कोरोना के कहर के बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने किए दो बड़े ऐलान 

क्रिकेट
आईएएनएस
Updated Apr 05, 2020 | 09:44 IST

कोरोना वायरस के कहर के बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों और देश में क्रिकेट गतिविधियों के बारे में दो बड़े ऐलान किए हैं।

Pakistan Cricket Board
Pakistan Cricket Board 

मुख्य बातें

  • रमजान में भी पाकिस्तान में नहीं खेली जाएगी किसी तरह की क्रिकेट
  • कोरोना के संक्रमण को देखते हुए पीसीबी ने आयोजकों के लिए नहीं जारी की पासीबी
  • जून तक खिलाड़ियों के वेतन में भी नहीं होगी किसी तरह की कटौती

लाहौर: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शनिवार को कहा कि कोरोनावायरस को रोकने के लिए रमजान के महीने में वह किसी भी तरह के क्रिकेट के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) जारी नहीं करेगा। पीसीबी ने एक बयान में कहा, कुछ आयोजनकर्ताओं ने हमसे संपर्क किया है, जोकि रमजान में क्रिकेट के लिए पीसीबी की एनओसी नीति पर हमसे स्पष्टीकरण मांग रहे हैं। इस समय यह उचित है कि हम अपनी उस नीति का पालन करें जिसमें कहा गया है कि स्थिति सामान्य होने तक क्रिकेट निलंबित रहेगा। ऐसे में पीसबी रमजान में क्रिकेट के लिए कोई एनओसी जारी नहीं करेगा।

बोर्ड ने कहा, इस समय पूरी दुनिया में स्थिति काफी भयानक हुई पड़ी है और सभी आर्थिक तथा खेल गतिविधियां रुकी हुई हैं और सभी का ध्यान केवल स्वास्थ्य पर है। पीसीबी अपने सभी आयोजनकर्ताओं से अपील करता है कि वे नियमों का पालन करें सामाजिक दूरी बनाएं रखे।

वेतन में नहीं होगी कटौती 
पीसीबी ने साफ यह भी साफ कर दिया है कि इस समय वह अपने खिलाड़ियों के वेतन में कटौती नहीं करेगा। पीसीबी के एक अधिकारी ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि कोरोनावायरस के कारण मौजूदा स्थिति की समीक्षा की जा रही है। लेकिन बोर्ड मौजूदा वित्तीय वर्ष में अपने खिलाड़ियों के वेतन में कटौती नहीं करेगा। पीसीबी का मौजूदा वित्तीय वर्ष 30 जून तक चलेगा।

अधिकारी ने कहा, हमारा वित्तीय वर्ष एक जुलाई से 30 जून तक चलता है। सभी खिलाड़ियों का अनुबंध (केंद्रीय और घरेलू) 30 जून तक है। 2019-20 वित्तीय वर्ष में खिलाड़ियों के वेतन में कटौती नहीं होगी। हमने इस बात को सुनिश्चित किया है कि खिलाड़ियों का मासिक वेतन बिना किसी देरी के मिले। पीसीबी करीबी से स्थिति पर नजर रख रहा है। पीसीबी से पहले, बीसीसीसीआई भी अपने खिलाड़ियों के वेतन में कटौती करने से इनकार कर चुका है।

इंग्लैंड के खिलाड़ी हुए वेतन कटौती के लिए राजी 
इस बीच, इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पुरुष और महिला खिलाड़ी अगले तीन महीने तक अपनी सैलरी में कटौती करवाने पर सहमत हो गए हैं। ये वे खिलाड़ी हैं, जिनका कि इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के साथ केंद्रीय अनुबंध है। प्रोफेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने घोषणा की कि ईसीबी ने खिलाड़ियों की सैलरी में 20 प्रतिशत कटौती का प्रस्ताव रखा था, जिसे खिलाड़ियों ने स्वीकार कर लिया है और अब पुरुष टीम के खिलाड़ी पांच लाख पाउंड दान करेंगे, जिसे कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जाएगा। पुरुष टीम के अलावा महिला टीम की खिलाड़ी भी अप्रैल, मई और जून की सैलरी में कटौती करवाएंगी।

अगली खबर