'कोई नहीं बोलता भाई टीम में आजा', जानिए रिषभ पंत ने ऐसा क्‍यों कहा

क्रिकेट
Updated Sep 08, 2019 | 18:35 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

रिषभ पंत अपने छोटे से करियर में उम्‍मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं। उन्‍होंने दावा किया कि मेहनम से भारतीय टीम में जगह हासिल की है और वह मैच दर मैच अपने खेल में सुधार कर रहे हैं।

rishabh pant
रिषभ पंत 

मुख्य बातें

  • रिषभ पंत भारतीय टेस्‍ट टीम में विकेटकीपर के रूप में पहली पसंद हैं
  • पंत को विश्‍व कप में शिखर धवन के चोटिल होने पर भारतीय टीम में शामिल किया गया था
  • पंत ने कहा कि वह अपने मेंटर एमएस धोनी से सीखते हुए सर्वश्रेष्‍ठ बनने की कोशिश में जुटे हैं

नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्‍लेबाज रिषभ पंत ने कहा है कि उन्‍होंने अपने दम पर राष्‍ट्रीय टीम में जगह पाई है न कि किसी ने उन्‍हें थाली में सजाकर यह भेंट की। हाल ही में एक इंटरव्‍यू में पंत ने दिग्‍गज महेंद्र सिंह धोनी से तुलना के बारे में भी अपने विचार प्रकट किए। इसके अलावा पंत ने विश्‍व कप 2019 और ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान टिम पैन के साथ मशहूर बैबी सिटर विवाद पर भी अपनी राय जाहिर की।

21 साल के पंत ने कहा, 'मैं भी कई बार एमएस धोनी के साथ तुलना के बारे में सोचता हूं, लेकिन यह काफी मुश्किल है। अगर मैं उनसे सीख रहा हूं तो एक दम से उन्‍हें पीछे छोड़ने के बारे में नहीं सोच सकता। मैं सिर्फ उनसे सीखने की कोशिश कर रहा हूं। मैं उन्‍हें अपना मेंटर मानता हूं। धोनी ने मुझे कई चीजें सिखाई हैं फिर चाहे वह मेरी बल्‍लेबाजी हो या फिर पिच पर जाने से पहले की मानसिकता। सबसे बड़ी बात कि उन्‍होंने मुझे दबाव की स्थिति में शांत रहना सिखाया है। 21 साल की उम्र में अगर मैं सोचूं कि धोनी की जगह भर सकता हूं, तो मेरे लिए काफी मुश्किलें खड़ी हो जाएंगी। मैं इसे आसान रखने की कोशिश करता हूं।'

पंत ने आगे कहा, 'मैं अपनी क्षमता के मुताबिक सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करना चाहता हूं। अपने सीनियर्स से सीखते हुए आगे बढ़ना चाहता हूं।' 2017 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू करने वाले पंत अब भारतीय टेस्‍ट में विकेटकीपर के रूप में पहली पसंद हैं। उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया और इंग्‍लैंड में शतक जमाए। हालांकि, पंत की पिछले कुछ समय में काफी आलोचना हुई क्‍योंकि वह खराब शॉट खेलकर अपना विकेट विरोधी टीम को भेंट करके आ गए। सीमित ओवर क्रिकेट में पंत का प्रदर्शन साधारण ही रहा है।

इस बारे में बात करते हुए पंत ने कहा कि उन्‍होंने अपनी मेहनत से राष्‍ट्रीय टीम में जगह पाई है न कि किसी ने उन्‍हें गिफ्ट में यह दी है। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने कहा, 'खिलाड़ी के लिए अच्‍छा है कि उसे जल्‍दी ब्रेक मिल जाए। मुझे कोई चीज मु्फ्त नहीं मिली है। मैंने कड़ी मेहनत की और भारतीय टीम में जगह पाई। किसी ने मुझे उपहार में यह नहीं दी। कोई नहीं बोलता कि भाई टीम में आजा। ऐसा नहीं होता है। अगर आप अच्‍छा प्रदर्शन नहीं करोगे तो चयन नहीं होगा। यह बहुत आसान है। हर किसी को टीम में अपनी जगह साबित करनी होती है।'

रिषभ पंत को उम्‍मीद नहीं थी कि वाइल्‍ड कार्ड एंट्री के रूप में उन्‍हें विश्‍व कप में जाने का मौका मिलेगा। उन्‍होंने कहा, 'मुझे उम्‍मीद नहीं थी कि विश्‍व कप के लिए वाइल्‍ड कार्ड एंट्री मिलेगी। मैंने उम्‍मीद जताई थी कि निर्धारित 15 सदस्‍यीय टीम में जगह मिलेगी। मैंने इसके लिए मेहनत की थी। विश्‍व कप में खेलना सपने के सच होने जैसा था, लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि इस तरह मौका मिलेगा। मैं खुश था। मुझे याद है कि अपने गृहनगर रूड़की में था जब‍ बीसीसीआई का कॉल आया कि तैयार रहना। आपको लंदन जाना पड़ सकता है, इसलिए दिल्‍ली में ही रहना। मैं मुस्‍कुराते हुए कहा कि दिल्‍ली में ही हूं। मुझे आभास हुआ कि विश्‍व कप के लिए कॉल आएगा।'

पंत ने इस साल की शुरुआत में काफी सुर्खियां बंटोरी थी जब वह ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान टिम पैन के साथ मजाकिया विवाद में उलझे थे। पैन ने कहा था कि तुम मेरे बच्‍चों के बैबीसिटर बनोगे। पंत ने बताया कि यह सब मजाकिया लहजे में हुआ था और इसके बाद बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान के परिवार के साथ फोटो भी खिंचवाए थे।

पंत ने कहा, 'मैं इस पर बहुत हंसा था। मुझे बिलकुल भी अंदाजा नहीं था कि वह मुझे ऐसा कहेंगे। वह मस्‍ती का हिस्‍सा था। जब मैं उनके परिवार से मिला तो उनकी मां ने मेरे साथ फोटो खिंचाया। उनकी पत्‍नी अपने दोनों बच्‍चों के साथ मेरे पास आईं और बोलीं कि एक फोटो ले सकते हैं। मैंने एक बच्‍चे को गोदी में उठाकर कहा भी कि मैं इनका बैबीसिटर बन सकता हूं। उन्‍होंने इसे इंस्‍टाग्राम पर पोस्‍ट किया, जो वायरल हो गया। वह मजाकिया लड़ाई थी। जो भी मैदान में हुआ, वो वही तक सीमित रहा।'

बकौल पंत, 'मुझे विवाद पसंद हैं। मैं शुरुआत नहीं करता, लेकिन अगर कोई मुझे कुछ बोले तो मैं सिर्फ सुनकर शांत नहीं रह पाता।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर