'बायो बबल' पर सवाल उठाने वाले क्रिकेटरों में स्टार्क भी हुए शामिल, दिया ये बयान

Mitchell Starc on Bio Bubble: ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क भी उन दिग्गजों की फेहरिस्त में शामिल हो गए हैं जो लंबे समय तक बायो-बबल (जैविक सुरक्षित माहौल) के पक्ष में नहीं हैं।

Mitchell Starc
मिचेल स्टार्क  |  तस्वीर साभार: Twitter

कोरोना महामारी फैलने के बाद लंबे समय खेल गतिविधियां थमी रही थीं। उसके बाद इंग्लैंड ने क्रिकेट को दोबारा शुरू करने का फैसला किया और विदेशी टीम को अपने देश बुलाकर सीरीज खेली। हर सीरीज से पहले खिलाड़ियों को बायो-बबल में रहना पड़ता है। एक ऐसी व्यवस्था जहां बाहर से अंदर और अंदर से कोई बाहर नहीं जा सकता और साथ ही समय-समय पर कोविड टेस्ट भी किए जाते हैं। हालांकि बहुत से खिलाड़ी इससे ऊब गए हैं और लंबे समय तक इसको जारी रखने ेके पक्ष में नहीं हैं। ताजा नाम मिशेल स्टार्क का है।

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ मिशेल स्टार्क जैविक रूप से सुरक्षित माहौल (बायो बबल) में खिलाड़ियों के मानसिक स्वास्थ्य को लेकर चिंता जताने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो गए हैं और उनका कहना है कि लंबे समय तक ऐसी पाबंदियों के बीच रहना ‘व्यावहारिक’ नहीं है। दुनिया भर में फैली कोविड-19 महामारी के बीच क्रिकेट का आयोजन जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में किया जा रहा है और निकट भविष्य में स्थिति में सुधार होने की संभावना भी नहीं है। क्रिकेट.कॉम.एयू ने स्टार्क के हवाले से कहा, ‘‘यह लंबे समय तक चलने वाली जीवनशैली नहीं है।’’

कई खिलाड़ी अपने परिवार से लंबे समय से दूर हैं 

उन्होंने कहा, ‘‘आप होटल के कमरे में रह रहे हैं और बाहरी दुनिया से कोई संपर्क नहीं है। कई खिलाड़ियों ने अपने परिवारों या अपने बच्चों को लंबे समय तक नहीं देखा है, आईपीएल में खेलने वालों के साथ ऐसा है।’’ दुनिया भर के शीर्ष क्रिकेट अगस्त से यूएई में जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में इंडियन प्रीमियर लीग में हिस्सा ले रहे हैं और जब वे आगामी प्रतियोगिताओं को अपने देश के टीमों की ओर से खेलेंगे तो उन्हें फिर जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहना होगा।

भारत को करना है लंबा ऑस्ट्रेलियाई दौरा

मंगलवार को आईपीएल फाइनल के बाद भारतीय टीम आस्ट्रेलिया के लंबे दौरे पर रवाना होगी। भारतीय टीम के साथ स्टीव स्मिथ, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड और डेविड वार्नर जैसे आस्ट्रेलिया के शीर्ष क्रिकेटर भी रवाना होंगे जो विभिन्न आईपीएल टीमों का हिस्सा हैं। अन्य खिलाड़ियों में इंग्लैंड की टीम आईपीएल समाप्त होने के एक पखवाड़े के भीतर सीमित ओवरों के छह मैचों के लिए दक्षिण अफ्रीका जाएगी जबकि वेस्टइंडीज को न्यूजीलैंड के दौरे पर रवाना होना है।

बड़ सवाल, कब तक ऐसे रह सकते हैं?

स्टार्क ने बायो बबल के मॉडल पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘‘यह मुश्किल स्थिति है- हमें क्रिकेट खेलने को मिल रहा है इसलिए हम अधिक शिकायत नहीं कर सकते लेकिन खिलाड़ियों, स्टाफ और अधिकारियों की बेहतरी को देखते हुए आप जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में कब तक रह सकते हो?’’ इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली के अलावा इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन और वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर भी खिलाड़ियों के मानसिक स्वास्थ्य को लेकर चिंता जता चुके हैं।

कोहली ने कहा था कि जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने के कारण होने वाला ‘दोहराव’ क्रिकेटरों के लिए मानसिक रूप से मुश्किल हो सकता है और अगर सुरक्षित माहौल में खेलना नियम बनता है तो दौरे के समय पर विचार किया जाना चाहिए।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर