भारत के पहले ऐतिहासिक Day Night Test से जुड़ी ये रोचक बातें जरूर जानना चाहेंगे आप

क्रिकेट
Updated Nov 22, 2019 | 19:57 IST

Day-Night Test Interesting Facts: भारतीय क्रिकेट टीम के पहले डे नाइट टेस्ट मैच के दौरान कई रोचक वाकये पहली बार देखने को मिले। जानिए इस मैच से जुड़ी रोचक बातें।

indian cricket team
Indian Cricket Team   |  तस्वीर साभार: AP

कोलकाता: भारत और बांग्लादेश के बीच कोलकाता के इडेन गार्डन्स में डे नाइट टेस्ट का आगाज शुक्रवार को हो गया। इस ऐतिहासिक पल का गवाह बनने लगभग 40 हजार दर्शक उमड़े। दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों के साथ-साथ दोनों देश के क्रिकेट प्रशंसकों के लिए ये पहला अनुभव है। ऐसे में इस मैच का हर एक पल नया इतिहास रच रहा है। आइए जानते हैं इस मैच से जुड़ी पहली रोचक बातें जो हमेशा के लिए रिकॉर्ड बुक्स में दर्ज हो गईं। 

पहला मैदान: कोलकाता का इडेन गार्डन्स भारतीय उपमहाद्वीप में डे-नाइट टेस्ट की मेजबानी करने वाला पहला स्टेडियम बन गया है। जबकि एशिया में डे नाइट टेस्ट की मेजबानी करने वाला दूसरा मैदान बना। इससे पहले दुबई के शेख जायद स्टेडियम में साल 2016 में पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच डे नाइट टेस्ट खेला गया था।

पहले कप्तान: विराट कोहली और मोमिनुल हक अपने-अपने देश के लिए पिंक बॉल टेस्ट में कप्तानी करने वाले पहले कप्तान बन गए हैं। मैच में मोमिनुल हक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। 

पहली गेंद: इशांत शर्मा भारत के लिए डे नाइट टेस्ट में पहली गेंद फेंकने वाले गेंदबाज बन गए। उन्होंने टीम इंडिया के लिए गेंदबाजी की शुरुआत की। बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज शादमाम इस्लाम ने इस मैच में पहली गेंद का सामना किया। 

पहला रन: बांग्लादेश के ओपनर इमरूल कायेस ने दूसरे ओवर की दूसरी गेंद पर मैच का पहला रन बनाया। उन्होंने गेंद को फाइन लेग की दिशा में भेजकर पहला रन पूरा किया। 

पहला चौका: भारत बांग्लादेश डे-नाइट टेस्ट में पहला चौका शादमाम इस्लाम ने जड़ा। उन्होंने पारी के चौथे ओवर में उमेश यादव की गेंद को बैकवर्ड प्वाइंट की दिशा सीमारेखा के पार भेज दिया। 

पहला विकेट: पिंक बॉल टेस्ट में भारत के लिए पहला विकेट इशांत शर्मा के नाम दर्ज हुआ। इशांत ने पारी के सातवें ओवर की तीसरी गेंद पर इमरुल कायेस को एलबीडब्ल्यू कर पवेलियन वापस भेज दिया। 

पहला डक: बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक पिंक बॉल टेस्ट में बांग्लादेश के लिए खाता खोले बगैर आउट होने वाले पहले बल्लेबाज बन गए। उमेश यादव की गेंद पर स्लिप पर वो रोहित शर्मा के हाथों लपके गए। उन्होंने 7 गेंद खेली लेकिन अपना खाता नहीं खोलने में नाकाम रहे। 

पहला कैच: रोहित शर्मा उमेश यादव की गेंद पर मोमिनुल हक का स्लिप पर कैच लपकते ही पिंक बॉल टेस्ट में भारत के लिए पहला कैच लपकने वाले खिलाड़ी बन गए। उन्होंने एक हांथ से शानदार डाइव लगाकर ये उपलब्धि हासिल की।

पारी में पहले पांच विकेट: इशांत शर्मा भारत के लिए पिंक बॉल टेस्ट की एक पारी में पांच विकेट लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने 12 ओवर में 22 रन देकर पांच विकेट लिए।  

भारत के लिए पहला रन: मयंक अग्रवाल ने भारत के लिए पहला रन पिंक बॉल टेस्ट में बनाया। उन्होंने अल अमीन की पहली गेंद को बाउंड्री के पार पहुंचाकर पिक बॉल के भारत के लिए पहला रन बनाया। 

पहला छक्का: भारत के लिए पिंक बॉल टेस्ट में पहला छक्के हिटमैन रोहित शर्मा ने जड़ा। उन्होंने पारी के पहले ओवर की पांचवीं गेंद को स्कवैर लेग की दिशा में छक्के के लिए पहुंचा दिया। 

बांग्लादेश के लिए पहला विकेट: अल अमीन ने मयंक अग्रवाल को आउट करके पिंक बॉल टेस्ट में बांग्लादेश के लिए पहला विकेट हासिल किया। 

पहला कन्कशन सब्स्टीट्यूट: मेहदी हसन डे नाइट क्रिकेट इतिहास के पहले कन्कशन सब्सटीट्यूट बन गए हैं। उन्हें टीम में लिटन दास की जगह शामिल किया गया। इस मैच में तैजुल इस्लाम नईम हसन की जगह भी टीम में कन्कशन सब्स्टीट्यूट के रूप में शामिल हुए। टेस्ट इतिहास में पहली बार एक मैच और एक पारी में एक ही टीम मे दो बार कन्कश्न सब्स्टीट्यूट नियम का इस्तेमाल किया। 

पहला अर्धशतक: भारत के लिए पिंक बॉल टेस्ट में पहला अर्धशतक चेतेश्नर पुजारा ने जड़ा। पुजारा ने 93 गेंदों में 8 चौकों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। 
 

अगली खबर
भारत के पहले ऐतिहासिक Day Night Test से जुड़ी ये रोचक बातें जरूर जानना चाहेंगे आप Description: Day-Night Test Interesting Facts: भारतीय क्रिकेट टीम के पहले डे नाइट टेस्ट मैच के दौरान कई रोचक वाकये पहली बार देखने को मिले। जानिए इस मैच से जुड़ी रोचक बातें।
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...