सरफराज खान ने तिहरा शतक जमाकर रचा इतिहास, 10 साल का सूखा किया खत्‍म

Sarfaraz Khan hits triple ton in Ranji Trophy: सरफराज खान ने अपनी पुरानी टीम उत्‍तर प्रदेश के खिलाफ रणजी ट्रॉफी 2019-20 के मैच में 301* रन बनाकर मुंबई की मैच में वापसी कराई।

sarfaraz khan
सरफराज खान 

मुख्य बातें

  • सरफराज खान रणजी ट्रॉफी में तिहरा शतक जमाने वाले मुंबई के सातवें बल्‍लेबाज बने
  • सरफराज खान ने नाबाद 301 रन बनाकर मुकाबला ड्रॉ कराया
  • सरफराज खान ने पिछले सीजन में मुंबई आने से पहले उत्‍तर प्रदेश का प्रतिनिधित्‍व किया था

मुंबई: युवा भारतीय बल्‍लेबाज सरफराज खान ने अपने करियर का पहला रणजी ट्रॉफी तिहरा शतक जमाया। सरफराज ने बुधवार को तिहरा शतक जमाते हुए उत्‍तर प्रदेश के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम पर मुंबई क्रिकेट टीम की वापसी कराई। सरफराज रणजी ट्रॉफी में तिहरा शतक जमाने वाले मुंबई के सातवें बल्‍लेबाज बने। इससे पहले सुनील गावस्‍कर, संजय मांजरेकर, वसीम जाफर, रोहित शर्मा, विजय मर्चेंट और अजित वाडेकर ही य‍ह कमाल कर सके हैं।

इसी के साथ सरफराज खान ने 10 साल का सूखा भी खत्‍म किया। सरफराज से पहले रोहित शर्मा ने 2009 में मुंबई की तरफ से तिहरा शतक जमाया था। मुंबई के क्रिकेट इतिहास में यह आठवां मौका है जब बल्‍लेबाज ने तिहरा शतक जमाया हो। अनुभवी बल्‍लेबाज वसीम जाफर मुंबई के एकमात्र बल्‍लेबाज हैं, जिन्‍होंने दो तिहरे शतक जड़े हैं। 

सरफराज खान ने 301* रन बनाए, जो छठे नंबर पर बल्‍लेबाजी करने वाले बल्‍लेबाज द्वारा प्रथम श्रेणी क्रिकेट में बनाया दूसरा सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर है। इससे पहले करुण नायर ने 2014-15 रणजी ट्रॉफी में वानखेड़े स्‍टेडियम पर ही छठे क्रम पर बल्‍लेबाजी करते हुए 328 रन बनाए थे। मुंबई की टीम उत्‍तर प्रदेश के विशाल 625 रन के स्‍कोर के सामने एक समय दबी हुई नजर आई जब 128 रन के स्‍कोर पर उसके चार विकेट गिर गए थे।

हालांकि, सरफराज खान और सिद्धेश लाड ने मुंबई को संभालते हुए 210 रन की साझेदारी की। सरफराज खान ने 391 गेंदों में 30 चौके और 8 छक्‍के की मदद से नाबाद 301 रन बनाए। मुंबई ने उत्‍तर प्रदेश पर 63 रन की बढ़त बनाते हुए मुकाबला ड्रॉ कराया। मुंबई के कप्‍तान आदित्‍य तारे ने भी 97 रन की उम्‍दा पारी खेली जबकि ऑलराउंडर शम्‍स मुलानी ने तेजतर्रार 65 रन बनाए।

उल्‍लेखनीय है कि सरफराज खान ने अपनी पुरानी रणजी टीम उत्‍तर प्रदेश के खिलाफ तिहरा शतक जमाया। मुंबई के रहने वाले सरफराज खान ने पिछले सीजन की शुरुआत से पहले उत्‍तर प्रदेश का प्रतिनिधित्‍व किया था। सरफराज ने मंगलवार को अपना शतक पूरा करने के बाद मिड-डे से बातचीत में कहा था, 'एमसीए को धन्‍यवाद देना चाहता हूं कि उन्‍होंने मुझे दोबारा मौका दिया। मैं बहुत खुश हूं। शतक लंबे समय से इंतजार कर रहा था। मुझे खुशी है कि मुंबई के लिए अपना पहला शतक जमाया।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'मेरे पिता (कोच नौशाद खान) का फैसला था कि मैं उत्‍तर प्रदेश के लिए खेलूं। मुझे याद है कि जब मुंबई छोड़कर यूपी रणजी टीम की पैकिंग कर रहा था तो बहुत रोया था क्‍योंकि मुंबई से मुझे बहुत प्‍यार है। मुझे उम्‍मीद नहीं थी कि दोबारा कभी मुंबई के लिए खेल पाउंगा। मुझे अभी भी विश्‍वास नहीं हो रहा है कि वापसी करके मुंबई के लिए खेल रहा हूं। यह सपने के जैसा है।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर