रेलवे के इस गेंदबाज ने 41 बार की रणजी ट्रॉफी चैंपियन मुंबई के होश उड़ा दिए

Mumbai vs Railways, Ranji Trophy: बुधवार को रणजी ट्रॉफी 2019-20 के तीसरे राउंड के मैच शुरू हुए और सबसे ज्यादा बार रणजी ट्रॉफी खिताब जीतने वाली मुंबई की टीम को पहले दिन करारे झटके लगे।

Ranji Trophy
Ranji Trophy (representative pic)  |  तस्वीर साभार: IANS

मुंबई: बुधवार को जब भारत के प्रतिष्ठित टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी 2019-20 के तीसरे राउंड का आगाज हुआ, तो एक अजीब नजारा देखने को मिला। रणजी ट्रॉफी खिताब को रिकॉर्ड 41 बार जीतने वाली मुंबई की टीम अपने ही घर में दिग्गजों की मौजूदगी के बावजूद कुल 114 रनों पर सिमट गई। शायद ये इस टूर्नामेंट के इतिहास का पहला मौका था जब मुंबई की दिग्गज टीम लंच से पहले ही सिमट गई। टीम में अजिंक्य रहाणे, पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव जैसे कई धुरंधर मौजूद थे लेकिन रेलवे की टीम ने मुंबई को शर्मिंदा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इसका सबसे बड़ा श्रेय गया टी प्रदीप को।

तमाम दिग्गज खिलाड़ियों से सजी मुंबई की टीम को रेलवे ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप बी के मैच के शुरुआती दिन हैरान परेशान कर दिया। रेलवे के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर का तीसरा मैच खेल रहे टी प्रदीप ने 10.3 ओवर में 37 रन देकर 6 विकेट चटका दिए। दायें हाथ के इस मध्यम गति के तेज गेंदबाज का रणजी में ये बेस्ट प्रदर्शन साबित हुआ है। मुंबई की टीम कुल 28.3 ओवर में 114 रनों पर सिमटी जिस दौरान उनके कप्तान सूर्यकुमार यादव ने सबसे ज्यादा 39 रन बनाए।

कौन हैं टी प्रदीप?

कर्नाटक के 25 वर्षीय खिलाड़ी टी प्रदीप ने इसी बार अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर का आगाज किया। 29 नवंबर 1994 को जन्मे प्रदीप ने जनवरी 2017 में इंटर स्टेट टी20 टूर्नामेंट से अपने करियर का आगाज किया था। इसके बाद 2016-17 की विजय हजारे ट्रॉफी में उन्होंने घरेलू वनडे (लिस्ट-ए) करियर का आगाज किया और कुछ ही हफ्ते पहले 9 दिसंबर 2019 को उन्होंने रेलवे के लिए खेलते हुए रणजी ट्रॉफी के जरिए अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की शुरुआत की। पहले मैच में उत्तर प्रदेश के खिलाफ उन्होंने 2 विकेट लिए, उसके बाद सौराष्ट्र के खिलाफ दूसरे मैच में फिर से 2 विकेट चटकाए लेकिन बुधवार को उन्होंने अपने कप्तान व टीम मैनेजमेंट के उनको खिलाने के फैसले को सही साबित करते हुए 6 विकेट चटका दिए।

मुंबई के गेंदबाजों ने भी दिया जवाब, अरिंदम-कर्ण ने संभाला

मुंबई ने भी दिन का खेल खत्म होने तक करारा जवाब दिया। दीपक शेट्टी (20 रन पर तीन विकेट) की अगुवाई में रेलवे के पांच बल्लेबाजों को 43 रन तक पवेलियन भेज दिया था लेकिन कप्तान कर्ण शर्मा (नाबाद 24) और अरिंदम घोष (नाबाद 52) ने छठे विकेट के लिए 73 रन की अटूट साझेदारी कर दिन का खेल खत्म होने तक रेलवे को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। खराब रोशनी के कारण दोपहर बाद तीन बजकर 54 मिनट पर खेल रोकना पड़ा। स्टंप्स के समय रेलवे ने पांच विकेट पर 116 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर मुंबई पर दो रन की बढ़त कायम कर ली है।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर