गौतम के 'गंभीर' बोल- धोनी के पास दोबारा क्‍यों जाना, युवाओं पर होना चाहिए पूरा ध्‍यान

क्रिकेट
Updated Sep 30, 2019 | 14:12 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

गौतम गंभीर ने कहा कि एमएस धोनी के संन्‍यास का फैसला व्‍यक्तिगत होगा, लेकिन भारतीय टीम को उनके पास दोबारा जाने के बजाय युवाओं पर ध्‍यान देना चाहिए।

ms dhoni
एमएस धोनी 

मुख्य बातें

  • एमएस धोनी ने 2019 विश्‍व कप के सेमीफाइनल के बाद से भारत के लिए मैच नहीं खेला
  • गौतम गंभीर ने कहा कि भारतीय क्रिकेट का भविष्‍य प्राथमिकता होनी चाहिए
  • गंभीर के मुताबिक धोनी के पास दोबारा जाने से बेहतर युवाओं को तैयार करना है

नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर उन चुनिंदा खिलाडि़यों में से एक हैं जो अपने दिमाग की बात कहने में हिचकिचाते नहीं हैं जब बात क्रिकेट से संबंधित होती है। क्रिकेट फैंस के बीच इस समय सबसे पसंदीदा विषय टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान और गंभीर के टीम साथी एमएस धोनी का संन्‍यास है। गंभीर भी इस विषय पर अपनी राय रखने से खुद को रोक नहीं पाए। गंभीर ने एक मीडिया संस्‍था को दिए इंटरव्‍यू में धोनी से संबंधित मामले पर खुलकर अपनी राय व्‍यक्‍त की। गंभीर से पूछा गया कि धोनी के संन्‍यास के बारे में क्‍या सोचते हैं, इस बात का विशेष ध्‍यान रखते हुए कि अनुभवी विकेटकीपर बल्‍लेबाज ने विश्‍व कप 2019 में भारत के बाहर होने के बाद से कोई मैच नहीं खेला है।

गंभीर ने कहा कि संन्‍यास लेने का फैसला व्‍यक्तिगत होगा, लेकिन उन्‍हें धोनी अगले विश्‍व कप (2020 टी20 विश्‍व कप) में खेलते हुए नहीं दिखते हैं। पूर्व ओपनर ने कहा, 'मुझे लगता है कि संन्‍यास लेने का फैसला व्‍यक्तिगत होता है। जब तक आपको लगता है कि आप खेल सकते हैं तब तक खेलना चाहिए। मगर आपको भविष्‍य पर भी ध्‍यान देने की जरुरत है। मुझे धोनी अगले विश्‍व कप में खेलते हुए नजर नहीं आते हैं।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'तो जो भी कप्‍तान रहे, विराट या कोई और, उसे यह कहने का हौसला होना चाहिए कि यह खिलाड़ी हमारी योजना में फिट नहीं होता। अगले चार से पांच सालों में आपको युवाओं को बढ़ाना होगा क्‍योंकि यह सिर्फ धोनी की नहीं बल्कि देश की बात है।' गंभीर का मानना है कि युवा विकेटकीपरों रिषभ पंत और संजू सैमसन जैसे खिलाडि़यों को ज्‍यादा मौके मिलने चाहिए बजाय धोनी के पास वापस जाने के लिए।

गंभीर ने कहा, 'यह धोनी के अगले विश्‍व कप खेलने की बात नहीं है बल्कि अगला विश्‍व कप जीतने की बात है। आप ऐसे में रिषभ पंत या संजू सैमसन को मौका देना पसंद करेंगे या फिर किसी भी युवा खिलाड़ी को मौका देना पसंद करेंगे। मेरे ख्‍याल से इन्‍हें मौके मिलने चाहिए। मुझे लगता है कि भारतीय क्रिकेट को धोनी के अलावा अन्‍य विकल्‍पों पर ध्‍यान देना चाहिए।'

इससे पहले धोनी के पूर्व टीम इंडिया के साथी युवराज सिंह ने भी इस सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की थी। युवराज ने कहा था, 'मेरे ख्‍याल से बार-बार उनके संन्‍यास की बात नहीं की जाना चाहिए। धोनी ने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है। वह सबसे सफल भारतीय कप्‍तान हैं, तो आपको उन्‍हें समय देना चाहिए। उन्‍हें फैसला लेने की जरुरत है कि कब संन्‍यास लेना है। उन्‍हें इस बारे में फैसला लेना है। अगर वह अभी भी खेलना चाहते हैं तो फिर वह उनका कॉल होगा और हमें इसकी इज्‍जत करनी चाहिए।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर