनीयता के सत्र पर पीटीआई-भाषा से कहा, ‘सीएसके सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल के आयोजन का इच्छुक नहीं है। इस तरह से हम एक और सैयद मुश्ताक अली ट्राफी खेल रहे होंगे। कोविड-19 महामारी की स्थिति बिगड़ने के बाद फ्रेंचाइजी ने बीसीसीआई से संपर्क नहीं किया है।’

साल के अंत में आईपीएल की उम्मीद करते हैं

चेन्नई की तरफ से इस सूत्र ने कहा, ‘उम्मीद करते है कि इस साल के आखिर में आईपीएल का आयोजन होगा।’ सीएसके तीन बार इस टूर्नामेंट का चैम्पियन बना है और वह चार खिताब जीतने वाले मुंबई इंडियन्स के बाद दूसरी सबसे सफल टीम है। बीसीसीआई अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत बनाये रखने के लिए आईपीएल को आयोजित करने के लिये प्रयासरत है। विश्व के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के कोषाध्यक्ष अरूण धूमल ने पिछले दिनों पीटीआई-भाषा से कहा था, ‘अगर टूर्नामेंट नहीं हुआ तो बोर्ड को 4000 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।’

सीएसके से सूत्र ने कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि बीसीसीआई सही समय पर अच्छा फैसला करेगा।’ पिछले महीने, राजस्थान रॉयल्स के कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत बारठाकुर ने कहा था कि फ्रेंचाइज़ी केवल भारतीय खिलाड़ियों और कम मैचों के साथ आईपीएल के आयोजन के पक्ष में है। उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा था, ‘पहले हम सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल के बारे में नहीं सोच सकते थे, लेकिन अब हमारे पास खिलाड़ियों को चुनने का काफी विकल्प है। आईपीएल सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ होना ही बेहतर है।’

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर