आज मैदान पर 2 नहीं 4 टीमें होंगी, 20 साल बाद होने जा रहा है कुछ खास 

क्रिकेट
Updated Nov 22, 2019 | 08:30 IST

Reunion of India vs Bangladesh First ever Test during Pink Ball Test: भारत और बांग्लादेश के बीच खेले जाने वाले पिंक बॉल टेस्ट से पहले क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में 20 साल पुरानी यादें ताजा हो जाएंगी।

IND vs BAN Pink ball test
IND vs BAN pink ball test( साभार BCCI)  |  तस्वीर साभार: Twitter

कोलकाता: भारत और बांग्लादेश की टीमें शुक्रवार को कोलकाता के इडेन गार्डन्स मैदान पर एक बार फिर ऐतिहासिक पल का गवाह बनने जा रही हैं। बांग्लादेश के क्रिकेट इतिहास में ये दूसरा मौका है जब वो भारत के खिलाफ क्रिकेट के नए अध्याय की शुरुआत करेगा। 10 नवंबर 2000 को बांग्लादेश ने भारत के खिलाफ ही ढाका में अपना पहला टेस्ट मैच खेला था। ऐसे में 19 साल या कहें दो दशक बाद एक बार फिर दोनों टीमें पिंक बॉल के साथ डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए आमने-सामने होंगी। दोनों ही टीमों के लिए यह पहला डे-नाइट टेस्ट होगा। 

इस मौके को यादगार बनाने के लिए बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन( कैब) और बीसीसीआई ने शानदार तरीके से तैयारी की है। बीसीसीआई अध्यक्ष बनने से पहले ही सौरव गांगुली ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को मैच देखने का न्यौता भेज दिया था। ऐसे में बीसीसीआई की कमान संभालने के बाद उन्होंने इस मैच को डे-नाइट मैच में तब्दील करने का अनुरोध बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड से किया जिसे उसने सहृदय स्वीकार कर लिया। ऐसे में दोनों देशों के बीच टेस्ट क्रिकेट के 20वें साल का जश्न पिंक बॉल टेस्ट के साथ स्पेशल अंदाज में मनाया जा रहा है। 

बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट में टीम इंडिया की कमान संभालने वाले सौरव गांगुली ने इस पल को और यादगार मनाने के लिए साल 2000 में खेले गए टेस्ट मैच में खेलने वाले सभी खिलाड़ियों को पिंक बॉल टेस्ट देखने के लिए आमंत्रित किया है। संयोगवश उस मैच में टीम की कप्तानी संभालने वाले विराट कोहली बतौर बीसीसीआई अध्यक्ष सबकी मेजबानी करेंगे। इस तरह मैच से पहले दोनों देशों की दो-दो टीमों सहित कुल 4 टीमें मैदान पर होंगी। 

बांग्लादेश के पहले टेस्ट मैच में खेलने वाले अधिकांश सदस्य शुक्रवार को कोलकाता के इडेन गार्डन्स में उपस्थित होंगे। अमीनुल इस्लाम और अल शहरयार को छोड़कर अन्य खिलाड़ियों के डे-नाइट टेस्ट का गवाह बनेंगे। अमीनुल इस्लाम उस मैच में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले खिलाड़ी थे। उन्होंने 145 रन की पारी खेली थी और अपनी टीम के पहले टेस्ट में शतक जड़ने वाले दुनिया के तीसरे बल्लेबाज बने थे। अमीनुल अब ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं और शहरयार न्यूजीलैंड में इसलिए वो मैच देखने नहीं आ सकेंगे। 

वहीं भारत की ओर से उस मैच में खेलने वाले खिलाड़ियों में से सभी को न्यौता भेजा है। बांग्लादेश के खिलाफ उस मैच में भारत के लिए ओपनर शिव सुंदर दास, विकेटकीपर सबा करीम और  जहीर खान ने डेब्यू किया था। उस मैच में खेलने वाले लगभग सभी खिलाड़ी शुक्रवार को वानखेडे़ स्टेडियम में उपस्थित रहेंगे। जवागल श्रीनाथ इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे टेस्ट मैच में मैच रेफरी की भूमिका निभा रहे हैं ऐसे में वो कोलकाता नहीं पहुंच सकेंगे। उनके अलावा सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले, वीवीएस लक्ष्मण, सदगोपन रमेश, सबा करीम, सुनील जोशी, अजीत आगरकर और वेंकटेश प्रसाद उपस्थित रहेंगे। जहीर खान की उपस्थिति के बारे में अभी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है। भारतीय खिलाड़ियों का नाम कार्यक्रम के विशेष अतिथियों में शामिल है। 

पहले टेस्ट का क्या रहा था रिजल्ट

भारत बांग्लादेश के बीच साल 2000 में खेले गए टेस्ट मैच को भारतीय टीम ने 9 विकेट से अपने नाम किया था। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश की टीम ने अमीनुल इस्लाम के शानदार शतक(145) की बदौलत 400 रन का स्कोर खड़ा किया था। सुनील जोशी पहली पारी में भारत के लिए सबसे सफल गेंदबाज रहे थे। ऐसे में भारतीय टीम ने सदगोपन रमेश(58), कप्तान सौरव गांगुली(82) और सुनील जोशी(92) की शानदार अर्धशतकीय पारियों की बदौलत 429 रन का स्कोर खड़ा करने में सफल रहा। नइमुर रहमान ने 6 विकेट लिए। इसके बाद दूसरी पारी में बांग्लादेश की टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी और महज 91 रन पर ढेर हो गई। सुनील जोशी और जवागल श्रीनाथ ने 3-3 विकेट लिए। इसके बाद जीत के लिए मिले लक्ष्य को भारतीय टीम ने 1 विकेट खोकर हासिल कर लिया। सुनील जोशी को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया था।  

दोनों टीमों के लिए खेले थे ये खिलाड़ी 

बांग्लादेश एकादश  
शहरयार हुसैन, मेहरान हुसैन, हबीबुल बशर, अमीनुल इस्लाम, अकरम खान, अल शहरयार, नैइमुर रहमान(कप्तान), खालिद मसूद, मोहम्मद रफीक, हसीबुल हुसैन, रंजन दास।

भारतीय एकादश  
शिव सुंदर दास,सदागोपन रमेश, मुरली कार्तिक, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, सबा करीम, सुनील जोशी, अजीत आगरकर, जवागल श्रीनाथ, जहीर खान।

अगली खबर
आज मैदान पर 2 नहीं 4 टीमें होंगी, 20 साल बाद होने जा रहा है कुछ खास  Description: Reunion of India vs Bangladesh First ever Test during Pink Ball Test: भारत और बांग्लादेश के बीच खेले जाने वाले पिंक बॉल टेस्ट से पहले क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में 20 साल पुरानी यादें ताजा हो जाएंगी।
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...