IND vs NZ XI: ओपनर्स ने डुबोई लुटिया, संकटमोचक बने पुजारा और विहारी

India vs New Zealand XI, Practice Match: ओपनर्स के फ्लॉप प्रदर्शन के बाद चेतेश्‍वर पुजारा और हनुमा विहारी ने दमदार पारियां खेलकर भारत को सम्‍मानजनक स्‍कोर तक पहुंचाया। विहारी ने शतक जमाया।

hanuma vihari
हनुमा विहारी 

मुख्य बातें

  • हनुमा विहारी ने शतक पूरा किया और फिर रिटायर्ड हर्ट हुए
  • चेतेश्‍वर पुजारा 7 रन से शतक पूरा करने से चूक गए
  • भारत के तीनों ओपनर्स हुए फ्लॉप, पंत और साहा ने भी किया निराश

हैमिल्‍टन: हनुमा विहारी (101) के शतक और चेतेश्‍वर पुजारा (93) की बदौलत भारतीय टीम ने शुक्रवार से न्‍यूजीलैंड एकादश के खिलाफ शुरू हुए तीन दिवसीय अभ्‍यास मैच में सम्‍मानजनक स्‍कोर बनाया। टीम इंडिया की पहली पारी पहले दिन 78.5 ओवर में 263 रन पर ऑलआउट हुई। इस समय अंपायर्स ने स्‍टंप्‍स की घोषणा की। भारतीय टीम के लिए अभ्‍यास मैच के पहले दिन इन दो बल्‍लेबाजों के प्रदर्शन के अलावा कुछ भी सकारात्‍मक पहलू नहीं रहा।

ओपनर्स निकले फिसड्डी

पहले बल्‍लेबाजी करने उतरी भारत की शुरुआत बहुत खराब रही। 5 रन के स्‍कोर पर टीम इंडिया ने अपने तीनों प्रमुख विकेट गंवा दिए। पृथ्‍वी शॉ आउट होने वाले पहले बल्‍लेबाज रहे। पारी के पहले ओवर में स्‍कॉट कुजलेजिन की गेंद पर शॉ ने रवींद्र को आसान कैच थमाया और पवेलियन लौट गए। वह खाता नहीं खोल पाए। दूसरे ओपनर मयंक अग्रवाल (1) को कुजलेजिन ने अपना दूसरा शिकार बनाया। अग्रवाल का कैच विकेटकीपर क्‍लीवर ने लपका। शुभमन गिल को कुजलेजिन ने पहली ही गेंद पर सीफर्ट के हाथों झिलवाकर भारत को तीसरा झटका दिया। इसके बाद चेतेश्‍वर पुजारा और अजिंक्‍य रहाणे (18) ने चौथे विकेट के लिए 33 रन जोड़े, लेकिन नीशम की गेंद पर ब्रूस को कैच थमाकर रहाणे भी पवेलियन लौट गए।

रहाणे-विहारी बने संकटमोचक

38/4 के स्‍कोर पर मुश्किल में घिरी भारतीय टीम के संकटमोचक बने चेतेश्‍वर पुजारा और हनुमा विहारी। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 195 रन की साझेदारी करके भारत को 200 रन के पार लगाया। रहाणे और विहारी ने कई आकर्षक शॉट्स खेले और कीवी गेंदबाजों को विकेट के लिए तरसा दिया। पुजारा अपने शतक से केवल 7 रन दूर थे तब गिब्‍सन की गेंद पर वह क्‍लीवर को कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। इसी के साथ यह साझेदारी भी टूट गई। जल्‍द ही हनुमा विहारी शतक पूरा करने के बाद रिटायर्ड हो गए। पुजारा ने 211 गेंदों में 11 चौके और एक छक्‍के की मदद से 93 रन बनाए। वहीं विहारी ने 182 गेंदों में 10 चौके और तीन छक्‍के की मदद से 101 रन बनाए।

ताश के पत्‍तों की तरह ढहा बल्‍लेबाजी क्रम

विहारी के रिटायर्ड होते ही भारतीय निचलाक्रम बुरी तरह लड़खड़ा गया और देखते ही देखते टीम 263 रन पर ढेर हो गई। भारतीय टीम के निचले क्रम को समेटने की जिम्‍मेदारी लेग स्पिनर ईश सोढ़ी ने उठाई। रिषभ पंत (7) को सोढ़ी ने कुजलेजिन के हाथों कैच आउट करा दिया। रिद्धिमान साहा को गिब्‍सन ने खाता भी नहीं खोलने दिया और क्‍लीवर के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद सोढ़ी ने रविचंद्रन अश्विन को खाता नहीं खोलने दिया और एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। रवींद्र जडेजा (8) को सोढ़ी ने अपना तीसरा शिकार बनाया। न्‍यूजीलैंड एकादश की तरफ से स्‍कॉट कुजलेजिन और रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन विकेट लिए। जैक गिब्‍सन को दो जबकि जिमी नीशम को एक सफलता मिली।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर