ENG vs WI: क्रिकेट के इस नियम में बदलाव चाहते हैं नासिर हुसैन, ICC से की अपील  

क्रिकेट
भाषा
Updated Jul 10, 2020 | 07:50 IST

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और कॉमेन्ट्रेटर नासिर हुसैन ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के बीच आईसीसी से क्रिकेट के इस नियम में बदलाव करने की अपील की है।

Nasir Hussain
Nasir Hussain 

मुख्य बातें

  • नासिर हुसैन ने आईसीसी से खराब रोशनी के नियमों में बदलाव करने की अपील की है
  • अंपायरों के विवेक पर फिलहाल निर्भर करता है खराब से जुड़ा नियम
  • पहले भी कई बार हो चुकी है खराब रोशनी के नियमों की आलोचना

साउथैम्पटन: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) खराब रोशनी से संबंधित अपने नियमों में बदलाव करे जिसकी वजह से इतने वर्षों से टेस्ट मैच प्रभावित हुए हैं। बुधवार को अधिकारियों ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच पहले टेस्ट के शुरूआती दिन के खेल को महज 17.4 ओवर खेलने के बाद खराब रोशनी और बारिश के कारण रद्द कर दिया। दूसरे दिन का खेल भी कई बार खराब रोशनी के कारण प्रभावित हुआ।

आईसीसी इसका फैसला पूरी तरह से अंपायरों पर छोड़ती है जो मिलकर फैसला करते हैं कि खराब रोशनी खेलने के लिये खतरनाक होगी या फिर इसमें खेलना अनुचित होगा। इंग्लैंड के लिये 96 टेस्ट में 5,764 रन बना चुके हुसैन को लगता है कि भले ही रोशनी थोड़ी खराब हो लेकिन शायद अंपायर खिलाड़ियों को लंबे समय तक खेलने के लिये रख सकते हैं।

हुसैन ने स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट पर कहा, 'यह एक ऐसी चीज है जिसकी आपको कोशिश करनी होगी और इस खेल में नये व्यक्ति को समझानी होगी। आप इतना सारा धन लाइट में खर्च करते हो, लाइट को चलाइये। इस मौके पर उन्होंने बारिश की वजह से ऐसा किया। यह ऐसी चीज है जिसे मैं चाहूंगा कि आईसीसी इसमें बदलाव करे।'

उन्होंने कहा, 'वे भले ही कह सकते हैं कि 'आप संन्यास ले चुके हो' और आंकड़ों की बात करते हो, लेकिन देखिये, लाइट अभी जली हुई हैं। अगर अभी बारिश नहीं हो रही तो शायद खिलाड़ी इस चीज को समझ सकते हैं कि खेल को खुद को बेचते रहना चाहिए और अगर आप रूक सकते हो तो रूके रहिये।'

खराब रोशनी के नियमों की पहले भी आलोचना हो चुकी है। पिछले साल जनवरी में एससीजी पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मैच के दौरान अंपायरों ने खराब रोशनी के कारण चौथे दिन का खेल रोक दिया था तब भी इन नियमों पर सवाल उठाये गये थे। 

एशेज 2013 में 227 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड को 24 गेंद में 21 रन की जरूरत थी और उसके पांच विकेट बाकी थे लेकिन अंपायरों ने खराब रोशनी के कारण मैच रोक दिया था।

अगली खबर