'इस खिलाड़ी के करियर में बस इतनी सी गलती हो गई', महान द्रविड़ का रैना को सलाम

क्रिकेट
भाषा
Updated Aug 18, 2020 | 18:56 IST

Rahul Dravid salutes Suresh Raina: पूर्व महान भारतीय खिलाड़ी राहुल द्रविड़ ने सुरेश रैना के संन्यास पर उनको सलाम किया और वो चूक भी बताई जिसकी वजह से रैना महान नहीं बन सके।

Rahul Dravid and Suresh Raina
Rahul Dravid and Suresh Raina 

नई दिल्ली: सुरेश रैना को ‘शानदार टीम मैन’ बताते हुए पूर्व दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने ये भी बताया कि आखिर इतना बेहतरीन खिलाड़ी होने के बावजूद रैना के आंकड़े काफी कुछ क्यों नहीं कहते। द्रविड़ के मुताबिक अगर रैना को शीर्ष क्रम पर बल्लेबाजी का मौका मिलता तो उन्होंने और अधिक रन बनाये होते। पूर्व कप्तान द्रविड़ ने सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारतीय टीम की सफलता में रैना के योगदान की तरीफ की।

तैतीस साल के बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने अपने मेंटर महेन्द्र सिंह धोनी के पदचिन्हों पर चलते हुए 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। रैना को एकदिवसीय और टेस्ट में ‘कैप’ देने वाले द्रविड ने उनकी जमकर प्रशंसा की। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट वीडियो में द्रविड ने कहा, ‘सीमित ओवरों के क्रिकेट में पिछले डेढ दशक में भारतीय टीम को जो सफलता , शानदार पल मिले उसमें सुरेश (रैना) ने बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। मुझे लगता है कि सफेद गेंद के क्रिकेट में उनका योगदान शानदार रहा है।’

वो एक विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी विजेता है

द्रविड़ ने कहा, ‘‘वह विश्व कप विजेता और चैंपियंस ट्रॉफी विजेता हैं। उसने मैदान पर काफी योगदान दिया। जिस तरह उसने क्षेत्ररक्षण के स्तर को ऊंचा किया उसमें उसकी ऊर्जा, उसका उत्साह कमाल का था।’’ मध्यक्रम के इस बल्लेबाज ने 13 साल के करियर में 18 टेस्ट, 226 एकदिवसीय और 78 टी20 अंतरराष्ट्रीय में भारत के लिए 8000 से अधिक रन बनाये है।

हर मुश्किल काम किया

राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी(एनसीए) के प्रमुख द्रविड ने कहा, ‘‘एक बात जो हमने हमेशा महसूस की, वह यह कि सुरेश ने हर मुश्किल काम किया।’’ द्रविड़ ने कहा, ‘‘अपने करियर के अधिकांश समय में उन्होंने निचले क्रम पर बल्लेबाजी की, मुश्किल स्थानों पर क्षेत्ररक्षण किया, कुछ अच्छे ओवर फेंके और हमेशा टीम को बहुत कुछ दिया। एक शानदार ‘टीम मैन’, जिसने हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ दिया। वह खेल में बहुत ऊर्जा लेकर आये और बहुत कुशल बल्लेबाज थे।’’

द्रविड़ ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो अगर उनका बल्लेबाजी क्रम ऊपर होता तो उनके आंकड़े काफी बेहतर होते, जैसे कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए उन्हें सफलता मिली है। आईपीएल के लिए वह एक अभूतपूर्व खिलाड़ी हैं।’’
रैना ने आईपीएल के 193 मैचों में 5368 रन बनाये है और वह इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में दूसरे स्थान पर है। पहले स्थान पर भारतीय कप्तान विराट कोहली है जिनके नाम 177 मैच में 5412 रन है।

वनडे में शानदार योगदान

द्रविड़ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि टेस्ट पदार्पण पर शतक लगाने के बाद वह इस प्रारूप में अपना बेहतर प्रदर्शन जारी नहीं रख पाये लेकिन वनडे क्रिकेट में उनका योगदान शानदार है। वह उस भारतीय टीम का हिस्सा रहे है जिसने पिछले डेढ़ दशक में काफी सफलता हासिल की है।’’ भारत के इस पूर्व कप्तान ने कहा कि रैना ने जूनियर क्रिकेट के दौरान ही अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया था। रैना ने संक्षिप्त समय के लिए भारतीय टीम का नेतृत्व भी किया था। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज और बांग्लादेश के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के अलावा जिम्बाब्वे के खिलाफ टी20 श्रृंखला में जीत दर्ज की थी।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर