इस फॉर्मूले से टीम इंडिया को पाकिस्‍तान के खिलाफ मिली सफलता, आगे भी जारी रखना चाहिए

India cricket team in Asia Cup 2022: भारतीय टीम ने चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्‍तान को 5 विकेट से हराकर एशिया कप में अपने अभियान की शानदार शुरुआत की। भारतीय टीम की रणनीति इस मुकाबले में काफी सफल रही। वो इसी को टूर्नामेंट में आगे बढ़ाने की कोशिश करेगी।

Hardik Pandya
हार्दिक पांड्या 
मुख्य बातें
  • भारतीय टीम ने पाकिस्‍तान को 5 विकेट से मात दी
  • भारतीय टीम ने शॉर्ट पिच गेंदों का अच्‍छा उपयोग किया
  • एशिया कप में आगे भी यह रणनीति कारगर साबित हो सकती है

नई दिल्ली: रोहित शर्मा की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप 2022 के अपने शुरूआती मैच में शानदार प्रदर्शन किया, जिससे उन्होंने एक रोमांचक जीत दर्ज की। भारत ने शॉर्ट बॉल गेंदबाजी से पाक को धराशायी कर दिया। पाक बल्लेबाजों को परेशान करने के लिए शॉर्ट पिच गेंदों का अच्छे से उपयोग किया और बाएं हाथ के आलराउंडर रवींद्र जडेजा को रन चेज के दौरान नंबर 4 पर भेजना भारत के लिए एक अच्छा निर्णय था।

खैर, ऐसा नहीं था कि भारतीय टीम ने इस तरीके का निर्णय पहले कभी नहीं लिया था। लेकिन, भारत और पाकिस्तान जैसे हाई प्रेशर मैच में ये छोटी-छोटी बातें विरोधियों को मात देने में बहुत बड़ी भूमिका निभाती हैं, जो रविवार को सभी ने देखा। भारत की जीत के सूत्रधार भारतीय तेज गेंदबाज थे। यह पहली बार था, जब भारत ने टी20 पारी में सभी 10 विकेट तेज गेंदबाज ने लिए हैं। इसलिए निश्चित रूप से मैच में तेज गति का प्रभाव देखा जा सकता था और सबसे दिलचस्प बात यह थी कि पाकिस्तान के 10 में से पांच विकेट शॉर्ट पिच गेंदों पर आए थे, जो आमतौर पर इस तरीके से विकेट लेने में भारतीय तेज गेंदबाजों को विशेष रूप से वनडे और टी20 के मैच के लिए नहीं जाना जाता है।

दुबई में आमतौर पर स्पिनरों के अनुकूल विकेट होते हैं, लेकिन चूंकि अगस्त साल के सबसे गर्म महीनों में से एक है, इसलिए पिच क्यूरेटरों ने लंबी अवधि के लिए ट्रैक को बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में घास छोड़ी है, जिससे एक के बाद एक मैच होने से उनका काम भी आसान नहीं होता है। पिच से स्विंग और टर्न की कमी थी, लेकिन तेज गेंदबाजों को उछाल मिल रही थी, जिसने भारतीय तेज गेंदबाजों को रविवार को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में अच्छी लेंथ से तेज गेंदबाजी करने में मदद की।

भारत के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने भारत के प्लान को सफल बनाया क्योंकि वह 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की, जिससे उन्हें तीन विकेट मिले। हार्दिक ने इफ्तिखार अहमद, मोहम्मद रिजवान और खुशदिल शाह को शॉर्ट पिच गेंद पर पवेलियन भेजा था। हालांकि, यह सब 'शॉर्ट बॉल रणनीति' की शुरूआत भुवनेश्वर कुमार के साथ शुरू की थी। अनुभवी तेज गेंदबाज ने पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को आउट करने के लिए शॉर्ट गेंद का इस्तेमाल किया था।

32 वर्षीय भुवनेश्वर ने गेंदबाजी योजना के बारे में बताया। वह 2022 में 18 टी20 में 24 विकेट चटका कर भारत के लिए सफल गेंदबाज रहे हैं। भुवनेश्वर ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, 'पहली गेंद फेंकने से पहले, मुझे लगा कि यह स्विंग करने वाली है। लेकिन किसी गेंद को स्विंग नहीं मिल रही थी, लेकिन मैंने देखा कि थोड़ी उछाल थी। हमें पता था कि हमें विकेट से मदद लेना है। इसलिए पारी के ब्रेक में शॉर्ट बॉलिंग की योजना बनाई गई थी।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर