एलेस्टर कुक से टेस्ट कैप हासिल कर गौरान्वित महसूस कर रहे हैं जेसन रॉय 

क्रिकेट
Updated Jul 28, 2019 | 23:09 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

एशेज सीरीज के लिए टेस्ट टीम में जगह हासिल करने के बाद जेसन रॉय ने एलेस्टर कुक के हाथों टेस्ट कैप हासिल करने को गौरव का पल करार दिया है।

Jason Roy Alastair Cook
एलेस्टर कुक से टेस्ट कैप हासिल करते जेसन रॉय  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • विश्व कप के बाद आयरलैंड के खिलाफ जेसन रॉय ने किया टेस्ट डेब्यू
  • एलेस्टर कुक ने जेसन रॉय को दी टेस्ट कैप
  • एशेज सीरीज के पहले टेस्ट के लिए भी रॉय को मिली है टीम में जगह

लंदन: विश्व कप 2019 में अपने बल्ले से धमाल मचाने वाले इंग्लैंड के ओपनर जेसन रॉय ने हाल ही में लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर टेस्ट डेब्यू किया। नाटकीय रहे इस टेस्ट मैच की पहली पारी में इंग्लैंड की टीम महज 85 रन बनाकर ढेर हो गई। इंग्लैंड के लिए पारी की शुरुआत करने आए अपनी पहली टेस्ट पारी में महज 5 रन बना सके। इसके बाद आयरलैंड ने पहली पारी में 122 रन की बढ़त हासिल कर ली। ऐसे में मैच इंग्लैंड की पकड़ से खिसकता दिख रहा था तो दूसरी पारी में डब्यूटेंट जेसन रॉय ने जैक लीच (92)के साथ मिलकर इंग्लैंड को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। राय ने दूसरी पारी में 72 रन की पारी खेली। इंग्लैंड की टीम ने दूसरी पारी में 303 रन बनाए और आयरलैंड के सामने जीत के लिए 182 रन का लक्ष्य रखा। इसके बाद अनुभवी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड और क्रिस वोक्स ने कहर बरपाते हुए आयरलैंड की टीम को दूसरी पारी में महज 38 रन पर ढेर करके तीसरे ही दिन अपनी टीम को 143 रन के अंतर से जीत दिला दी। 

जेसन रॉय अपने पहले टेस्ट में कुल 77 रन बनाने में सफल रहे। ऐसे में उन्हें अब 1 अगस्त से शुरू हो रही एशेज सीरीज के पहले टेस्ट के लिए घोषित 14 सदस्यीय टीम में भी शामिल किया गया है। ऐसे में रॉय ने एलेस्टर कुक के हाथों टेस्ट कैप हासिल करते हुए एक वीडियो साझा किया और लिखा, 'इस महान दिग्गज खिलाड़ी के हाथे से टेस्ट कैप हासिल करना सम्मान की बात है। उनकी जगह को भर पाना मुश्किल काम है।'

 


विश्व कप में बनाए 7 पारी में  443 रन

रॉय ने हाल ही में संपन्न हुए विश्व कप में इंग्लैंड को चैंपियन बनाने में अहम योगदान दिया। विश्व कप में रॉय ने टीम के लिए पारी की शुरुआत करते हुए 7 पारियों में 443 रन बनाए। बीच में चोट के कारण वो कुछ मैचों में नहीं खेले। ऐसे में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच गंवाकर मेजबान टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने की संभावनाओं को झटका लगा था लेकिन रॉय के वापस लौटते ही इंग्लैंड की टीम ने भारत और न्यूजीलैंड को मात देकर सेमीफाइनल में एंट्री कर ली। इसके बाद जो कुछ हुआ वो अब इंग्लैंड क्रिकेट का सुनहरा इतिहास है। 

 

 

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में है शानदार रिकॉर्ड 

जेसन रॉय इंग्लैंड की सीमित ओवरों की टीम का हिस्सा लगतार बने रहे हैं। अब उन्हें  29 साल की उम्र में टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिला। उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अच्छा रिकॉर्ड रहा है। अब तक खेले 82 प्रथम श्रेणी मैच में उन्होंने 38.39 के औसत और 82.17 के स्ट्राइक रेट से 4722 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 9 शतक और 23 अर्धशतक निकले हैं। उनका उच्चतम स्कोर 143 रन रहा है। ऐसे में पिछले साल भारत के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के बाद एलेस्टर कुक ने संन्यास ले लिया था। तब से इंग्लैंड की टीम नए टेस्ट ओपनर की तलाश में जुटी है। ऐसे में रॉय को विश्व कप के बाद अपनी किस्मत टेस्ट क्रिकेट में आजमाने का मौका मिला है। देखते हैं एशेज में उनका बल्ला किस रंग में नजर आता है। 
 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर