'टी20 विश्व कप 2021 से पहले इस्तीफा देना बुजदिली', मिस्बाह उल हक और वकार यूनुस पर जमकर बरसे शोएब अख्तर

Shoaib Akhtar on Misbah-ul-Haq and Waqar Younis: मिस्बाह उल हक और वकार यूनुस के अचानक इस्तीफे पर क्रिकेट जगत में काफी चर्चा हो रही है। अब शोएब अख्तर ने दोनों के इस्तीफे पर अपनी राय का इजहार किया है।

Shoaib Akhtar on  Misbah and Waqar
मिस्बाह उल हक, वकार यूनुस और शोएब अख्तर  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • मिस्बाह उल हक और वकार यूनुस ने इस्तीफा दे दिया है
  • मिस्बाह पाकिस्तान के हेड कोच और वकार बॉलिंग कोच थे
  • दोनों के इस्तीफे पर शोएब अख्तर ने रिएक्ट किया है

पूर्व कप्तान रमीज राजा का जैसे ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के नया चेरयमैन बनाने तय हुआ, तभी हेड कोच मिस्बाह उल हक और बॉलिंग कोच वकार यूनुस ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। टी20 विश्व कप 2021 से कुछ वक्त पहले  मिस्बाह और वकार के इस कदम ने कई लोगों को चौंका दिया है। वहीं, पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने मिस्बाह और वकार इस तरह अचानक इस्तीफा दोने को 'बुजदिली' करार दिया है। अख्तर ने कहा कि राजा ने चेरयमैन के रूप में पदभार संभालने के साथ ही शायद दोनों को पद छोड़ने के लिए कहा होगा ताकि वह अपनी टीम के लिए रास्ता बना सकें।

'मिस्बाह-वकार ने मर्जी से नहीं छोड़ा'

अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, 'मुझे नहीं लगता कि मिस्बाह और वकार ने अपनी मर्जी से इस्तीफा दिया है। ऐसा करने का आदेश हाईएस्ट अथॉरिटी से आया है। पीसीबी सीईओ वसीम खान के साथ-साथ को लेकर भी बुरी खबर आ सकती है। मुझे नहीं लगता कि वह अपनी नौकरी बचा पाएंगे। मुझे लगता है कि उनका दुखद अंत हो सकता है क्योंकि एक नया चेरमैन अपनी टीम लेकर आता है। देखते हैं कि आगे क्या होगा। रमीज राजा को अपनी टीम लाने और अपने आइडिया को लागूं करने का पूरा अधिकार है। उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट की बेहतरी के लिए किसी को भी रखने और बाहर निकालने हक है।'

'अगर मैं उनकी जगह होता तो लड़ता'

हालांकि, रावलपिंडी एक्सप्रेस  ने कहा कि मिस्बाह और वकार को इस बात का ख्याल रखत हुए लड़ना चाहिए था कि टी20 विश्व कप के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है। अख्तर ने कहा, 'अगर मैं मिस्बाह की जगह होता तो लड़ता। मैं उनसे कहता कि मेरा इस्तीफा मांगिए, मैं खुद छोड़कर नहीं जाऊंगा। टी20 विश्व कप के करीब आने पर इस्तीफा देने का कोई मतलब नहीं। मेरे अनुसार, यह एक बुजदिली वाला कदम है। पाकिस्तान क्रिकेट को आपकी जरूरत है। अगर आपको डर है कि विश्व कप का दबाव आप पर पड़ेगा, तो यह गलत है।'

'पाकिस्तान क्रिकेट के लिए अच्छी खबर नहीं'

46 वर्षीय अख्तर ने कहा, 'यह पाकिस्तान क्रिकेट के लिए अच्छी खबर नहीं है, क्योंकि टॉप मैनेजमेंट अचानक छोड़ देना बहुत अजीब बात है। अगर मैं उनकी जगह होता तो मैं हालत से कभी नहीं भागता। मैं वहीं रहता और पीछे नहीं हटता' बता दें कि मिस्बाह और वकार को सितंबर 2019 में नियुक्त किया गया था और उनका अनुबंध का अभी भी एक-एक साल बाकी था।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर