Birthday Special: 'द वॉल' की सिफारिश पर हुई थी टीम इंडिया में एंट्री, अब मचा रहा है धमाल

टीम इंडिया के युवा बल्लेबाज केएल राहुल अपना 28वां जन्मदिन मना रहे हैं। जानिए वो कैसे उतार-चढ़ाव भरे शुरुआती करियर के बाद वो कैसे टीम इंडिया के नए बाजीगर बन गए हैं।

KL Rahul
KL Rahul 

मुख्य बातें

  • 18 अप्रैल 1992 को बेंगलुरु में हुआ था केएल राहुल का जन्म
  • दिसंबर 2014 में धोनी की कप्तानी में किया था टेस्ट डेब्यू
  • तीनों फॉर्मेट में शतक जड़ने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कहर के कारण क्रिकेट सहित सभी खेलों के मैदान खाली पड़े हैं। आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। ऐसे में लॉकडाउन के बीच टीम इंडिया के युवा बल्लेबाज केएल राहुल अपना 28वां जन्मदिन मना रहे हैं। 6 साल पहले राहुल द्रविड़ की सिफारिश के बाद टीम इंडिया में एंट्री करने वाले राहुल को साल 2014 में ऑस्ट्र्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू का मौका मिला था। 6 साल बाद करियर में उतार चढ़ाव के बाद उन्हें धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में भी देखा जा रहा है। 

बन गए हैं बाजीगर 
बॉलीवुड फिल्म बाजीगर का डायलॉग 'हारकर जीतने वाले को बाजीगर' करते हैं ये राहुल पर सटीक बैठता है। करियर की शुरुआत उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ करियर के दूसरे टेस्ट में शतक जड़कर की थी लेकिन उसके बाद उनके करियर में बहुत उतार चढ़ाव देखने को मिला। उन्हें देश के सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में से एक माना जाता है लेकिन वो अपनी प्रतिभा के साथ पूरी तरह न्याय नहीं कर सके। शुरुआती 6 टेस्ट मैच में 3 शतक जड़कर उन्होंने अच्छे भविष्य के संकेत तो दे दिए थे लेकिन उन्हें टीम में अपनी जगह पक्की करने और वनडे डेब्यू के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। 

तीनों फॉर्मेट में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय
केएल राहुल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तीनों फॉर्मेट में तक जड़ने वाले दूसरे भारतीय बने थे। उनके नाम बतौर ओपनर पहले वनडे और टेस्ट में शतक जड़ने का रिकॉर्ड दर्ज है। करियर के पहले टेस्ट में  मिडिल ऑर्डर में नाकाम रहने के बाद दूसरे टेस्ट में उन्होंने पारी की शुरुआत करते हुए शतक जड़ा था। इसके बाद साल 2016 में जिंबाब्वे के खिलाफ पहला वनडे खेलते हुए राहुल ने शतक जड़ा था। 

भारी पड़ा था कॉफी विद करन विवाद
साथी खिलाड़ी हार्दिक पांड्या के साथ कॉफी विद करण शो में महिलाओं के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने के बाद केएल राहुल और हार्दिक पांड्या को टीम से सस्पेंड कर दिया गया था। ऐसे में इस विवाद के तूल पकड़ने के बाद वो बुरी तरह टूट गए थे और 14 दिन घर के अंदर बंद रहे। उन्हें करियर खत्न होने का भी डर सताने लगा था। अंत में उन्हें बिना किसी शर्त माफी मांगनी पड़ी और तब ये विवाद थमा। इसके बाद वो अपने खेल को लेकर गंभीर हो गए और उनके करियर का भी कायाकल्प हो गया। 

माना जा रहा है धोनी का उत्तराधिकारी
केएल राहुल को रिषभ पंत के बल्ले से असफल रहने के कारण टी20 में हाल ही में विकेटकीपिंग करने को कहा गया। जहां वो बल्ले के साथ-साथ दस्तानों से सफल रहे। ऐसे में उन्हें टीम में धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में भी देखा जाने लगा है। वो धोनी की टीम इंडिया में वापसी में सबसे बड़ी बाधा बन रहे हैं। संयोगवश धोनी ने अपने करियर के आखिरी टेस्ट मैच में राहुल को टेस्ट कैप दी थी।  

टी20 में जड़ा सबसे तेज अर्धशतक
केएल राहुल ने किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए साल 2018 में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 14 गेदों में अर्धशतक जड़ा था। इस पारी के दौरान उन्होंने 4 चौके और 6 छक्के जड़े थे। 

अब तक ऐसा रहा है करियर
तकरीबन 6 साल लंबे करियर में अब तक टीम इंडिया के लिए राहुल ने 36 टेस्ट, 32 वनडे और 42 टी20 खेले हैं। इस दौरान उन्होंने टेस्ट में 5 शतक,11 अर्धशतक की मदद से 2006 रन बनाए हैं। वहीं 32 वनडे में 4 शतक और 7 अर्धशतकों की मदद से 1239 रन बनाने में सफल रहे हैं। वहीं टी20 इंटरनैशनल में वो 2 शतक और 11 अर्धशतक सहित कुल 1461 रन बना चुके हैं। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर