पुणे के दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए एमएस धोनी ने दिया दान 

कोरोना वायरस की वजह से देश के सामने खड़े हुए मुश्किल दौर में देश के क्रिकेटर भी गरीबों की मदद के लिए आगे आए हैं। इस सूची में अब एमएस धोनी का नाम भी जुड़ गया है।

MS Dhoni
MS Dhoni ( COURSEY BCCI)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • लॉकडाउन के दौरान दिहाड़ी मजदूरों को जरूरी सामान मुहैया कराने वाली एनजीओ को धोनी ने दिया दान
  • पुणे में काम करती है ये एनजीओ, धोनी रहे सबसे ज्यादा राशि देना वाले
  • पुणे कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में से एक है जहां लंबे लॉकडाउन के बाद दिहाड़ी मजदूर परेशान हैं

पुणे: कोरोना वायरस के कहर से भारत के लोगों को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा कर दी। उनके इस ऐलान से सबसे ज्यादा प्रभावित देश का गरीब तबका यानी दिहाड़ी मजदूर हुआ। इस संकट की घड़ी में पूरा देश एक है और गरीबों की मदद के लिए जिससे जिस स्तर पर जो हो सकता है वो अपनी ओर से मदद कर रहा है। 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी पुणे में दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं। कोरोना वायरस से भारत में सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले शहरों में पुणे भी शामिल है। यहां अब तक कोरोना वायरस के 15 मामले सामने आ चुके हैं ऐसे में शहर पिछले कई दिनों से लॉकडाउन का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान धोनी ने गरीबों को दैनिक उपयोग और खाने-पीने की आवश्यक चीजें मुहैया कराने के लिए दान दिया है। 

धोनी ने 1 लाख रुपये का दान पुणे की एक एनजीओ को दिया है जिसने पुणे में कई परिवारों की पहचान की है जिनकी धोनी द्वारा दान में दी गई राशि के जरिए मदद की जाएगी। एक किट जिसमें दैनिक उपयोग की चीजें जैसे कि साबुन, दाल, चावल, आटा, अनाज, दालें, पोहा, बिस्कुट, चाय, शक्कर और मसाले होंगे, गरीब लोगों में बांटी जाएगी। 

एमएस धोनी की पत्नी साक्षी ने अपने इन्स्टाग्राम पर एक पोस्ट डालकर लोगों से इस फाउंडेशन को दान देने की अपील की है। ताकि वो पुणे में रह रहे गरीब दिहाड़ी मजदूरों की मदद कर सके। धोनी अब तक इसमें सबसे ज्यादा राशि दान करने वाले व्यक्ति हैं इस एनजीओ ने मजदूरों की मदद के 12.5 लाख रुपये एकत्रित करने का लक्ष्य रखा है। धोनी की दान देने के बाद लोग इस एनजीओ की मदद के लिए आगे आए और फाउंडेशन तकरीबन 12 लाख रुपये लोगों की मदद के लिए जुटाने में कामयाब रहा। 

धोनी के अलावा अन्य भारतीय क्रिकेटर भी संकट की इस घड़ी में लोगों की मदद कर रहे हैं। जहां बड़ौदा में पठान बंधु( इरफान और यूसुफ पठान) ये नेक काम कर रहे हैं। वहीं बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कोलकाता में 50 लाख रुपये के चावल गरीबों को बांटने का ऐलान किया है। वहीं टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने लोगों से प्रधानमंत्री राहत कोष में दान देने की लोगों से अपील की है। 

अगली खबर