कप्तान फॉफ डुप्लेसी ने क्यों कहा- भारत सीरीज जीतने का हकदार था

क्रिकेट
Updated Oct 13, 2019 | 17:41 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फॉफ डुप्लेसी ने कहा कि भारत को स्वदेश में हराना बेहद मुश्किल है। उन्होंने कहा कि भारत सीरीज जीतने का हकदार था।

Faf du Plessis
फाफ डुप्लेसिस (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • दक्षिण अफ्रीका ने भारत ने के खिलाफ टेस्ट सीरीज गंवा दी
  • दक्षिण अफ्रीका को दूसरे टेस्ट में करारी शिकस्त मिली
  • दक्षिण अफ्रीकी कप्तान डुप्लेसी ने कहा कि भारत को स्वदेश में हराना बेहद मुश्किल

पुणे: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को दूसरे टेस्ट में हराकर तीन मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को दूसरे टेस्ट में चौथे ही दिन रविवार को एक पारी और 137 रन से मात दी। पुणे टेस्ट गंवाने के बाद दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फॉफ डुप्लेसी ने कहा कि भारत सीरीज जीतने का हकदार था। उन्होंने कहा, 'उन्हें स्वदेश में हराना बेहद मुश्किल है और रिकार्ड इसका गवाह है। हम जानते हैं कि उप महाद्वीप में आपकी पहली पारी महत्वपूर्ण होती है। अच्छे स्कोर से आपकी संभावना बन जाती है।'

डुप्लेसी ने कहा, 'लेकिन जिस तरह से भारत ने बल्लेबाजी की विशेषकर विराट (नाबाद 254 रन) का दोहरा शतक। इसके लिये काफी मानसिक मजबूती चाहिए। दो दिन तक मैदान पर क्षेत्ररक्षण करने से आप थक सकते हो। विशेष दूसरे दिन शाम को बल्लेबाज मानसिक रूप से कमजोर थे।' 

टेस्ट मैच में स्पिनर के बजाय अतिरिक्त तेज गेंदबाज उतारने के बारे में उन्होंने कहा, 'इस पिच के लिहाज से यह सही फैसला था। वर्नोन फिलैंडर और कैगिसो रबाडा ने पहले कुछ दबाव बनाया लेकिन हमें एक और गेंदबाज की जरूरत थी जो दबाव बना सके। एक युवा तेज गेंदबाज (एनरिच नोर्जे) जो पदार्पण कर रहा हो उससे यह बहुत उम्मीद लगाना अनुचित है। भारत ने अच्छी गेंदबाजी की।'

गौरतलब है कि फॉलोऑन खेलते हुए दक्षिण अफ्रीकी टीम 67.2 ओवर में 189 रन पर ढेर हो गई थी। भारतीय ने दक्षिण अफ्रीका को पहली बार फॉलोऑन दिया था। भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी 5 विकेट पर 601 रन पर घोषित कर दी थी। इसके बाद मेहमान टीम को पहली पारी में 275 रन पर ढेर करके 326 रन की बढ़त बनाई थी। दक्षिण अफ्रीका को 2008 के बाद किसी टेस्ट सीरीज में फॉलोऑन खेलने पर मजबूर करने वाली भारत पहली टीम बन गई है। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर