विक्रम राठौड़ को 'हिटमैन' पर भरोसा, रोहित शर्मा से टेस्‍ट में भी बेस्‍ट प्रदर्शन की उम्‍मीद

क्रिकेट
Updated Sep 17, 2019 | 16:55 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

राठौड़ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली में दूसरे टी20 इंटरनेशनल मैच से पहले कहा, रोहित शर्मा बहुत अच्‍छे खिलाड़ी हैं, जो तीनों प्रारूपों में नहीं खेल पा रहे हैं। यह हर कोई सोच रहा है।

rohit sharma
रोहित शर्मा 

मुख्य बातें

  • रोहित शर्मा सफेद गेंद क्रिकेट के महान बल्‍लेबाजों में से एक हैं, लेकिन टेस्‍ट करियर में चढ़ाव-उतार आता रहा
  • रोहित को एक बार फिर टेस्‍ट में मौका मिला है, इस बार व‍ह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्‍ट में ओपनिंग करेंगे
  • राठौड़ ने कहा कि रोहित में विदेश में भी सफल होने की क्षमता है

मोहाली: टीम इंडिया के नए बल्‍लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ का मानना है कि रोहित शर्मा बहुत अच्‍छे खिलाड़ी हैं, जो तीनों प्रारूपों में नहीं खेल रहे हैं। राठौड़ ने भरोसा जताया कि रोहित शर्मा बतौर टेस्‍ट ओपनर सफल होंगे। भारतीय टीम के 'हिटमैन' को सफेद गेंद क्रिकेट के दिग्‍गज बल्‍लेबाजों में से एक माना जाता है, लेकिन उनका टेस्‍ट करियर ज्‍यादा प्रभावी नहीं रहा है। अब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टेस्‍ट सीरीज में रोहित को अपने आप को साबित करने का मौका मिला है और वह इसमें ओपनर की नई भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे।

राठौड़ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली में दूसरे टी20 इंटरनेशनल मैच से पहले कहा, 'रोहित शर्मा बहुत अच्‍छे खिलाड़ी हैं, जो तीनों प्रारूपों में नहीं खेल पा रहे हैं। यह हर कोई सोच रहा है। उन्‍होंने ओपनर के रूप में सीमित ओवर क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है तो इसमें कोई कारण नहीं कि वह बतौर टेस्‍ट ओपनर क्‍यों नहीं सफल होंगे। उन्‍हें पर्याप्‍त मौके मिलेंगे। अगर रोहित टेस्‍ट ओपनर के रूप में सफल होते हैं तो फिर टीम को बहुत फायदा मिलेगा।'

32 साल के रोहित शर्मा को घरेलू जमीन पर टेस्‍ट में ओपनिंग करने का मौका मिला है, लेकिन लोगों का मानना है कि वह विदेश में लाल गेंद क्रिकेट में सफल नहीं हो पाएंगे। राठौड़ ने इस पर कहा कि मुंबई के बल्‍लेबाज में वह कला है कि वह विदेशों में भी सफल हो सकते हैं। नए बल्‍लेबाजी कोच ने कहा, 'इस पल तो मुझे यह भी नहीं पता कि पहले टेस्‍ट की अंतिम एकादश क्‍या होने वाली है। यह भी नहीं पता कि रोहित शर्मा को ओपनिंग का मौका मिलेगा भी या नहीं। मगर रोहित को अगर ओपनिंग का मौका मिलता है और वह बेहतर प्रदर्शन करता है तो विदेशों में भी बेहतर प्रदर्शन करने में सक्षम होगा।'

बता दें कि रोहित शर्मा ने सीमित ओवर क्रिकेट में 10,000 से ज्‍यादा रन बनाए हैं, लेकिन वह अब तक सिर्फ 27 टेस्‍ट खेल सके हैं, जिसमें तीन शतक व 10 अर्धशतकों की मदद से 1585 रन बनाए हैं। 

इसके अलावा रिषभ पंत समेत युवाओं को भी बल्‍लेबाजी कोच ने एक संदेश दिया है। राठौड़ ने कहा कि हमने भारतीय टीम के युवाओं को स्‍पष्‍ट संदेश दिया है कि उन्‍हें बेपरवाह और लापरवाह खेल के बीच अंतर समझने की जरूरत है।  उन्‍होंने कहा, 'हम कभी तकनीक पर ध्‍यान देते हैं। मगर इस स्‍तर पर मानसिकता अहम होती है। अपनी रणनीति सही ढंग से लागू करनी होती है। रिषभ पंत की जहां तक बात है तो वह शानदार खिलाड़ी है, लेकिन उसे अपनी रणनीति को स्‍पष्‍ट करना होगा। उसे अनुशासन दिखाने की जरूरत है।'

यह पूछने पर कि पंत से टीम को किस तरह की उम्‍मीद है तो राठौड़ ने कहा, 'हम चाहते हैं कि वह नैसर्गिक शॉट खेले। इससे ही वह खास बनता है। वह प्रभाव छोड़ने वाला खिलाड़ी है, लेकिन इसके साथ ही लापरवाह नहीं हो सकते हो।'

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...