महेंद्र सिंह धोनी ने रांची के राजभवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से की मुलाकात

क्रिकेट
Updated Sep 30, 2019 | 08:57 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

भारत के राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद तीन दिवसीय झारखंड यात्रा पर हैं। उन्‍होंने रविवार को टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी से मुलाकात की।

ms dhoni and ram nath kovind
एमएस धोनी और रामनाथ कोविंद 

मुख्य बातें

  • धोनी ने राजभवन जाकर राष्‍ट्रपति कोविंद से मुलाकात की
  • राष्‍ट्रपति कोविंद की गुमला जिला की यात्रा रविवार को रद्द हुई क्‍योंकि उस क्षेत्र में भारी बारिश हो रही थी
  • हाल ही में एमएस धोनी को विधायक के साथ जेएससीए में बिलियर्ड्स खेलते हुए देखा गया था

रांची: टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी इस समय इंटरनेशनल क्रिकेट से ब्रेक पर चल रहे हैं और वह मैदान के बाहर अपनी गतिविधियों में खुद को व्‍यस्‍त रख रहे हैं।  हाल ही में धोनी झारखंड राज्‍य क्रिकेट एसोसिएशन (जेएससीए) में विधायक के साथ बिलियर्ड्स खेलते हुए दिखे थे। अब पूर्व भारतीय कप्‍तान ने रविवार को रांची के राजभवन में भारत के राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और उनके साथ डिनर किया। 

बता दें कि राष्‍ट्रपति कोविंद की रविवार को गुमला जिला में यात्रा थी। राष्‍ट्रपति इस समय तीन दिवसीय झारखंड दौरे पर हैं। बहरहाल, राष्‍ट्रपति की गुमला जिला की यात्रा भारी बारिश के कारण रद्द हुई और उन्‍हें राजभवन में ही रूकना पड़ा, जहां उनसे मिलने टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी पहुंचे। इससे पहले धोनी को जेएससीए स्‍टेडियम के इंडोर कैंपस में देखा गया था, जहां उन्‍होंने खुशनुमा समय बिताया था। 

इससे पहले धोनी को अमेरिका में गोल्‍फ का आनंद लेते हुए देखा गया था। माही विश्‍व कप 2019 में टीम इंडिया के बाहर होने के बाद से क्रिकेट एक्‍शन से दूर हैं। उन्‍होंने वेस्‍टइंडीज दौरे पर जाने से इनकार किया और इस बीच 15 दिन भारतीय आर्मी में अपनी सेवाएं दी। धोनी ने तब दो महीने का ब्रेक लिया था। फिर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हाल ही में संपन्‍न टी20 इंटरनेशनल सीरीज में भी धोनी ने हिस्‍सा नहीं लिया।

अब खबर है कि धोनी अपनी छुट्टियां नवंबर तक बढ़ा रहे हैं, जिसका मतलब यह है कि वह बांग्‍लादेश के खिलाफ आगामी तीन मैचों की टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैचों की सीरीज में भी हिस्‍सा नहीं लेंगे। सुनील गावस्‍कर और गौतम गंभीर जैसे कई पूर्व दिग्‍गज क्रिकेटरों ने धोनी के लगातार ब्रेक पर सवाल खड़े किए थे। पूर्व क्रिकेटरों का मानना है कि अगर किसी को भारत के लिए खेलना है तो उसे अपने खेलने वाली सीरीज का चयन नहीं करना चाहिए। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि चयनकर्ताओं और टीम प्रबंधन को धोनी से उनके भविष्‍य के बारे में बातचीत करनी चाहिए।

हाल ही में टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन ने भी धोनी के संन्‍यास पर अपनी राय प्रकट की थी। धवन ने कहा था कि माही भाई ने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है। उन्‍हें अपने संन्‍यास का फैसला खुद लेने देना चाहिए न कि किसी प्रकार की जल्‍दबाजी दिखानी चाहिए। धवन ने कहा, 'धोनी भाई ने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है। उन्‍हें हर खिलाड़ी की ताकत और कमजोरी पता है। धोनी भाई जानते हैं कि उन्‍हें कब संन्‍यास लेना है। इसलिए यह फैसला उन पर ही छोड़ देना चाहिए। धोनी भाई के रहने से टीम को फायदा होता है क्‍योंकि वह एक खिलाड़ी को चैंपियन बनाना जानते हैं।'

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...