एमएसके प्रसाद ने कहा, सभी फॉर्मेट में तैयार कर रहे हैं रिषभ पंत का विकल्प

क्रिकेट
Updated Sep 20, 2019 | 13:55 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा है कि सभी फॉर्मेट के लिए रिषभ पंत का विकल्प तलाश रही है चयन समिति।

Rishabh Pant
रिषभ पंत ( साभार BCCI)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • एमएसके प्रसाद ने कहा रिषभ पंत हमारी पहली पसंद
  • लापरवाही से अपना विकेट गंवा रहे हैं रिषभ
  • केएस भरत, संजू सैमसन और इशान किशन हैं पंत के विकल्प

नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली में खेले गए टी-20 मैच में एक बार फिर अपनी लापरवाह बल्लेबाजी से निराश करने वाले रिषभ पंत के लिए बुरी खबर आई है। टीम इंडिया में महेंद्र सिंह धोनी का उत्तराधिकारी माने जा रहे रिषभ पंत के विकल्प की तलाश चयनकर्ताओं ने शुरू कर दी है। इस बात की घोषणा मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने की है। उन्होंने कहा है कि रिषभ पंत हमारी पहली पसंद बने रहेंगे लेकिन हमने सभी फॉर्मेट में उनके विकल्प की तलाश शुरू कर दी है। प्रसाद के इस बयान को पंत के लिए खतरे की घंटी माना जा सकता है। 

बुधवार को मोहाली में खेले गए टी-20 मुकाबले में पंत एक बार फिर बल्ले से नाकाम रहे। मैच में पांचवीं गेंद का सामना करते हुए पंत शॉर्ट फाइनलेग में लपके गए। वो केवल चार रन बना सके। लेकिन पंत के समर्थक माने जाने वाले एमएसके प्रसाद ने केएस भरत, संजू सैमसन, इशान किशन को पंत का विकल्प बताया है। 

पंत पर पड़ने वाले वर्कलोड पर बात करते हुए प्रसाद ने कहा, हम पंत के ऊपर पड़ने वाले वर्कलोड का आकलन कर रहे हैं। निश्चित तौर पर हम सभी फॉर्मेट के लिए विकल्प भी तैयार कर रहे हैं। हमारे पास केएस भरत हैं जो इंडिया ए के साथ बड़े फॉर्मेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं छोटे फॉर्मेट में हमारे पास संजू सैमसन और इशान किशन हैं। दोनों ही इंडिया ए के साथ साथ घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। 

हालांकि प्रसाद ने कहा, चयन समिति को सीमित ओवरों की क्रिकेट में खराब फॉर्म के बावजूद पंत पर पूरा विश्वास है। उन्होंने कहा, मैं पहले भी यह कह चुका हूं कि विश्व कप के बाद हम रिषभ की प्रगति का आकलन कर रहे हैं। उनके अंदर जितनी प्रतिभा है उसे देखते हुए हमें धैर्य रखना चाहिए। 

ढाई साल पहले अंतरराष्ट्रीय डेब्यू करने वाले पंत का टी-20 में औसत 20.40 का है।अब तक खेले 19 टी-20 मैच की 18 पारियों में उन्होंने कुल 306 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से दो अर्धशतक निकले हैं। ऐसे में वो अब तक टीम मैनेजमेंट की आशाओं पर खरे नहीं उतरे हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी-20 में नाबाद 65 रन की पारी खेलने के अलावा वो अब तक कोई बड़ा कारनामा नहीं कर सके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने 3,1 रन की पारी खेली। वहीं वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरुआती दो मैचों में 0,4 रन बनाए। ऐसा ही बुधवार को द. अफ्रीका के खिलाफ भी हुआ जहां वो 4 रन की पारी खेल सके। 

पंत को श्रेयस अय्यर से पहले नंबर 4 पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था। तब टीम इंडिया को जीत के लिए 50 गेंद में 56 रन की दरकार थी। विराट कोहली अपना 22वां टी-20 अर्धशतक जड़कर एक छोर थामे हुए थे। ऐसे में उनकी जिम्मेदारी दूसरे छोर पर खड़े होकर विराट का साथ देने की थी लेकिन केवल 5 गेंद का सामना करने के बाद पंत अपना विकेट फेंककर वापस पवेलियन लौट आए। गेंद उनके बल्ले का किनारा लेते हुए शॉर्ट फाइन लेग में खड़े तबरेज शमसी के हाथों में समा गई। 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...